scorecardresearch

सर्दियों में दिल की सेहत को न करें अनदेखा, इन बातों का रखें खास ख्याल

सर्दी के मौसम में दिल के रोगियों को खास ख्याल रखना चाहिए। ठंड में हार्ट अटैक का खतरा अधिक बढ़ जाता है।

Heart problems|winter care|health
सर्दी में बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा (फोटो क्रेडिट-इंडियन एक्प्रेस)

सर्दी शुरू होते ही कई बीमारियां भी बढ़ जाती है। सर्दी में सबसे अधिक परेशानी बुजुर्गों और बच्चों में देखी जाती है। सर्दी के साथ ही कई लोगों में दिल से जुड़ी समस्याएं बढ़ जाती हैं। विशेषज्ञों की मानें तो दिल के मरीजों को सर्दियों में खास ख्याल रखना चाहिए। देखा जाता है कि सर्दी के मौसम में अस्पतालों में दिल की परेशानी के जूझ रहे बुजुर्गों की संख्या बढ़ जाती है।

इस कारण होती है दिल की परेशानी: ठंड के मौसम में तापमान कम होने के कारण शरीर में खून का संचार धीमा हो दाता है। जिसके कारण दिल के मरीजों को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। सर्दी में ब्लड वेसल्स सिकुड़ने लगते हैं और खून का संचार कम हो जाता है। जिस कारण दिल तक ऑक्सीजन पहुंचने में दिक्कत आने लगी है। जिस वजह से हार्ट फेलियर भी हो सकता है।

डॉक्टरों की सलाह है कि सर्दियों में दिल के रोग से बचने के लिए खास ख्याल रखना चाहिए। ऐसे रखें ख्याल

ठंड से करें बचाव: जो लोग दिल के मरीज हैं या बुजुर्ग हैं, उन्हें सर्दी से बचकर रहना चाहिए। ठंड के मौसम में खुद को गर्म रखने के लिए सही कपड़ों का चयन करना आवश्यक है। इसके साथ ही गर्म चीजों का सेवन करना चाहिए।

कोहरे से बचें: कई लोगों का मानना है कि मॉर्निंग वॉक उन्हें सेहतमंद रखती है। लेकिन सर्दियों में कोहरा छाया रहता है, जो सांस के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे में खासकर बुजुर्गों को सूरज निकलने के बाद ही वॉक पर जाना चाहिए।

वसा वाला भोजन न करें: सर्दी के मौसम में पानी कम पिया जाता है। जिसके कारण पाचन ठीक नहीं रहता है। ऐसे में आसानी से पचने वाला भोजन ही करें। वसायुक्त भोजन करने से रक्तवाहिनियां सिकुड़ जाती है, जिसके कारण रक्तसंचार ठीक प्रकार से नहीं हो पाता और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

वक्त-वक्त पर कराएं ब्लड प्रेशर की जांच: जिन लोगों को ब्लड प्रेशर की परेशानी है, उन्हें नियमित रूप से अपनी जांच करानी चाहिए। इसके साथ ही जो रोज कुछ समय के लिए धूप में जरूर बैठें। सूरज की किरणों से मिलने वाला विटामिन-डी दिल की सेहत के लिए बेहद जरूरी होता है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट