ताज़ा खबर
 

Happy Mahavir Jayanti 2019: बिहार में हुआ था जैन समाज के 24वें तीर्थंकर का जन्म, इस वजह से कहलाए ‘महावीर’

Happy Mahavir Jayanti 2019: हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में त्रयोदशी के दिन महावीर जयंती का पर्व मनाया जाता है। इस बार यह तिथि 17 अप्रैल (बुधवार) को पड़ी है। जैन समाज धूमधाम से यह पर्व मना रहा है।

Happy Mahavir Jayanti 2019

Happy Mahavir Jayanti 2019: आज महावीर जयंती है यानी जैन समाज के 24वें तीर्थंकर महावीर स्वामी का जन्मदिवस। बिहार में जन्मे महावीर का असली नाम यह नहीं था। लिच्छवी वंश के इस राजकुमार को वर्धमान कहा जाता था। इनके महावीर बनने की अलग ही कहानी है। आइए रूबरू होते हैं इस रोचक इतिहास से।

इस दिन मनाया जाता है यह त्योहार : हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में त्रयोदशी के दिन महावीर जयंती का पर्व मनाया जाता है। इस बार यह तिथि 17 अप्रैल बुधवार को आई है। ऐसे में जैन समाज के लोग धूमधाम से यह पर्व मना रहे हैं। बता दें कि महावीर स्वामी ने लोगों को सत्य और अहिंसा का मार्ग दिखाया था।

National Hindi News, 17 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर खबर पढ़ें एक क्लिक पर

इस वजह से कहलाने लगे महावीर : बिहार के लिच्छवी वंश में भगवान महावीर का जन्म हुआ था। उनके बचपन का नाम वर्धमान था। उन्होंने महज 30 साल की उम्र में राजमहल के सुख का त्याग कर दिया था। करीब साढ़े 12 वर्ष की तपस्या के बाद उन्होंने सभी इच्छाओं व विकारों पर काबू पा लिया तो उन्हें महावीर कहा जाने लगा।

लोगों को दी सीख : भगवान महावीर ने दुनिया को अहिंसा व अपरिग्रह का संदेश दिया। उन्होंने बताया कि अगर हम किसी की मदद करने में सक्षम हैं, लेकिन उसकी सहायता नहीं करते हैं तो यह भी हिंसा की श्रेणी में आता है। उन्होंने दुनिया को जीवों से प्रेम करने की सीख दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App