ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसी में बालों के झड़ने से हैं परेशान तो काम आ सकते हैं ये टिप्स

प्रेग्नेंसी के दौरान हॉर्मोन्स में होने वाले बदलाव की वजह से बाल गिरने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप भी बार गिरने की समस्या से परेशान है तो इन टिप्स का इस्तेमाल किया जा सकता है।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में कई तरह के बदलवा होते हैं। साथ ही कई तरह की समस्याएं भी सामने आती हैं। इनमें से एक बाल झड़ने की समस्या भी है। प्रेग्नेंसी के दौरान हॉर्मोन्स में होने वाले बदलाव की वजह से बाल गिरने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। अकसर देखा गया है कि प्रेग्नेंसी के पहले से पांचवें महीने तक या डिलवरी के बाद पांच महीनों तक भी बाल गिरने की समस्या हो सकती है। हालांकि रिपोर्ट्स के मुताबिक जो महिलाएं पहली बार मां बनती हैं उन्हें ज्यादा घबराने की जरूर नहीं है, क्योंकि कुछ वक्त बाद वे महिलाएं दोबारा घने बाल पा सकती हैं। लेकिन सभी प्रेग्नेंट महिलाओं के साथ ऐसा नहीं है। आइए आज हम आपको ऐसे टिप्स बता रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आप बाल गिरने की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

कंडीशनर का इस्तेमाल: बालों की हेल्थ के लिए जितना जरूरी शैंपू करना होता है उतना ही जरूरी कंडीशनर होता है। इसलिए बाल गिरने की समस्या से बचने के लिए कंडीशनर का इस्तेमाल फायदेमंद हो सकता है। जब भी बाल धोएं उसके बाद कंडीशनर का इस्तेमाल करें। अगर आपके बाल ऑइली, ड्राय या फिर नॉर्मल हैं तो उसी हिसाब से अपना कंडीशनर चुनें।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16699 MRP ₹ 16999 -2%
    ₹0 Cashback

अच्छी डाइट लें: प्रग्नेंसी के दौरान डाइट का खास ख्याल रखा जाना चाहिए। यह बच्चे के विकास के लिए तो मददगार है ही इसके अलावा कई तरह की समस्याओं से निपटने में मदद मिलती है। प्रेग्नेंसी के दौरान आपकी डाइट में विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, बायोटिन, विटामिन सी, विटामिन ई, जिंक, प्रोटीन और आयरन शामिल होना चाहिए। इससे बाल गिरने की समस्या भी दूर हो सकती है। इसके अलावा समय-समय पर डॉक्‍टर से सलाह भी जरूरी है।

हेड मसाज करें: बालों को धोने के लिए पानी के तापमान का ख्याल रखना भी जरूरी होता है। प्रेग्नेंट महिलाएं ठंडे या गरम पानी के बजाए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करना चाहिए। बाल धोने के बाद थोड़ी देर के लिए सिर की मसाज करनी चाहिए। इससे सिर में ब्‍लड सर्कुलेशन बना रहता है और बाल हेल्‍दी होते हैं।

कलर का इस्तेमाल: प्रेग्नेंसी के दौरान बालों का कलर करना नुकसानदायक हो सकता है। क्योंकि इन दिनों में बाल जल्दी डैमेज हो सकते हैं। हालांकि हिना का इस्तेमाल किया जा सकता है, क्‍योंकि वह पूरी तरह से प्राकृतिक होता है। लेकिन कैमिकल्‍स युक्त कलर के इस्तेमाल से बचें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App