ताज़ा खबर
 

गुड़ी पड़वा 2017: मराठी नववर्ष पर अपनों को इस तरह दें शुभकामनाएं

इस साल यह त्योहार को दो अलग-अलग दिनों पर मना जाएगा। इस त्यौहार को विशेष रुप से मराठी और गोवा के लोग मनाते हैं।

पारंपरिक रूप से गुड़ी पड़वा को जीत और आध्यामिक समृद्धि का प्रतीक है

गुड़ी पड़वा हिन्दू नववर्ष के रूप में मनाया जाता हैं। महाराष्ट्र में इस त्योहार की अलग ही रौनक देखने को मिलती है। इस साल यह त्योहार को दो अलग-अलग दिनों पर मना जाएगा। इस त्यौहार को विशेष रुप से मराठी और गोवा के लोग मनाते हैं। अपने पंचाग के अनुसार मराठी समाज के लोग इसे 28 मार्च को मनाएंगे। वहीं बाकी जगह 29 मार्च को मनाया जाएगा। महाराष्ट्र में इस दिन को लोग अपने परिवारवालों और दोस्तों के साथ मनाते हैं और इस दिन महाराष्ट्र में सभी लोग अपने घरों में गुड़ी की स्थापना करते हैं। गुड़ी एक बांस का डंडा होता है जिसे हरे या पीले रंग के कपड़े से सजाया जाता है। इस कपड़े को बांस के डंडे पर सबसे ऊपर बांधा जाता है। इसके अलावा माला, इस पर नीम और आम के पत्तें भी बांधें जाते हैं। सबसे ऊपर तांबे या चांदी का लोटा रखा जाता है। पारंपरिक रूप से गुड़ी पड़वा को जीत और आध्यामिक समृद्धि का प्रतीक है। महाराष्ट्र के अलावा इस त्योहार को आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और कर्नाटक में उगादी के नाम से मनाया जाता है। गुड़ी पड़वा के शुभ दिन अपने परिवारवालों को इस शुभ दिन की शुभकामनाएं देते हैं। गुड़ी पड़वा के अवसर पर मराठी लोग अपने घरों में मोदक, पूरन पोली और श्रीखंड बनाते है। इस गुड़ी पड़वा आप भी अपनों को कुछ अच्छे संदेशों के साथ अच्छे स्वास्थय और खुशियों भरे जीवन की शुभकामनाएं दें।

एक ताजगी
एक सपना
एक सच्चाई
एक कल्पना
एक अहसास
एक विश्वास
यही है
अच्छे दिन और साल की शुरूआत
हैप्पी गुड़ी पड़वा

दोस्तों गुड़ी पड़वा आया
अपने साथ नया साल लाया
इस नए साल में आओ
मिलकर सब गले और
मनाए गुड़ी पड़वा दिल से
हैप्पी गुड़ी पड़वा।

पिछली यादें गठरी में बांधकर
करें नववर्ष का इंतजार
लाये खुशियों की बारात
ऐसी हो गुड़ी पड़वा की परम्परागत शुरूआत

नया दिन नई सुबह
चलो मनाए एक साथ
है यह गुड़ी पर्व का त्यौहार
दुआ करे सदा हम रहे साथ साथ

चारों तरफ हो खु​शियां ही खुशियां
मीठी पोरनपोली और गुजियां ही गुजियां
द्वारे सजे संदुर रंग की सौगात
आसामान में हर तरफ पंतगों की बारात
सभी का शुभ हो नववर्ष इस बार

वीडियो: मेष राशि वालों के लिए 26 मार्च-1अप्रैल का राशिफल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App