ताज़ा खबर
 

गुड़ी पड़वा 2018 पूजा शुभ मुहूर्त: कब है गुड़ी पड़वा का शुभ मुहूर्त? जानिए इसके बारे में रोचक जानकारी

Gudi Padwa 2018 Puja Vidhi, Muhurat: भारत में इस पर्व को अलग-अलग नामों से मनाया जाता है। आन्ध्र प्रदेश और तेलंगाना में 'गुड़ी पड़वा' को 'उगाड़ी' नाम से मनाते हैं।

Gudi Padwa 2018 Puja Muhurat: यह पर्व मुख्य रूप से महाराष्ट्र में मनाया जाता है।

Gudi Padwa 2018 Puja Muhurat: गुड़ी पड़वा के दिन हिंदू नववर्ष की शुरुआत होती है। गुड़ी का अर्थ विजय पताका होता है। माना जाता है इस दिन श्री ब्रह्मा जी ने सृष्टि का निर्माण किया था। आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और महाराष्ट्र के सभी हिस्सों में इस पर्व को बड़े धूम-धाम से मनाया जाता है। माना जाता है इस दिन से ही युगों में प्रथम सत्ययुग की शुरुआत हुई थी। इसके साथ ही कहा जाता है इस भगवान राम ने लंका के राजा रावण को पराजित किया था और इस दिन को भगवान राम के अयोध्या लौटने का दिन भी कहा जाता है। इस दिन घरों में विजय के प्रतीक स्वरूप गुड़ी सजाई जाती है।

यह पर्व मुख्य रूप से महाराष्ट्र में मनाया जाता है। इस दिन घरों में रंगोली बनाई जाती है। लोग अपने घर के दरवाजों पर आम के पत्तों की तोरण बांधते हैं। माना जाता है तोरण बांधने से घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती है। हिंदू पंचांग के अनुसार चैत्र माह साल का पहला महीना होता है। शास्त्रों के मुताबिक चैत्र नवरात्रि के दिन आदिशक्ति प्रकट हुईं थीं। माना जाता है आदिशक्ति के कहने पर ही ब्रह्मा जी ने सृष्टी की रचना की थी। इस दिन महान गणितज्ञ भास्कराचार्य ने चैत्र शुक्लपक्ष से सूर्योदय से सूर्यास्त तक दिन, मास और वर्ष की गणना कर पंचांग की रचना की थी। इसी कारण हिन्दू पंचांग का आरंभ भी गुड़ी पड़वा से ही होता है।

भारत में इस पर्व को अलग-अलग नामों से मनाया जाता है। आन्ध्र प्रदेश और तेलंगाना में ‘गुड़ी पड़वा’ को ‘उगाड़ी’ नाम से मनाते हैं। मणिपुर में यह दिन ‘सजिबु नोंगमा पानबा’ या ‘मेइतेई चेइराओबा’ के नाम से मनाया जाता है। गोवा और केरल में कोंकणी समुदाय इसे ‘संवत्सर पड़वो’ नाम से मनाया जाता है। कर्नाटक में ‘युगाड़ी’ नाम से जाना जाता है। कश्मीरी हिन्दू इस दिन को ‘नवरेह’ के तौर पर मनाते हैं।

गुड़ी पड़वा का मुहूर्त- चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में जिस दिन सूर्योदय के समय प्रतिपदा हो, उस दिन से नव संवत्सर आरंभ होता है। यदि प्रतिपदा दो दिन सूर्योदय के समय पड़ रही हो तो पहले दिन ही गुड़ी पड़वा मनाते हैं।

गुड़ी पड़वा तिथि 2018 – 18 मार्च 2018
गुड़ी पड़वा दिवस- रविवार
गुड़ी पड़वा समय- मराठी विक्रम संवत 2075
प्रतिपदा तिथि शुरू – 18:41 को 17 मार्च 2018 से
प्रतिपदा तिथि समाप्ति – 18: 18 को 18 मार्च 2018

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App