होंठों का रंग पड़ गया है काला तो अपनी आदतों में कर लें ये बदलाव, जानिये

धूम्रपान करने से होंठों का रंग काला पड़ जाता है, क्योंकि सिगरेट और तंबाकू के धुएं में निकोटिन और बेंजोपायरीन की मात्रा पाई जाती है, जिससे होंठ काले पड़ जाते हैं।

Lifestyle News, Darkness Of Lips, Lifestyle News
होठों का कालापन दूर करने के उपाय

खूबसूरत और गुलाबी होंठ पाने की चाह हर किसी की होती है। हर किसी की चाहत होती है कि उसके होंठ गुलाबी और नर्म हों। हालांकि हर व्यक्ति की स्किन टोन अलग-अलग होती है, ऐसे में उनके होंठों का रंग भी अलग होता है। लेकिन कभी-कभी खराब आदतों के कारण होंठो का रंग काला पड़ जाता है। वर्तमान समय में धूम्रपान, फास्ट फूड का अधिक सेवन, अनहेल्दी खानपान, अधिक मेकअप और केमिकलयुक्त ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने के कारण होंठों का रंग काला पड़ जाता है।

होंठों के कालेपन की अन्‍य वजहों में हाइपरपिग्मेंटेशन या मेलेनिन की अधिक मात्रा शामिल हैं। ऐसे में आप अपनी कुछ आदतों में बदलाव करके होंठों के कालेपन की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

होंठों को करें मॉइश्चराइज: अक्सर लोग अपने चेहरे की तो देखभाल करते हैं, लेकिन होंठों की देखभाल करना भूल जाते हैं। हाइड्रेशन और पोषण के अभाव के कारण होंठ ड्राई होकर काले पड़ जाते हैं। ऐसे में आप अपने लिप्स को शीया बटर या फिर लिपबाम के जरिए मॉइश्चराइज कर सकते हैं।

स्मोकिंग: धूम्रपान करने के कारण भी होंठों का रंग काला पड़ सकता है। क्योंकि सिगरेट और तंबाकू के धुएं में निकोटिन और बेंजोपायरीन पाया जाता है, जिसके कारण शरीर में मेलेनिन की मात्रा बढ़ जाती है और होंठ काले पड़ जाते हैं। ऐसे में आपको स्मोकिंग की आदत को तुरंत छोड़ देना चाहिए।

पानी की कमी: अगर आप पानी कम पी रहे हैं तो इसका असर होंठों के रंग पर देखने को मिलता है क्योंकि त्वचा में 70 प्रतिशत तक पानी मौजूद होता है। शरीर में पानी की कमी के कारण होंठ काले पड़ जाते हैं, ऐसे में व्यक्ति को नियमित तौर पर 8-10 गिलास पानी का सेवन करना चाहिए।

स्क्रब: अक्सर लोग अपने होंठों को स्क्रब नहीं करते, जिसके कारण उन पर मौजूद डेड स्किन सेल्स नहीं हट पाते। होंठों पर मृत कोशिकाओं के कारण वह काले पड़ जाते हैं। ऐसे में अगर आप गुलाबी होंठ पाना चाहते हैं तो अपने लिप्स पर नियमित तौर पर स्क्रबिंग करें।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट