scorecardresearch

Uric Acid: पैरों की तीन समस्याएं यूरिक एसिड बढ़ने के हैं संकेत, जानिए कैसे करें कंट्रोल

सेब का सिरका यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में बेहद असरदार होता है।

Uric Acid Symptoms,URIC ACID INCREASE, Limit purine-rich foods
यूरिक एसिड बढ़ने पर ये ज्वाइंट को जाम कर देता है और जोड़ों में दर्द और सूजन आ जाती है। (PHOTO-FREEPIK)

यूरिक एसिड का बढ़ना एक ऐसी बीमारी है जिसकी वजह से सबसे ज्यादा परेशानी पैरों में होती है। यूरिक एसिड बढ़ने से चलना-फिरना मुश्किल हो जाता है, पैरों में गांठ और सूजन भी आ जाती है। यूरिक एसिड ब्लड में पाया जाने वाला एक रसायन है जो हर किसी की बॉडी में बनता है और किडनी उसे फिल्टर करके बॉडी से बाहर निकाल देती है। जब बॉडी में प्यूरीन की मात्रा अधिक होती है और किडनी उसे फिल्टर करके बॉडी से बाहर नहीं निकाल पाती तो ये एसिड जोड़ों में जमा होने लगता है और बेहद तकलीफ देता है।

यूरिक एसिड बढ़ने का सबसे ज्यादा असर पैरों पर होता है। यूरिक एसिड बढ़ने से पैरों में अकड़न, जोड़ों में दर्द और सूजन की सबसे ज्यादा परेशानी होती है। यूरिक एसिड बढ़ने पर ये ज्वाइंट को जाम कर देता है, इसके बढ़ने से पैरों के टखनों में सूजन आ जाती है। आयुर्वेद के मुताबकि खट्टे फलों का अधिक सेवन करने से यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है। यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए सबसे जरूरी है डाइट पर कंट्रोल करें और व्यायाम करें। आप रेगुलर एक्सरसाइज और डाइट से यूरिक एसिड को कंट्रोल कर सकते हैं।

सेब का सिरका: सेब का सिरका यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में बेहद असरदार होता है। पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाकर रोजाना इसका सेवन करने से यूरिक एसिड कंट्रोल रहता है साथ ही पाचन भी ठीक रहता है।

अजवाइन का करें सेवन: यूरिक एसिड को कम करने के लिए अजवाइन बेहतरीन मसाला है। इसका सेवन करने से पैरों की सूजन और दर्द से राहत मिलती है। अजवाइन खाने से पेट की समस्याओं का भी उपचार होता है।

पानी का अधिक सेवन करें: हाई यूरिक एसिड को कंट्रोल में रखना है तो ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें। पानी का अधिक सेवन करने से यूरिक एसिड पतला होता है, साथ ही किडनी बॉडी से टॉक्सिन आसानी से बाहर निकालते हैं।

खाने में करें जैतून के तेल को शामिल: ऑलिव ऑयल यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है। ऑलिव ऑयल में विटामिन-ई भरपूर होता है जो नेचुरल तरीके से यूरिक एसिड के स्तर को कंट्रोल करता है। आप यूरिक एसिड को कंट्रोल करना चाहते हैं तो खाना जैतून के तेल में पकाएं।

7-8 घंटे की नींद लें: खराब खानपान-और खराब लाइफस्टाइल की वजह से पनपने वाली यूरिक एसिड की बीमारी में नींद भी बेहद मायने रखती है। कम नींद इस बीमारी को बढ़ा सकती है। नींद की कमी से बॉडी से स्ट्रेस हार्मोन निकलने लगते हैं जो यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ाने में जिम्मेदार हैं।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.