ताज़ा खबर
 

खाना पकाने से ज्यादा उपयोगी है सरसों, जानिए कैसे अलग-अलग तरीकों से पहुंचाता है लाभ

सरसों कई तरह की बीमारियों को दूर करने में भी मदद करता है।

प्रतीकात्मक फोटो (Source: Agencies)

सरसों के कई फायदे हैं और इसका इस्तेमाल हम तेल बनाने से लेकर खाने के लिए साग बनाने तक करते हैं। लेकिन सरसों के कई और लाभ हैं जिनसे आप शायद ही परिचित हों। आईए जानते हैं उन फायदों के बारें में। सरसों कई तरह की बीमारियों को दूर करने में भी मदद करता है।

दर्द का इलाज- सरसों की खली जिसे अंग्रेजी में Poultice भी कहा जाता है उसका इस्त्माल कई तरह के दर्द और खिंचाव को दूर करने के लिए भी किया जाता है। सरसों की खली का नेचर गर्म होता है इसलिए इससे दर्द जल्द खत्म होता है। वहीं सरसों की खली को इस्तेमाल करने का एक जरूरी तरीका भी है जिसे फॉलो करना जरूरी है। इस सीधे त्वचा पर नहीं लगाना चाहिए। खली का इस्तेमाल कपड़े के बीच में रखकर करना चाहिए।

शरीर को डीटोक्स करता है- सरसों शरीर को डिटोक्स करने में भी मदद करता है। सरसों का साग शरीर से हानिकारक तत्वों को निकलने में काफी मदद करता है। दरअसल सरसों में ग्लूकोसाइनोलेट्स नाम एक पदार्थ होता है जो बॉडी डिटोक्स करने में मदद करता है।

दाद का इलाज- सरसों का इस्तेमाल आप दाद मिटाने के लिए भी कर सकते हैं। सरसों के बीज में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो दाद के असर को कम करने में मदद करता है। इसका इस्तेमाल पेस्ट बनाकर किया जाता है। बीज से बने पेस्ट को दाद की जगह पर लगाना होता है जो दाद को हटाने में काफी मदद करता है।

सोरायसिस दूर करने में सहायक- सोरायसिस में शरीर पर लाल चक्कते पड़ने लगते हैं। वहीं एक शोध के मुताबिक, सरसों के बीजों में सूजन और जलन कम करने की क्षमता होती है। ऐसे में इसका इस्तेमाल इस परेशानी को दूर करने के लिए किया जाता है। सरसों के बीजों की वजह से शरीर में ऐसे एंजाइम का निर्माण बढ़ता जिनकी वजह से शरीर में घाव भरने की क्षमता बढ़ती है।

बालों के लिए फायदेमंद- सरसों का तेल आपके बालों को भी खूबसूरत बनाने में काफी मदद करता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए मेहंदी के पत्तों को सरसों के तेल में उबाल लें और फिर इस तेल को बालों में लगाएं। इससे बाल झड़ने की समस्या काफी हद तक कम हो जाती है और यह आपके बालों को भी सुंदर बनाता है।

देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App