ताज़ा खबर
 

Coronavirus: आपको भी तो नहीं हैं ये 5 आदतें? तुरंत बना लें दूरी, नहीं तो हो सकतें हैं कोरोना के शिकार…

Tips to avoid the risks of Coronavirus: रात को पूरी नींद लेने से शरीर में साइटोकीन नामक हार्मोन का उत्पादन होता है जिससे इम्यूनिटी को मजबूत बनने में मदद मिलती है।

क्या आपकी आदतें कोरोना वायरस को दे रही हैं बुलावा? जानिए किन आदतों को छोड़ना है जरूरी

Tips to avoid the risks of Coronavirus: वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस का कहर बढ़ते ही जा रहा है। इस वायरस ने दुनिया के ज्यादातर हिस्सों को अपनी चपेट में ले लिया है। भारत में भी अब तक इस घातक वायरस से 4 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। विश्व भर के वैज्ञानिक इस कोशिश में लगे हैं कि जल्द से जल्द कोरोना वायरस से बचाव के लिए टीका तैयार हो सके। हालांकि, अभी तक इसका कोई पुख्ता इलाज सामने नहीं आया है। कोरोना वायरस का संक्रमण ज्यादा न फैले इसके लिए कुछ आदतों को छोड़ना बेहद जरूरी है। आइए जानते हैं लोगों की कौन-सी आदतें इस वायरस को फैलने में करती है मदद-

1. स्मोकिंग: डब्ल्यूएचओ के इंस्टाग्राम पोस्ट के अनुसार तंबाकू उत्पादों के इस्तेमाल से लोग कोरोना वायरस से आसानी से संक्रमित हो सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि धूम्रपान करने वाले लोग अपने हाथों को अपने मुंह तक लाते हैं जिससे ये वायरस लोगों के शरीर में ट्रांस्फर हो सकता है। कई बार लोग तंबाकू उत्पादों को आपस में शेयर भी करते हैं जिससे लोगों के बीच वायरस प्रसारित हो सकता है। इसके अलावा, धूम्रपान लोगों के श्वसन तंत्र को कमजोर बनाता है, जिससे वो कोरोनोवायरस की चपेट में आसानी से आ सकते हैं। इसके अलावा, द न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित एक शोध के अनुसार चीन में स्मोकर्स के आईसीयू में भर्ती होने, सांस लेने में दिक्कत और मौत का खतरा नॉन स्मोकर्स की तुलना में तीन गुना ज्यादा है।

2. कम नींद लेना: अमेरिकन एकडमी ऑफ स्लीप मेडिसिन लोगों को रात में 7 से 8 घंटे की नींद लेने की सलाह देता है। पूरी नींद नहीं लेने से इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है। 2015 में हुए एक अन्य शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि 18 से 55 आयुवर्ग के लोगों को कम सोने से सर्दी-जुकाम होने का खतरा भी ज्यादा होता है। माना जा रहा है कि कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को इस वायरस से संक्रमण का ज्यादा खतरा है। शोध के अनुसार, वैसे लोग जो रात में केवल 5 से 6 घंटे सोते हैं उनमें किसी भी वायरस से संक्रमित होने का खतरा ज्यादा होता है, जबकि 7 से 8 घंटे नींद लेने वाले लोगों को ये खतरा कम होता है।

3. अल्कोहल: शराब पीने से इम्यूनिटी कमजोर होती है। जो लोग ज्यादा शराब पीते हैं, उनके शरीर के कई अंगों की कार्यप्रणाली कमजोर हो जाती है। इससे उन्हें किसी भी तरह का संक्रमण होने का खतरा ज्यादा होता है। वहीं, कोरोना वायरस के फैलने के साथ ही फैल रहे हैं अफवाह जिनमें शराब को फायदेमंद बताया गया था। हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इन अफवाहों को निराधार बताया है।

4. बालों पर हाथ फेरना: कई लोगों को बार-बार बालों पर हाथ फेरने की आदत होती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार कोरोना वायरस अगर बालों के संपर्क में आ जाए तो कुछ मिनट से लेकर कुछ घंटों तक रह सकता है। ऐसे में अगर आप बालों पर हाथ लगाएंगे तो इससे संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा। ठीक इसी तरह दाढ़ी बढ़ाए रखना भी अभी खतरे से खाली नहीं है। इंग्लैंड में हेल्थ सर्विस से जुड़े लोगों की इसी वजह से क्लीन शेव्ड रहने की सलाह दी जा रही है।

5. नाक में उंगली डालना: कोरोना वायरस से बचाव के लिए जिस बात पर अधिक जोर दिया जा रहा है वो है अपने चेहरे को न छूना। आंख, नाक और मुंह के जरिये कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे ज्यादा खतरा है। वहीं, नाक में उंगली डालने की आदत कई लोगों में आम है। ऐसा करने के बाद वो हाथ धोना भी भूल जाते हैं। नाक में उंगली डालने से वायरस के संक्रमण की संभावना बढ़ जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 आयुष्मान खुराना ने 17 की उम्र में शुरू की एक्टिंग, विलेन का रोल भी किया, अब पहनते हैं 75 हजार के जूते, Mercedes जैसी गाड़ियों के है मालिक
2 Pregnancy के दौरान डायबिटिक महिलाएं रखें अपना ख्याल, नवजात हो सकते हैं सेरिब्रल पाल्सी के शिकार
3 जिस ऐप को सरकारी एजेंसी ने बताया सुरक्षा के लिए खतरा, उसी का इस्तेमाल करते दिखे रक्षा मंत्री