scorecardresearch

Weight Loss: वजन कंट्रोल करने में कारगर है काजू, जानिये कब और कितना खाएं

उम्र के मुताबिक काजू का सेवन करना जरूरी है। 2-10 साल की उम्र के बच्चे 6-7 काजू का सेवन करें उनका शारीरिक और बौद्धिक विकास तेजी से होगा।

cashews for weight loss,weight loss rules, weight control, how to loss weight naturally
रोजाना सीमित मात्रा में काजू खाने से वजन कम करने में मदद मिलती है। photo-freepik

बढ़ते वजन को कंट्रोल करना बेहद मुश्किल काम है। वजन को कंट्रोल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। जिम में वर्कआउट करना पड़ता है, डाइट पर कंट्रोल करना पड़ता है, सबसे ज्यादा तो धैर्य रखना पड़ता है। वजन कम करने के लिए अपनी खाने-पीने की आदतें बदलनी पड़ती हैं। जंक फूड और अनहेल्दी फूड को डाइट से स्किप करना पड़ता है। वजन कम करने के लिए डाइट में हेल्दी और पोषक तत्वों को शामिल भी जरूरी है।

अगर आप भी वजन कम करना चाहते हैं तो डाइट में हेल्दी नट्स को शामिल करें। नट्स को सुपरफूड के रूप में जाना जाता है। एंटी-ऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर नट्स शरीर को हेल्दी रखने में मदद करते हैं और वजन भी कम करते हैं। फाइबर, प्रोटीन, स्वस्थ वसा, विटामिन और खनिजों से भरपूर नट्स तेजी से वजन कम करते हैं और पेट की चर्बी को भी कम करते हैं।

रोजाना मुट्ठी भर नट्स का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। नट्स में काजू एनर्जी का पावरहाउस है जो वजन को तेजी से कम करता है। काजू प्रोटीन का बेस्ट स्रोत है, प्रोटीन डाइट वजन को तेजी से कंट्रोल करती है। काजू का सेवन आप साबुत काजू, हल्के भुने काजू, नमक और देसी घी में भुने काजू के रूप में कर सकते हैं। आइए जानते हैं काजू का सेवन करने से वजन कैसे कंट्रोल रहता है।

वजन को कैसे कंट्रोल रखता है काजू: काजू में मैग्नीशियम, वसा और कार्बोहाइड्रेट मौजूद होता है जो मेटाबॉलिज्म को रेगुलेट करता है और वजन को कम करने में मदद करता है। काजू प्रोटीन का बेस्ट स्रोत है जो तेजी से वजन को घटाता है। रोजाना सीमित मात्रा में काजू खाने से वजन कम करने में मदद मिलती है।

काजू में मौजूद ओमेगा -3 फैटी एसिड मेटाबोलिज्म की प्रक्रिया में वृद्धि करके फैट को जलाकर वजन कम करने में मदद करता है। वजन कम करने के लिए काजू का सेवन नाश्ते में सुबह या शाम के नाश्ते में स्नैक्स के रूप में कर सकते हैं।

उम्र के हिसाब से काजू का सेवन कितना करें:

  • उम्र के मुताबिक काजू का सेवन करना जरूरी है। 2-10 साल की उम्र के बच्चे 6-7 काजू का सेवन करें उसका शारीरिक और बौद्धिक विकास तेजी से होगा।
  • 10 साल से 18 साल की उम्र के युवाओं के लिए एक मुट्ठी काजू का सेवन पर्याप्त है।
  • महिलाओं के लिए काजू का सेवन बेस्ट है। प्रेग्नेंट महिलाओं को एक मुट्ठी काजू का सेवन जरूर करना चाहिए। काजू बॉडी को एनर्जी देता है।

काजू खाने से शुगर रहती है कंट्रोल: डायबिटीज के मरीज काजू को डाइट में शामिल करें शुगर कंट्रोल रहेगी। फाइबर से भरपूर काजू ग्लूकोज को धीरे-धीरे रक्तप्रवाह में छोड़ते हैं जिससे वो ब्लड में शुगर के स्तर को बढ़ाते नहीं है। शुगर के मरीज़ों के लिए इसका सेवन फायदेमंद है।

दिल की सेहत में करता है सुधार: काजू हेल्दी अनसेचुरेटेड फैट से भरपूर होते हैं, जो दिल के रोगों और सांस से संबंधित परेशानियों का जोखिम कम करते हैं।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.