आर्थिक तंगी से परेशान ‘भाबीजी’ के ‘विभूति नारायण’ को बेचनी पड़ गई थी अपनी सोने की चेन, मुंबई छोड़ने का कर लिया था फैसला

आसिफ शेख ने अपने करियर की शुरुआत भारत के पहले टीवी सीरियल 'हम लोग' से की थी। इसके बाद उन्होंने कई बड़ी बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया।

aasif sheikh, bhabiji ghar par hain, aashif sheikh lifestyleआसिफ शेख ने अपने करियर की शुरुआत टीवी सीरियल ‘हम लोग’ से की थी (फोटो क्रेडिट- जनसत्ता)

टीवी के सबसे पॉपुलर कॉमेडी शो ‘भाबीजी घर पर हैं!’ ने दर्शकों के बीच अपनी एक अलग ही जगह बनाई है। शो के सभी कैरेक्टर फैन्स को काफी पसंद हैं। चाहें अंगूरी भाभी हों, या अनिता भाभी। विभूति नारायण और मनमोहन तिवारी अपनी कॉमिक टाइमिंग से फैन्स को खूब हंसाते हैं। ‘भाबीजी घर पर हैं!’ के विभूति नारायण यानी एक्टर आसिफ शेख का नाम आज टीवी के एक सफल एक्टर्स में शुमार है। लेकिन एक समय पर काम ना मिलने के कारण आसिफ शेख की आर्थिक स्थिति इतनी खराब हो गई थी कि उन्हें अपनी सोने की चेन तक बेचनी पड़ गई थी।

आसिफ शेख को हमेशा से ही एक्टिंग में दिलचस्पी थी। हालांकि, उनके पिता को यह बिल्कुल भी मंजूर नहीं था। पिता के विरोध के बावजूद भी आसिफ ने एक्टिंग से नाता नहीं तोड़ा। आसिफ शेख ने अपने करियर की शुरुआत भारत के पहले टीवी सीरियल ‘हम लोग’ से की थी। इसके बाद उन्होंने कई बड़ी बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया। शुरुआत में आसिफ शेख को खूब काम मिला।

आर्थिक तंगी के कारण बेचनी पड़ी थी सोने की चेन:  हालांकि, बाद के दिनों में काम ना मिलने के कारण उनकी आर्थिक स्थिति खराब होती चली गई। इस दौरान आसिफ ने दूरदर्शन के लिए न्यूज रीडर का ऑडिशन भी दिया लेकिन वह रिजेक्ट हो गए। इन्हीं दिनों एक वक्त ऐसा भी आया कि तंगी से परेशान आसिफ को अपनी सोने की चेन तक बेचनी पड़ गई थी।

मुंबई छोड़ चले गए थे दिल्ली:  काम ना मिलने से परेशान होकर आखिरकार आसिफ ने मुंबई छोड़ने का फैसला लिया और वह दिल्ली चले गए। दिल्ली में रहने के दौरान एक्टर को कई बॉलीवुड फिल्मों के ऑफर आए। हालांकि 1999 में आया शो ‘यस बॉस’ उनकी जिंदगी के लिए मील का पत्थर साबित हुआ। यह शो टीवी पर काफी हिट हुआ, जिसके बाद वह घर-घर में पहचाने जाने लगे। यह शो 1999 से 2009 तक चला।

‘यस बॉस’ के बाद मिला ‘भाबीजी घर पर हैं!’:  इन 10 सालों में आसिफ शेख ने बड़ी लोकप्रियता हासिल कर ली थी। साल 2015 में ‘यस बॉस’ के ही राइटर मनु संतोषी ने ‘भाबीजी घर पर हैं!’ शो लिखा। इस सीरियल में ‘विभूति नारायण’ के किरदार के लिए मनु संतोषी के मन में केवल एक ही नाम था, वह थे आसिफ शेख। इस तरह एक समय पर निराश होकर दिल्ली लौटने वाले आसिफ शेख ने अपनी एक्टिंग से एक बड़ा मुकाम हासिल किया।

Next Stories
1 हैंड सैनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से हो सकता है त्वचा को नुकसान, जानिये
2 छोटी सी उम्र में आमिर की फिल्म में आईं थी नजर, जानें एक एपिसोड की कितनी फीस लेती हैं सुमोना चक्रवर्ती
3 मुकेश अंबानी या अनिल, किसके साथ रहती हैं मां कोकिलाबेन? जानें दोनों बहुओं संग कैसे हैं उनके रिश्ते
यह पढ़ा क्या?
X