scorecardresearch

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज नवरात्र में इस नमक का सेवन करने से करें परहेज वरना बढ़ सकता है बीपी, जानिए कैसे

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज नवरात्र में फ्रूट्स पर साधारण नमक का सेवन सीमित मात्रा में करें।

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज नवरात्र में इस नमक का सेवन करने से करें परहेज वरना बढ़ सकता है बीपी, जानिए कैसे
उपवास में अगर फास्ट कर रहे हैं तो सेंधा नमक या फिर फ्रूट चाट का सेवन नहीं करें बीपी बढ़ सकता है। photo-freepik

नवरात्र का पावन पर्व आज यानि सोमवार से शुरू हो गया है। नवरात्र के नौ दिनों तक मां दुर्गा के भक्त उपवास रखते हैं और उनकी आराधना करते हैं। इस दौरान कुछ भक्त दो दिन का उपवास करते हैं तो कुछ लोग पूरे नौ दिनों तक उपवास करते हैं। हेल्दी आदमी के लिए उपवास करना सेहत को फायदा पहुंचाता है लेकिन जो लोग बीमार है उनके लिए परेशानी बढ़ सकती है। इस दौरान ज्यादातर लोग फलाहार पर रहते हैं। ज्यादातर लोग फलों को टेस्टी बनाने के लिए उसमें खूब सारा चाट मसाला या सेंधा नमक मिला देते हैं। आप जानते हैं कि फलों पर सेंधा नमक और चीनी का सेवन ब्लड प्रेशर के मरीजों की परेशानी को बढ़ा सकता है।

नवरात्र के दौरान अगर हाई ब्लड प्रेशर के मरीज नमक का सेवन कर रहे हैं तो थोड़ा सोच विचार कर करें। खाने में नमक का ज्यादा सेवन ब्लड प्रेशर को बढ़ाता है। आइए जानते हैं कि हाई ब्लड प्रेशर के मरीज नवरात्र में नमक का सेवन कैसे करें कि बीपी कंट्रोल रहे।

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज नवरात्र पर कैसे नमक का सेवन करें:

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक अक्सर लोग नवरात्र पर सेंधा नमक, चाट मसाला, रॉक सॉल्ट, नोना सॉल्ट का सेवन करते हैं। ये सभी तरह के नमक नॉन आयोडाइज नमक होते हैं। इन नमक में पोटैशियम की मात्रा ज्यादा होती है जो ब्लड प्रेशर को बढ़ा सकती है और दिल की सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है। इस नमक में ज्यादा पोटैशियम मौजूद होता है जो हार्ट के लिए अच्छा नहीं होता।

इसका सेवन करने से पाचन खराब होता है। जिन लोगों को गैस्टिक की परेशानी होती है उनके लिए ये नमक ज्यादा नुकसानदायक है। इसका सेवन करने से गैस्ट्रिक की परेशानी बढ़ सकती है। आप अगर फलों पर नमक का सेवन करना चाहते हैं तो नॉर्मल नमक का सेवन करें।

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए इस तरह करें फ्रूट्स का सेवन:

WHO के मुताबिक 1 दिन में हमें 5 ग्राम से ज्यादा नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो फास्ट के दौरान 150 से 200 ग्राम फ्रूट का सेवन करें। इन फ्रूट्स में सेंधा नमक नहीं डालें। अगर इस दौरान आप नमक का सेवन करना चाहते हैं तो दो से तीन ग्राम नमक का ही सेवन करें। फ्रूट्स के साथ नींबू का सेवन करें फायदा रहेगा। आप फ्रूट्स के साथ खीरा खाएं। लम्बे समय तक भूखें नहीं रहें थोड़ी-थोड़ी देर में कुछ ना कुछ खाते रहें।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 26-09-2022 at 04:51:11 pm
अपडेट