ताज़ा खबर
 

सेहत ही नहीं, स्किन के लिए भी असरदार है हींग, जानिए फायदे और इस्तेमाल के तरीके

हींग में मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी एंटीऑक्सीडेंट गुण जुकाम, सर्दी, अपच आदि बीमारियों फायदेमंद होते हैं तो कोमरिन्स नाम का तत्व खून को पतला करके ब्लड फ्लो बढ़ाता है।

चित्र का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

हींग एक औषधि है, जिसके कई फायदे होते हैं। अकसप लोग खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए भी हींग का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन ऐसे बहुत से लोग हैं जो हींग में मौजूद गुणों और फायदों की वजह से भी हींग का इस्तेमाल करते हैं। हींग में मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी एंटीऑक्सीडेंट गुण जुकाम, सर्दी, अपच आदि बीमारियों फायदेमंद होते हैं तो कोमरिन्स नाम का तत्व खून को पतला करके ब्लड फ्लो बढ़ाता है। इसके इस्तेमाल से कई तरह की बीमारियों से बचा जा सकता है। इनमें पेट संबंधी समस्या से लेकर हाई ब्लड प्रेशर, अस्थमा और स्किन इनफेक्शन भी शामिल हैं। चलिए आज हम आपको स्किन के लिए हींग के फायदे और इस्तेमाल के बारे में बताते हैं।

ग्लोइंल स्किन के लिए:  हींग को पानी या रोज वॉटर के साथ मिक्‍स करें और चेहरे पर लगाएं। इससे चेहरे पर ग्‍लो आने लगता है। इससे आपको आंखों के नीचे पड़े काले घेरों से भी छुटकारा मिलता है।

चेहरे की नमी के लिए: दूध, गुलाबजल और शहद मिक्‍स कर के ऊपर से हींग डाल कर चेहरे पर लगाएं। इस फेस पैक को फ्रिज में रख कर चेहरे पर नियमित रूप से लगाएं।

मुंहासे हटाने के लिए:  मुल्‍तानी मिट्टी और गुलाब जल में थेाड़ा सा नींबू का रस मिलाकर मिक्स करें और थोड़ा सा हींग डालें। चेहरे के पोर्स को बंद होंगे और चेहरे की नमी बनी रहेगी।

स्किन इंफेक्शन से निजात पाने के लिए: पानी में थोड़ी से हींग घोलकर इससे स्किन की सफाई करें। हींग का पेस्ट लगाने से भी स्किन इंफेक्शन से निजात पाई जा सकती है।

कैसे बनती है हींग: फेरुल फोइटिडा के पौधे से हींग बनाई जाती है। पर्वतीय क्षेत्रों में पाए जाने वाले फेरुल फोइटिडा के पौधे से रस निकालकर उसे किसी बर्तन में डालकर सुखा लिया जाता है। सुखा लेने के बाद स्वादिष्ट हींग मिलती है। पहाड़ी क्षेत्रों में पैदा होने वाला हींग अपने देश में कम मात्रा में ही पाया जाता है। बलूचिस्तान, अफगानिस्तान के पहाड़ी क्षेत्रों में हींग बहुतायत मात्रा में पाया जाता है। यहीं से हींग हमारे देश में भी आयात किया जाता है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App