कहीं आप भी तो नहीं खा रहे हैं मिलावटी हल्दी? चुटकियों में ऐसे लगाएं पता

हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेट्री और एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण होते हैं, जानिये कैसे करें असली और नकली हल्दी में अंतर

haldi ke fayde, turmeric powder adulteration, शुद्ध हल्दी की पहचान
जानते हैं कि किन तरीकों से पता किया जा सकता है कि आप जिस हल्दी का इस्तेमाल कर रहे हैं वो असली है या नकली

हल्दी, एक प्राकृतिक उपचार है जिसका इस्तेमाल सदियों से हमारी रसोई में होता आया है। इसके अलावा, आयुर्वेदिक उपचार के रूप में और घरों में होने वाले शुभ कार्यों के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। हालांकि, आज की इस आधुनिकता के दौर में जहां शुद्ध हल्दी मिलना मुश्किल हो गया है। असली हल्दी की आड़ में मिलावट करके कृत्रिम हल्दी का काला बाजार जोरों से चल रहा है। इसका इस्तेमाल करने से लोगों के शरीर पर भी प्रतिकूल असर होता है।

आइए जानते हैं कि किन तरीकों से पता किया जा सकता है कि आप जिस हल्दी का इस्तेमाल कर रहे हैं वो असली है या नकली?

हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेट्री और एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण होते हैं। एक अध्ययन से इस बात का पता चलता है कि बांग्लादेश में उगाई जाने वाली हल्दी में सामान्य स्तर से 500 गुना तक अधिक जहरीली भारी धातु हो सकती है। इस स्टडी में कहा गया है कि हल्दी उगाने वाले नौ जिलों में से सात जिलों में एक जहर युक्त चमकीले पीले रंग के लेड युक्त यौगिक के साथ मिलावटी हल्दी का उत्पादन होता है, जिसे ‘क्रोमेट’ के रूप में जाना जाता है।

अपनी रसोई में हल्दी की शुद्धता की जांच कैसे करें?: भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) मिलावट संबंधी समस्या का समाधान करने के लिए उपाय बताए हैं जिससे हल्दी की शुद्धता की पहचान की जा सके। उन्होंने वीडियो के माध्यम से अपनी वेबसाइट और ट्विटर हैंडल से शेयर करके एक सरल और सस्ती परीक्षण विधि बताई है जो असली हल्दी के पहचान में मददगार हो सकती है।

इस टेस्ट को करने के लिए सबसे पहले दो गिलास लें, फिर आप उन दोनों गिलासों में तकरीबन आधा से ज्यादा पानी डालें। एक गिलास में मिलावटी हल्दी का थोड़ा सा सैंपल डालें और दूसरे गिलास में शुद्ध हल्दी वाला पाउडर मिला दें।


तकरीबन 30 सेकेंड के अंतराल के बाद आप देखेंगे कि मिलावटी हल्दी वाले गिलास में हल्दी सबसे नीचे बैठ जाएगी, और पानी का रंग गहरा पीला हो जाएगा। वहीं दूसरी ओर, जिस गिलास में आपने शुद्ध हल्दी डाला था उसमें हल्दी धीरे-धीरे नीचे की ओर जाती है और उसका रंग सुनहला ही रहता है। इस प्रकार से आप अपनी रसोई में हल्दी की शुद्धता की जांच कर सकते हैं।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।