कभी दुनिया के टॉप-10 अमीरों में शामिल थे अनिल अंबानी, अब सिर्फ एक कार में चलते हैं, परिवार उठाता है खर्च

Anil Ambani: अनिल की कंपनियों पर जो कुल कर्ज है वो करीब 4200 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है, अपनी कुछ संपत्तियों को बेचकर कर्ज चुका रहे हैं

anil ambani, mukesh ambani, anil ambani loan, anil ambani familyकुछ समय पहले लंदन की एक अदालत में अनिल ने बताया था कि उनका नेट वर्थ जीरो है

Anil Ambani Lifestyle: देश के सबसे रसूखदार परिवारों में से एक है अंबानी परिवार जो लगातार खबरों में बना रहता है। मुकेश अंबानी जहां दुनिया के सबसे अमीर शख्सों की सूची में शामिल हैं। वहीं, छोटे भाई अनिल अंबानी कर्ज के तले दबे हुए हैं। बता दें कि एक वक्त था जब अनिल भी दुनिया के टॉप-10 अमीरों में शुमार थे। साल 2005 में जब परिवार का बंटवारा हुआ था तो दोनों भाइयों को बराबर की संपत्ति मिली थी। खबरों के अनुसार 2007 में अनिल अंबानी के पास 45 अरब डॉलर की संपत्ति थी। यही नहीं, साल 2008 में दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में छठवें स्थान पर थे।

पिछले साल फोर्ब्स की अरबपतियों की सूची में मुकेश अंबानी का नाम तो था लेकिन अनिल का नाम गायब था। ऐसा इसलिए क्योंकि 2012 के बाद लगातार उनकी कंपनियां डूबती चली गईं और अनिल कर्ज के बोझ में दबते चले गए। कुछ समय पहले लंदन की एक अदालत में अनिल ने बताया था कि उनका नेट वर्थ जीरो है।

एक गाड़ी का ही करते हैं इस्तेमाल: पूरी तरह कर्ज में डूबे अनिल ने अदालत में बताया था कि अब वो केवल एक कार से आना-जाना करते हैं। बता दें कि अनिल की कंपनियों पर जो कुल कर्ज है वो करीब 4200 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है। अपनी कुछ संपत्तियों को बेचकर कर्ज चुका रहे हैं, जबकि कुछ बिक्री की प्रक्रिया से गुजर रही है।

गहने बेचे, परिवार उठाता है पूरा खर्चा: कई आर्थिक विशेषज्ञ और अनिल के करीबियों का मानना है कि उनकी इस आर्थिक स्थिति के पीछे वित्तीय कुप्रबंधन जिम्मेदार है। बंटवारा होने के बाद जो कंपनियां उन्हें मिली, उसपर ध्यान देने की बजाय अनिल ने दूसरी जगहों पर पैसा निवेश किया जो उनके लिए घाटे का सौदा साबित हुआ। कोर्ट में अनिल ने बताया था कि उनके पास वकीलों को फीस देने के लिए भी पैसे नहीं थे। इसके लिए उन्हें घर में मौजूद गहने बेचने पड़े।

इसी जगह अनिल ने बताया था कि उनका खर्च भी परिवार के बाकी लोग उठाते हैं। बता दें कि अनिल इन दिनों कमबैक की कोशिश में लगे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार वो दिन में 14 से 16 घंटों तक काम करते हैं। इसी का परिणाम है कि उनकी कंपनी रिलायंस निप्पन लाइफ इंश्योरेंस के नये बिजनेस में उन्हें साल भर में करीब 43.41 फीसदी लाभ हुआ है।

हो गए हैं अधिक आध्यात्मिक: खबरों के मुताबिक अनिल अंबानी अब पहले से भी ज्यादा आध्यात्मिक हो गए हैं और अक्सर उन्हें तमाम मंदिरों आदि में देखा जाता है। इस बीच लॉकडाउन होने के बावजूद अनिल अंबानी को अपने पत्नी टीना अंबानी और बच्चों के साथ महाबलेश्वर में टहलते देखा गया।

Next Stories
1 न तो पेंशन लेती हैं और ना ही CM की सैलरी, फिर कैसे चलता है ममता बनर्जी का खर्च? खुद बताया था पूरा गणित
2 संसदीय समिति ने अक्टूबर 2020 में ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत को लेकर चेताया था, सरकार ने नहीं दिया कोई ध्यान- BJP सांसद का दावा
3 तमाम कोशिशों के बाद भी दूर नहीं हो रही है Dandruff की परेशानी तो अपनाएं ये घरेलू उपाय
यह पढ़ा क्या?
X