ताज़ा खबर
 

मुंबई के ‘कबूतर खाना’ इलाके के चॉल में परिवार संग रहते थे अनिल अंबानी, तब ऐसी हुआ करती थी जिंदगी

अनिल अंबानी ने अपने बचपन की बातें शेयर करते हुए बताया था कि वह जिस चॉल में परिवार संग रहा करते थे, वहां पर 100 लोगों के लिए केवल एक ही बाथरूम था।

अनिल अंबानी बचपन का किस्सा याद कर हुए इमोशनल (फोटो क्रेडिट- फानेंशियल एक्सप्रेस)

अंबानी परिवार देश के सबसे रसूखदार परिवारों में से एक है। जहां धीरूभाई अंबानी के बड़े बेटे मुकेश अंबानी लगातार सफलता की सीढ़ियां चढ़ रहे हैं, तो वहीं छोटे बेटे अनिल अंबानी का बिजनेस पिछले कुछ समय से घाटे में चल रहा है और वो कर्ज के बोझ तले दबे हैं। अनिल अंबानी यूं तो लाइमलाइट से काफी दूर रहते हैं, लेकिन एक इंटरव्यू के दौरान वह अपने बचपन की यादें ताजा कर इमोशनल हो गए थे।

दरअसल, एक बार सिमी ग्रेवाल के शो Rendezvous With Simi Garewal में अनिल अंबानी भी पहुंचे थे, तब उन्होंने अपने पिता धीरूभाई अंबानी की मेहनत-लगन और सफर का जिक्र तो किया ही था। साथ ही यह भी बताया था कि उनका बचपन कैसे बीता था।

चॉल में परिवार संग रहा करते थे धीरूभाई: अनिल अंबानी ने बताया कि वह अपने परिवार के साथ मुंबई के कबतूर खाना इलाके के एक चॉल में रहा करते थे। धीरूभाई अंबानी के सफर की बात करते हुए अनिल अंबानी ने बताया था, “इस सपने की शुरुआत तब हुई जब वह विदेश गए थे और वहां पेट्रोल पंप पर काम किया करते थे। उस समय उनके दिमाग में आया कि मुझे भारत के लिए कुछ करना चाहिए।”

अनिल अंबानी आगे बताते हैं, “मेरे पिता से जब लोग उनकी सोच के बारे में बात किया करते थे। तो वह उन्हें दिन में सपने देखने वाला कहा करते थे।”

वहीं, सिमी ग्रेवाल अनिल अंबानी से पूछती हैं, “जब 1959 में आपका जन्म हुआ, तो उस समय जिंदगी कैसी थी?” इस पर अनिल उन दिनों को याद करते हुए बताते हैं, “1959 में मेरे पिता भारत वापस आ गए थे। हमारे परिवार में 6 लोग थे, उस समय मेरी दादी जिंदा थी। हम सातों एक चॉल में रहा करते थे। जो मुंबई के बैकवर्ड इलाके कबूतर खाना में था।”

100 लोगों के लिए केवल एक बाथरूम था: अनिल अंबानी ने बताया था, “वह बेहद बड़ी चॉल थी। हम चौथे फ्लोर पर रहा करते थे। उसमें एक बेडरूम, हॉल और किचन था। हमारे घर में कोई बाथरूम नहीं था। वहां पर एक कॉमन टॉयलेट था। जहां उस फ्लोर के कम से कम 100 लोग जाया करते थे। तो हम ऐसे माहौल में बड़े हुए थे। हमारे पास ज्यादा कपड़े नहीं हुआ करते थे। हम एक-दूसरे के कपड़े शेयर किया करते थे। यह एक मामूली-सी बात थी।”

Next Stories
1 दाल का पानी रोग-प्रतिरोधक क्षमता को करता है मजबूत, वजन घटाने में भी है कारगर, जानिये चौंकाने वाले फायदे
2 प्रेग्नेंसी में हाथ-पैर पर क्यों आती है सूजन? इन फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करने से मिल सकता है लाभ
3 Happy Ram Navami 2021 Wishes Images, Quotes, Status: ‘मर्यादा पुरुषोत्तम राम को कोटि कोटि प्रणाम…’ रामनवमी के खास मौके पर परिजनों को भेजें ये संदेश
यह पढ़ा क्या?
X