आप भाषण के सहारे मुस्लिम समुदाय को क्यों भड़काते हैं? अंजना ओम कश्यप ने ओवैसी से पूछा था सवाल तो ये दिया था जवाब

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी से एक इंटरव्यू में भड़काऊ भाषण को लेकर सवाल पूछा गया था। इसके जवाब में उन्होंने कुछ ऐसा कहा था।

Asaduddin Owaisi
AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी-अपनी तैयारी शुरू कर दी है। AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर चर्चा में हैं। इसी क्रम में ओवैसी बीजेपी और समाजवादी पार्टी पर लगाता निशाना साध रहे हैं। हाल ही में उन्होंने अखिलेश यादव की मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर टिप्पणी पर पलटवार करते हुए कहा था कि पहले उन्हें इतिहास पढ़ लेना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने चंद्रगुप्त मौर्य को लेकर सीएम योगी के बयान पर कहा था कि हिंदुत्व झूठे इतिहास की फैक्ट्री बनता जा रहा है।

सिसासी बयानबाजी के बीच असदुद्दीन ओवैसी का एक पुराना इंटरव्यू वायरल हो रहा है। इसमें उनसे कई अहम मुद्दों को लेकर सवाल पूछे जाते हैं। वरिष्ठ पत्रकार अंजना ओम कश्यप ने ओवैसी से पूछा था, ‘अब आपके भाई अकबरुद्दीन और आपके भाषणों में कोई अंतर नज़र नहीं आता है। आप भाषण के सहारे मुस्लिम समुदाय को क्यों भड़काते हैं?’ इसके जवाब में उन्होंने कहा था, ‘ये बिल्कुल गलत आरोप लगा रही हैं आप। मेरा काम किसी को भड़काना बिल्कुल नहीं है। मेरा काम सामने वाले को एक विचार प्रस्तुत करना है।’

असदुद्दीन ओवैसी आगे कहते हैं, ‘मेरे भाषण को तोड़-मरोड़कर पेश किया जाता है। शायद इसकी एक वजह ये भी हो सकती है कि आप मेरे भाषणों को गलत समझ रही हैं। ये कहां तक ठीक है कि एक व्यक्ति को जबरन ले जाकर उसकी दाढ़ी काट देना कहां तक ठीक है? दाढ़ी रखना तो मेरा धार्मिक अधिकार है। अगर ये लोग ऐसा हरकत कर रहे हैं तो इस पर मैं बिल्कुल नहीं चुप बैठ सकता हूं। अगर कोई मेरी दाढ़ी काटेगा तो मैं ये बात बिल्कुल कहूंगा। मोदी के पास दाढ़ी नहीं है क्या? हिंदू और हिंदुत्व में जमीन और आसमान का अंतर है। लेकिन ये हिंदुत्व की राजनीति करते हैं।’

आपने कांग्रेस का फायदा उठाया? वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने एक इंटरव्यू में असदुद्दीन ओवैसी से सवाल पूछा था, ‘आपने बहुत साल कांग्रेस का फायदा उठाया और अब आप उस पर सवाल उठा रहे हैं? इसके जवाब में उन्होंने कहा था, ‘जम्हूरियत में फायदा या नुकसान की कभी कोई बात नहीं हो सकती है। अगर आप ऐसा आरोप मेरे ऊपर लगाएंगे तो ये बर्दाश्त करने लायक भी नहीं है। अगर कोई कहने लगे कि आपने किसी दूसरे चैनल में काम करके उसका फायदा उठाया तो क्या ये ठीक रहेगा? मैं किसी राजनीतिक दल का फायदा नहीं उठाता हूं और न ही ये मुझे ठीक लगता है।’

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
एक मंदिर ऐसा भी: जहां रोज होगी रावण की पूजा
अपडेट