scorecardresearch

खूनी बवासीर हो या बादी, इन नुस्खों को अपनाएं तो मिलेगी जल्द राहत, दवा भी नहीं खानी पड़ेगी

विशेषज्ञों के मुताबिक बवासीर के पीड़ितों को तैलीय और मसालेदार चीजें, सफेद ब्रेड, चाय और कॉफी तथा सिगरेट और गुटखा को लेने से बचना चाहिए। ये सब चीजें बीमारी को और बढ़ाती हैं।

खूनी बवासीर हो या बादी, इन नुस्खों को अपनाएं तो मिलेगी जल्द राहत, दवा भी नहीं खानी पड़ेगी
अपनी जीवन शैली को थोड़ा नियमित, अनुशासित और परिश्रमी बना लें तो आसानी से इससे छुटकारा मिल सकता है। (Source: Getty Images/Thinkstock)

आज की लाइफस्टाइल और भागमभाग की जिंदगी में बीमारियां होना आम बात है, लेकिन कुछ बीमारियां ऐसी होती हैं, जिनका तत्काल उपचार नहीं कराया गया तो एक पल भी चैन से बैठना मुश्किल हो जाता है। बवासीर या पाइल्स ऐसी ही एक बीमारी है, जो बेहद कष्टदायी होती है। आम तौर पर जिसको यह होती है, उसको गुदा के आस-पास कठोर गांठ जैसी महसूस होती है। अक्सर पेट खराब रहता है, शौच के वक्त खून निकलता है, खुजली होती है। साथ ही बार-बार टायलेट जाने की जरूरत महसूस होती है।

इसके इलाज के लिए कई तरह के उपाय बताए गए हैं, लेकिन अगर अपनी जीवन शैली को थोड़ा नियमित, अनुशासित और परिश्रमी बना लें तो बिना दवा के भी इससे छुटकारा पाया जा सकता है। जो लोग इससे पीड़ित हैं, वे सुबह-सुबह उठकर एक हरा करैला और पीपल की दो मुलायम पत्ती को एक गिलास पानी मे पिसकर छान लें और खाली पेट पीएं। ये आपको दोनों प्रकार की बवासीर से आराम दिलाने में मदद करेगा।

नियमित रूप से सूखे आंवले के चूर्ण की 6-6 ग्राम मात्रा सुबह -शाम गाय के दूध में मिलाकर लें तो खूनी बवासीर को ठीक करने में बहुत फायदा करेगा। अगर बादी बवासीर है तो आप डेढ़ ग्राम रसौत को तीन ग्राम अनार की छाल के साथ कूटकर चूर्ण बना लें और उसे छह ग्राम गुड़ में मिला बेर की गुठली के बराबर गोली बना लें। इसकी एक गोली सुबह और एक शाम को पानी के साथ खाने से बादी बवासीर ठीक हो जाती है।

खूनी बवासीर में नागकेसर, नीम की निबौरी, बीज निकले हुए रसवत मुनक्के इन सभी चीजों को 12 ग्राम की मात्रा में लें। इसके अलावा आपको भीमसेनी कपूर 6 ग्राम लेना है । अब मुनक्कों को छोड़कर सभी को बारीक पीसकर छानकर चूर्ण बना लें। फिर मुनक्के डालकर अच्छे से घोटें और छोटी बेर के बराबर गोली बनाकर रख लें। एक गोली सुबह-शाम पानी से गटक लें। यह नुस्खा खूनी बवासीर के लिए रामबाण है।

अगर आप बवासीर के मस्से से परेशान हैं तो नारियल की जटा को जलाकर राख बना लें और एक चम्मच राख को छाछ में मिलाकर सुबह-शाम खाली पेट पीएं। इसको पीने से कुछ दिन में ही बवासीर के मस्से पूरी तरह से खत्म हो जाएंगे।

विशेषज्ञों के मुताबिक बवासीर के पीड़ितों को तैलीय और मसालेदार चीजें, सफेद ब्रेड, चाय और कॉफी तथा सिगरेट और गुटखा को लेने से बचना चाहिए। ये सब चीजें बीमारी को और बढ़ाती हैं।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट