ताज़ा खबर
 

मुंबई से हार के बोले युवराज सिंह, हमें मैच जीतना चाहिए था

अर्धशतक के साथ फॉर्म में वापसी करने वाले दिल्ली डेयरडेविल्स के अनुभवी बल्लेबाज युवराज सिंह को मलाल है कि आईपीएल के अहम मुकाबले में यहां मुंबई इंडियन्स के चार विकेट 40 रन...

Author May 6, 2015 1:41 PM
युवराज सिंह ने कहा, “मुंबई के चार विकेट 40 रन पर हासिल करने के बाद हमें मैच जीतना चाहिए था लेकिन हम विकेट हासिल नहीं कर पाए।’’ (फ़ोटो-पीटीआई)

अर्धशतक के साथ फॉर्म में वापसी करने वाले दिल्ली डेयरडेविल्स के अनुभवी बल्लेबाज युवराज सिंह को मलाल है कि आईपीएल के अहम मुकाबले में यहां मुंबई इंडियन्स के चार विकेट 40 रन पर हासिल करने के बावजूद उनकी टीम जीत हासिल नहीं कर पाई।

युवराज ने यहां वानखेड़े स्टेडियम में कल तीन गेंद शेष रहते मुंबई इंडियन्स की पांच विकेट की जीत के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने उनके चार विकेट 40 रन पर हासिल कर लिए थे। वहां से हमें मैच जीतना चाहिए था लेकिन हम विकेट हासिल नहीं कर पाए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि बारिश आने के बाद ओस खत्म हो गई और विकेट बेहतर हो गया। स्पिन में मदद नहीं मिल रही थी। मुझे लगता है कि इससे उन्हें फायदा मिला। इसमें कोई शक नहीं कि वे बेहतर खेले। लेकिन 40 रन पर चार विकेट हासिल करने के बाद हमें मैच जीतना चाहिए था।’’

युवराज ने 44 गेंद में 57 रन की पारी खेली जो मौजूदा टूर्नामेंट का उनका दूसरा अर्धशतक है। मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा और अंबाती रायुडू ने हालांकि उम्दा पारियां खेलकर अपनी टीम को 153 रन के लक्ष्य तक पहुंचा दिया जिसके लिए युवराज ने उनकी तारीफ भी की।

युवराज ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि रोहित और रायुडू अच्छा खेले। विकेट से शुरू में गेंद रुककर आ रही थी लेकिन ओस के कारण गेंद बल्ले पर अच्छी तरह का रही थी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर बारिश नहीं होती और हमें कुछ स्पिन मिलती तो नतीजा शायद अलग हो सकता था। लेकिन मुंबई इंडियन्स चार विकेट गंवाने के बाद दबाव में अच्छा खेली। रोहित और रायुडू ने टीम को जीत दिलाई।’’

युवराज ने कहा कि शुरुआत में जल्द विकेट गंवाने के बाद उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए लय में आने के लिए कुछ समय मिला और फिर अच्छी पारी खेली लेकिन उन्हें मलाल है कि यह पारी बर्बाद गई और दिल्ली डेयरडेविल्स को 10 मैचों में छठी हार का सामना करना पड़ा जिससे प्ले ऑफ में जगह बनाने की उसकी संभावनाओं को झटका लगा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App