ताज़ा खबर
 

‘हां मैंने मैच के दौरान नाइट क्लब में पार्टियां की थीं,’ रवि शास्त्री ने Playboy वाली इमेज पर सुनाई थी कोलकाता टेस्ट की कहानी

रवि शास्त्री ने कहा, ‘वह पहली जनवरी की रात थी। माहौल था। मैं फिर नाइट क्लब गया। डेढ़-दो बजे रात को आ गया। अगले दिन फिर बल्लेबाजी की। मैंने शतक लगाया। अजहरुद्दीन ने भी शतक लगाया। तो मतलब कभी-कभी पार्टी का भी फायदा होता है।’

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री की इमेज एक जमाने में प्लेबॉय (Playboy) वाली थी। हालांकि, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर इससे इत्तेफाक नहीं रखते। हालांकि, वह यह जरूर मानते हैं कि वह कोलकाता टेस्ट में खेले गए एक टेस्ट के दौरान 2-3 दिन लगातार नाइट क्लब गए थे और पार्टी की थी। यही नहीं, उन्होंने अपने नाइट क्लब जाने को सही भी ठहराया था।

रवि शास्त्री ने वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा के शो ‘आप की अदालत’ में यह राज उजागर किया था। खास यह है कि रवि शास्त्री ने उस टेस्ट मैच में शतक भी लगाया था। रजत शर्मा ने रवि शास्त्री पर आरोप लगाया कि आप दिलफेंक (Playboy) हैं। हालांकि, रजत शर्मा ने कहा, ‘यह इल्जाम मेरा नहीं है। मोहम्मद अजहरुद्दीन की जिंदगी पर जो फिल्म बनी है, उसमें दिखाया गया है प्लेबॉय। अगले दिन सुबह बैटिंग करनी है। रात को कमरे में लड़की…।’ शास्त्री यह सुनते ही हंसने लगे, फिर उन्होंने कहा, ‘मैंने तो अजहर की कोई फिल्म नहीं देखी है। मैंने सिर्फ सुना है कि मूवी में ऐसा-ऐसा था। अब मुझे पता नहीं कि वह मेरी तरफ अंगुली दिखा रहे हैं या और कोई क्रिकेटर है।’

शास्त्री ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि मैं प्लेबॉय हूं या नहीं।’ रजत शर्मा ने कहा, ‘अच्छा, क्या यह सच है कि रात को दो बजे तक नाइट क्लब में थे और अगले दिन सुबह बैटिंग करने गए और बैटिंग करके आए और फिर नाइट क्लब चले गए।’ शास्त्री ने कहा, ‘मैं झूठ नहीं बोलूंगा। एक बार, एक-दो बार, शायद तीन बार ऐसा किया था। कलकत्ता में एक टेस्ट मैच था। उस मैच में मैंने पांचों दिन बैटिंग किया था।’

शास्त्री ने कहा, ‘वह टेस्ट मैच 31 दिसंबर को शुरू हुआ था। अब नए साल की पूर्व संध्या पर कोई टेस्ट मैच खेलता है, लेकिन इंडिया खेल रही थी। हम बैटिंग कर रहे थे, फिर 31 दिसंबर की रात को तो बनता ही है पार्टी करने का। 23 साल की उम्र थी। कमरे में बैठकर क्या करूंगा। तो मैं पार्टी करने नाइट क्लब गया था। फिर रूम में आ गया। अगले दिन बैटिंग थी मेरी, लेकिन कुछ देर के बाद बैड लाइट हो गई।’

शास्त्री ने कहा, ‘वह पहली जनवरी की रात थी। माहौल था। मैं फिर नाइट क्लब गया। डेढ़-दो बजे रात को आ गया। अगले दिन फिर बल्लेबाजी की। मैंने शतक लगाया। अजहरुद्दीन ने भी शतक लगाया। तो मतलब कभी-कभी पार्टी का भी फायदा होता है।’

Next Stories
1 तीसरे स्थान पर पुजारा पर विलियमसन भारी
2 विदेश में 2019 से चुप है कोहली का बल्ला
3 पाकिस्तानी फैंस यूनिस खान को मैदान से बाहर भेजने के लिए करने लगे थे हंगामा, पूर्व कप्तान ने सुनाई भारत के खिलाफ मैच की कहानी
ये पढ़ा क्या?
X