ताज़ा खबर
 

वर्ल्ड कप जीतने वाला ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बना ‘कारपेंटर,’ पैसों की तंगी से हुआ मजबूर

डोहर्टी के करियर की बात करें तो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 2010 में मेलबर्न के मैदान पर खेले गए वनडे से अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत की थी। वे वर्ल्ड कप 2015 में टीम के सदस्य थे।

डोहर्टी ने 4 टेस्ट, 60 वनडे और 11 टी20 मैचों में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया है। (फोटो- @ACA_Players ट्विटर/फाइल)

क्रिकेट करियर समाप्त होने के बाद कई खिलाड़ियों को गरीबी में जिंदगी जीते हुए देखा जा चुका है। कुछ समय पहले न्यूजीलैंड के स्टार ऑलराउंडर रहे क्रिस केर्न्स को भी सड़क पर मेहनत करते हुए देखा जा चुका है। वे परिवार को पालने के लिए ऑकलैंड में बस धोते और बस चलाते हुए नजर आ चुके हैं। इस लिस्ट में अब ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर का नाम जुड़ गया है। वर्ल्ड कप 2015 में टीम के सदस्य रहे जेवियर डोहर्टी पैसों के लिए कारपेंटर बन गए हैं।

ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर्स एसोसिएशन ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें डोहर्टी लकड़ी से जुड़े काम को कर रहे हैं। 2017 में क्रिकेट से संन्यास लेने वाले डोहर्टी को लगातार खेलने का मौका नहीं मिला। वे संन्यास लेने के बाद जीवन में मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। घर चलाने के लिए उन्हें अब यह काम करना पड़ रहा है। वीडियो में डोहर्टी काम सीख रहे हैं। इस काम के हारे में डोहर्टी ने वीडियो में कहा, ‘‘जब उन्होंने क्रिकेट छोड़ा था तब सोचा नहीं था कि आगे चलकर क्या करेंगे।’’

डोहर्टी ने कहा कि शुरू में उन्हें जो भी काम मिला वह किया। ऐसा 12 महीनों तक चलते रहा। उन्होंने ऑफिस में काम किया। इसके अलावा क्रिकेट से जुड़े काम भी किए। उन्होंने कहा कि अब कारपेंटर बनने का फैसला किया है। डोहर्टी ने ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर्स एसोसिएशन की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘प्लेयर डेवलपमेंट मैनेजर्स के होने से आपको सहायता मिलती है और मुझे भी इससे काफी राहत मिली है। मुझे आगे के रास्ते के लिए सुझाव मिले और आर्थिक मदद भी मिली।’’

डोहर्टी के करियर की बात करें तो उन्होंने 4 टेस्ट, 60 वनडे और 11 टी20 मैचों में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 7, वनडे में 55 और टी20 में 10 विकेट लिए। डोहर्टी ने श्रीलंका के खिलाफ 2010 में मेलबर्न के मैदान पर खेले गए वनडे से अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिस्बेन में 2010 में टेस्ट डेब्यू किया। वहीं, 2012 में भारत के खिलाफ पहला टी20 खेला था। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट 2013 में भारत, आखिरी वनडे 2015 में श्रीलंका और आखिरी टी20 2013 में भारत के खिलाफ खेला था।

Next Stories
1 IPL 2021 में कड़ाई पर पहली बार भारतीय क्रिकेटर ने उठाया सवाल, ऋद्धिमान साहा बोले- यूएई जैसा अभेद्य नहीं था भारत का बॉयो-बबल
2 VIDEO: संजना गणेशन ने कूल डांस से जीता फैंस का दिल, लोग बोले- कहां हैं जसप्रीत बुमराह
3 PSL 2021: अबुधाबी में 5 जून से हो सकते हैं पाकिस्तान सुपर लीग के मैच, यूएई में लागू होंगे ये कड़े नियम
यह पढ़ा क्या?
X