ताज़ा खबर
 

सुशील कुमार-बंजरग पुनिया Comanado 3 से नाराज, विद्युत जाम्वाल की फिल्म से छेड़खानी वाला सीन हटाने की मांग की

फिल्म के एक सीन में एक पहलवान स्कूल की एक लड़की की स्कर्ट खींचते हुए दिखाया गया है। एक तरह से सीन में अखाड़े में पहलवानों को बच्चों का शोषण करने वाला दिखाया गया है और एक्टर विद्युत जामवाल को पहलवानों को सबक सिखाने वाला दिखाया गया है।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: December 2, 2019 8:48 PM
सुशील कुमार और बजरंग पूनिया।

दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार ने विद्युत जामवाल स्टारर फिल्म ‘कमांडो-3’ Commando 3 को लेकर आपत्ति जताई है। उन्होंने फिल्म से छेड़खानी वाला सीन हटाने की मांग की है। राजीव गांधी खेल रत्न से पुरस्कृत और वर्ल्ड चैंपियनशिप में तीन बार पदक जीत चुके बजरंग पूनिया भी इस सीन को लेकर खासे नाराज हैं। फिल्म के एक सीन में अखाड़े के कुछ पहलवान स्कूल की लड़कियों को छेड़ते हुए दिख रहे हैं। देश के इन दोनों नामी पहलवानों का आरोप है कि फिल्म का यह सीन पहलवानों और अखाड़ों की छवि खराब करने वाला है। दोनों पहलवानों ने फिल्म से इस सीन को तुरंत हटाने की मांग की है।

फिल्म के एक सीन में एक पहलवान स्कूल की एक लड़की की स्कर्ट खींचते हुए दिखाया गया है। एक तरह से सीन में अखाड़े में पहलवानों को बच्चों का शोषण करने वाला दिखाया गया है और एक्टर विद्युत जामवाल को पहलवानों को सबक सिखाने वाला दिखाया गया है। स्कर्ट खींचने वाले सीन में विद्युत जामवाल पहलवानों की पिटाई कर लड़कियों को छेड़खानी बचाते हुए दिखाए गए हैं।

बजरंग पूनिया और सुशील कुमार इसी सीन को लेकर बेहद खफा हैं। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए सुशील कुमार ने कहा, ‘एक पहलवान होने के नाते मैं इस सीन की कड़ी निंदा करता हूं। पहलवान समाज के सम्मानीय लोग होते हैं। वे अच्छे नैतिक मूल्यों के साथ अखाड़े में कदम रखते हैं।’

सुशील ने कहा, ‘फिल्म बनाने वालों को पहलवानों की ऐसी खराब छवि पेश करने के लिए माफी मांगनी चाहिए। यही नहीं, फिल्म से इस सीन को भी हटाया जाना चाहिए।’ उन्होंने इस सीन के खिलाफ अन्य लोगों से भी प्रदर्शन करने की मांग की है। सुशील ने कहा, ‘मैं इस फिल्म का विरोध करता हूं। सभी से इस फिल्म का विरोध करने की अपील करता हूं, क्योंकि इस फिल्म में पहलवानों की गलत छवि पेश की गई है।’

बजरंग पूनिया ने भी ट्वीट कर फिल्म के सीन पर ऐतराज जताया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मैं निर्देशक आदित्य दत्त के फिल्म कमांडो-3 के ट्रैलर में पहलवानों की गलत छवि दिखाए जाने की निंदा करता हूं। आप ने अखाड़े को गुंडों का अड्डा और पहलवानों को अपराधियों के तौर पर पेश किया है। अखाड़ा एक पवित्र स्थान है। पहलवान बजरंगबली के भक्त होते हैं। आप इस गलती मे सुधार करे। #commando।’

इससे पहले बजरंग पूनिया के गुरु और ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त ने फिल्म के निर्देशक आदित्य दत्त को बॉक्स ऑफिस कलेक्शन से अलग हटकर भी सोचने की सलाह दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि देश का सम्मान बढ़ाने के लिए जो कड़ी मेहनत करते हैं, उन एथलीट्स का सम्मान करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 T2OI: 13 गेंद, 0 रन, 6 विकेट; नेपाल की अंजलि चांद ने Best Bowling Figure का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, हैट्रिक भी ली
2 नाथन लियोन के पांच विकेट की बदौलत आस्ट्रेलिया से पाकिस्तान को मिली शर्मनाक हार
3 महिला रेसलर के साथ किया Flirt, जवाब मिला- सुधर जाओ नहीं तो Boyfriend से पिटवा दूंगी
जस्‍ट नाउ
X