ताज़ा खबर
 

चेतन सकारिया के बाद दो वर्ल्ड कप विनर पीयूष चावला ने भी पिता को खोया, 10 से चल रहा था कोविड-19 का इलाज

चावला 2007 टी20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के सदस्य रहे हैं। चावला ने 3 टेस्ट में 7, 25 वनडे में 32 और 7 टी20 मैचों में 4 विकेट लिए हैं। उन्होंने आईपीएल के 164 मैच में 156 विकेट झटके हैं।

32 वर्षीय चावला ने भारत की तरफ से तीन टेस्ट, 25 वनडे और सात टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। (फोटो- Piyush Chawla/Instagram)

कोरोनावायरस के कारण लगातार दूसरे दिन किसी क्रिकेटर ने अपने पिता को खोया है। रविवार (9 मई) को राजस्थान रॉयल्स के युवा तेज गेंदबाज चेतन सकारिया के पिता का निधन हुआ था। अब सोमवार (10 मई) को दो बार वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के सदस्य रहे अनुभवी लेग स्पिनर पीयूष चावला के पिता का देहांत हो गया। पीयूष के पिता प्रमोद कुमार चावला 60 साल के थे और करीब 10 दिन से अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

चावला ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘‘हम गहरे दुख के साथ यह घोषणा कर रहे हैं कि हमारे प्रिय पिताजी प्रमोद कुमार चावला का 10 मई 2021 को निधन हो गया। वे कोविड और उसके बाद की जटिलताओं से जूझ रहे थे। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।’’ चावला की आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस ने भी शोक व्यक्त किया। मुंबई ने ट्वीट किया, ‘‘पीयूष चावला के प्रति हमारी संवेदना है जिनके पिताजी प्रमोद कुमार चावला का आज सुबह निधन हो गया। इस मुश्किल समय में हम आपके और आपके परिवार के साथ हैं। ईश्वर आपको यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करे।’’

32 वर्षीय चावला ने भारत की तरफ से तीन टेस्ट, 25 वनडे और सात टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। वह घरेलू स्तर पर अभी गुजरात का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने 136 प्रथम श्रेणी मैचों में 445 विकेट लिए हैं। चावला 2007 टी20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के सदस्य रहे हैं। चावला ने 3 टेस्ट में 7, 25 वनडे में 32 और 7 टी20 मैचों में 4 विकेट लिए हैं। उन्होंने आईपीएल के 164 मैच में 156 विकेट झटके हैं।

क्रिकेट की दुनिया से अलग पूर्व हॉकी खिलाड़ी जार्ज फर्नाडिस का निधन हो गया। हॉकी इंडिया ने सोमवार को पूर्व खिलाड़ी जार्ज फर्नाडिस के निधन पर शोक व्यक्त किया जिनका कोविड-19 के कारण रविवार को बेंगलुरू में निधन हो गया था। फर्नाडिस 67 साल के थे। इससे पहले शनिवार को भारत के दो मशहूर हॉकी खिलाड़ियों रविंदर पाल सिंह और एम के कौशिक का कोविड-19 के कारण निधन हो गया था। ये दोनों मास्को ओलंपिक 1980 की स्वर्ण पदक विजेता टीम के सदस्य थे।

Next Stories
1 बाबर आजम ने रचा इतिहास, ICC ने दिया खास अवॉर्ड; जिम्बाब्वे से पाकिस्तान लगातार तीसरी टेस्ट सीरीज जीता
2 MS DHONI ने वर्ल्ड कप फाइनल से पहले वीरेंद्र सहवाग को लेकर बोला था ‘झूठ’, भारतीय ओपनर ने सुनाया था मजेदार किस्सा
3 सौरव गांगुली का ऐलान; जुलाई में श्रीलंका दौरे पर जाएगी टीम इंडिया, विराट कोहली-रोहित शर्मा नहीं होंगे टीम का हिस्सा
ये पढ़ा क्या?
X