ताज़ा खबर
 

इस दिग्गज ने वर्ल्ड कप के बाद भी धोनी को टीम में बनाये रखने की वकालत की

सौरव गांगुली ने वर्तमान भारतीय तेज आक्रमण को शानदार करार दिया और कहा कि जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की जोड़ी वर्ल्ड कप में अहम भूमिका निभाएगी।

Author Updated: March 7, 2019 8:39 PM
World Cup 2019, MS DhonI, Sourav Ganguly, 2019 World Cup, Team India, Australia tour of India 2019, MS Dhoni retirementअभ्यास के दौरान धोनी ने फैंस को दिया ऑटोग्राफ (PTI Photo)

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने गुरुवार को वनडे वर्ल्ड कप के बाद भी महेंद्र सिंह धोनी को टीम में बनाये रखने की वकालत की और कहा कि अगर कोई प्रतिभावान है तो उम्र कोई मुद्दा नहीं होना चाहिए। वर्ल्ड कप अब पास में है और लोगों को लगता है कि धोनी का यह अंतिम अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट होगा लेकिन गांगुली की सोच इससे हटकर है।

गांगुली ने पीटीआई से कहा, ‘‘धोनी वर्ल्ड कप के बाद भी बने रह सकते हैं। अगर भारत विश्व कप जीतता है और धोनी लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो फिर उन्हें संन्यास क्यों लेना चाहिए। अगर कोई प्रतिभावान है तो फिर उम्र मसला नहीं होना चाहिए।’’ गांगुली ने वर्तमान भारतीय तेज आक्रमण को शानदार करार दिया और कहा कि जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की जोड़ी वर्ल्ड कप में अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण शानदार है। चाहे बुमराह हो या शमी भारतीय तेज गेंदबाज लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इंग्लैंड में तेज गेंदबाज टीम के लिये महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।’’

गांगुली के अनुसार भुवनेश्वर कुमार वर्ल्ड कप में तीसरे तेज गेंदबाज होंगे जबकि उमेश यादव चौथे तेज गेंदबाज के रूप में इंग्लैंड जाएंगे। शिखर धवन भले ही खराब फार्म में चल रहे हों लेकिन गांगुली ने शीर्ष क्रम में रोहित शर्मा के साथ बायें हाथ के इस बल्लेबाज को बनाये रखने का पक्ष लिया। उन्होंने कहा, ‘‘सलामी जोड़ी में बदलाव नहीं करना चाहिए। रोहित शर्मा और शिखर धवन आदर्श जोड़ी है जो भारत को तेज शुरुआत दे सकती है। लेकिन के एल राहुल भी टीम में है। शिखर और रोहित को पारी शुरू करनी चाहिए। इनके अलावा राहुल है जो पारी का आगाज कर सकता है।’’

गांगुली ने बल्लेबाजी क्रम के बारे में कहा कि विराट कोहली को नंबर तीन पर आना चाहिए और उनके बाद अंबाती रायुडु, धोनी और केदार जाधव को उतरना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘विराट तो विराट है। वह बेहतरीन फार्म में है। विराट को तीसरे नंबर पर ही बल्लेबाजी करनी चाहिए। रायुडु को चौथे, धोनी को पांचवें और केदार को छठे नंबर पर उतारना चाहिए।’’ विजय शंकर के अच्छे प्रदर्शन से चयनकर्ताओं के लिये नया सरदर्द पैदा हो गया है और गांगुली का मानना है कि विश्व कप के लिये रविंद्र जडेजा के नाम पर विचार नहीं किया जाना चाहिए और उनकी जगह तमिलनाडु के आलराउंडर को टीम में होना चाहिए।

गांगुली ने कहा, ‘‘रविंद्र जडेजा को विश्व कप टीम में नहीं होना चाहिए। विजय शंकर ने नागपुर मैच में शानदार गेंदबाजी की। मेरा मानना है कि विजय विश्व कप टीम में जगह का हकदार है।’’ गांगुली का मानना है कि विश्व कप के लिये भारतीय एकादश की भविष्यवाणी करना अभी जल्दबाजी होगा लेकिन उन्होंने अपनी पंद्रह सदस्यीय टीम चुनी। गांगुली की वर्ल्ड कप के लिये भारतीय टीम इस प्रकार है: रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, विराट कोहली, अंबाती रायुडु, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पंड्या, विजय शंकर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव।

Next Stories
1 ISL 2018-19 Semi-Final,Northeast United vs Bengaluru FC Highlights: आखिरी मिनट में गोल दाग नॉर्थईस्ट ने जीता 2-1 से मुकाबला
2 ISL 2018-19 Semi Final , NorthEast United FC vs Bengaluru FC Playing 11: ये है दोनों टीमों की प्लेइंग इलेवन
3 Ind vs Aus 3rd ODI: 33 रन बनाते ही सचिन समेत इन दिग्गजों के क्लब में शामिल हो जाएंगे धोनी
ये पढ़ा क्या?
X