ताज़ा खबर
 

टी20 क्रिकेट में 2 हजार रन पूरा करने वाली पहली भारतीय बनीं मिताली राज

मिताली राज ने ये उपलब्धि 74वें मैच में हासिल की है। मिताली ने इस दौरान 71 पारियों में 18 बार नाबाद रहते हुए 14 अर्धशतक जड़े हैं।

मिताली राज। (Photo Courtesy: ICC)

भारत ने 7 जून को क्वालालंपुर महिला एशिया कप टी 20 टूर्नामेंट में श्रीलंका में सात विकेट से हराकर फाइनल में जगह बनाने की उम्मीदें जिंदा रखी हैं। इस मुकाबले में मिताली राज ने 23 रन की पारी खेली। इसके साथ ही वह अंतर्राष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में 2 हजार रन पूरा करने वाली पहली भारतीय भी बन गई हैं। मिताली राज ने ये उपलब्धि 74वें मैच में हासिल की है। मिताली ने इस दौरान 71 पारियों में 18 बार नाबाद रहते हुए 14 अर्धशतक जड़े हैं।

गुरुवार को खेले गए इस मैच में थाईलैंड और मलेशिया के खिलाफ आसान जीत के बाद भारत को पिछले मैच में बांग्लादेश के खिलाफ सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा था जो अपने इस पड़ोसी देश के खिलाफ किसी भी प्रारूप में उसकी पहली हार है। भारत ने हालांकि आज बेहतर प्रदर्शन किया। बायें हाथ की स्पिनर एकता बिष्ट (20/2) ने दो विकेट चटकाने के अलावा दो बल्लेबाजों को रन आउट भी किया। झूलन गोस्वामी (20 रन पर एक विकेट), अनुजा पाटिल (19/1) और पूनम यादव (23/1) ने भी एक-एक विकेट चटकाए जिससे श्रीलंका की टीम सात विकेट पर 107 रन ही बना सकी।

भारत ने इसके जवाब में शीर्ष और मध्यक्रम की बल्लेबाजों की उम्दा पारियों की मदद से सात गेंद शेष रहते तीन विकेट पर 110 रन बनाकर जीत दर्ज की। सलामी बल्लेबाजों मिताली राज (23) और स्मृति मंधाना (12) ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। ये दोनों हालांकि जब पवेलियन लौटी तो 11 .2 ओवर में भारत का स्कोर दो विकेट पर 55 रन था। कप्तान हरमनप्रीत कौर ने इसके बाद 25 गेंद में दो चौकों की मदद से 24 रन बनाए। हरमनप्रीत जब पवेलियन लौटी तो भारत का स्कोर तीन विकेट पर 70 रन था।

gauri khan, ameesha patel, disha patani, mithali raj, monali thakur, priyanka chopra

वेदा कृष्णमूर्ति (29) और अनुजा पाटिल (19) ने इसके बाद 32 गेंद में 40 रन की अटूट साझेदारी करके भारत को लक्ष्य तक पहुंचाया। भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश तीनों के फिलहाल चार-चार मैचों में छह-छह अंक हैं। लेकिन हालांकि प्लस 2.709 की रन रेट के साथ शीर्ष पर चल रहा है। फाइनल में जगह बनाने के लिए भारत को शनिवार को अपने अंतिम मैच में हर हाल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हराना होगा।

इससे पहले श्रीलंका की कप्तान शशिकला सिरिवर्धने का टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला गलत साबित हुआ। टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और सात विकेट पर 107 रन ही बना सकी। हसिनी परेरा ने 43 गेंद में सर्वाधिक 46 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में चार चौके मारे। सलामी बल्लेबाज यशोदा मेंडिस ने भी 39 गेंद में 27 रन की पारी खेली। इन दोनों के अलावा कोई अन्य बल्लेबाज दोहरे अंक में नहीं पहुंच सकी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App