scorecardresearch

Wimbledon: दर्शक पर थूकने वाले ऑस्ट्रेलियाई टेनिस स्टार को भरने होंगे 8 लाख, 5 महिलाओं समेत 13 खिलाड़ियों पर भी लगा हजारों डॉलर का जुर्माना

Wimbledon 2022: किर्गियोस से पहले स्वीडन के टेनिस खिलाड़ी एलेक्जेंडर रिट्सचार्ड पर 5,000 डॉलर का जुर्माना लगाया गया था। उन पर यह जुर्माना मैच के दौरान खेल भावना के खिलाफ आचरण के लिए लगा।

विम्बलडन ने खेल भावना के विपरीत आचरण करने के लिए ऑस्ट्रेलिया के निक किर्गियोस पर 10,000 डॉलर का जुर्माना लगाया गया है। (सोर्स- रायटर्स)

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी निक किर्गियोस पर विम्बलडन टेनिस ग्रैंडस्लैम में पहले दौर की जीत के दौरान खेल भावना के विपरीत आचरण करने के लिए 10,000 डॉलर (करीब 7.9 लाख रुपए) का जुर्माना लगाया गया है। यह टूर्नामेंट में अब तक लगाया गया सबसे बड़ा जुर्माना है। इसके अलावा इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे 13 अन्य खिलाड़ियों पर भी जुर्माने लगाए गए हैं।

किर्गियोस ने इस टूर्नामेंट में पहले दौर के मैच के बाद हुई प्रेस कांफ्रेंस में स्वीकार किया था कि उन्होंने परेशान कर रहे दर्शक की ओर थूका था। ऑल इंग्लैंड क्लब ने मैच के दौरान लगे जुर्माने की राशि की घोषणा की। किर्गियोस से पहले स्वीडन के टेनिस खिलाड़ी एलेक्जेंडर रिट्सचार्ड पर 5,000 डॉलर का जुर्माना लगाया गया। एलेक्जेंडर रिट्सचार्ड पर यह जुर्माना क्वालिफाइंग में पहले दौर के मैच के दौरान खेल भावना के खिलाफ आचरण के लिए लगा।

ऑल इंग्लैंड क्लब ने टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे अन्य 7 पुरुष टेनिस खिलाड़ियों पर भी 3-3 हजार डॉलर का जुर्माना लगाया। इन खिलाड़ियों पर खेल भावना के विपरीत आचरण करने या फिर अश्लील शब्द कहने के लिए जुर्माना लगाया गया है।

इसके अलावा कुल 5 महिला खिलाड़ियों पर भी जुर्माना लगाया गया है। इनमें सबसे बड़ी राशि का जुर्माना दारिया साविले पर पहले दौर में 4,000 डॉलर का लगा था। उन पर यह जुर्माना रैकेट या उपकरण पटकने के कारण लगाया गया था।

किर्गियोस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह भी बताया था कि वह अपने अब तक के करियर में लगभग 800,000 अमेरिकी डॉलर (करीब 6.3 करोड़ रुपए) का जुर्माना भर चुके हैं। किर्गियोस ने कहा था, ‘मेरे ऊपर जो भी जुर्माना लगाया जाता है वह दान में जाता है, इसलिए यह सभी के लिए है।’

कहना गलत नहीं होगा कि विम्बलडन की ओर से जुर्माना सूची जारी करने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि खराब आचरण करने वाले किसी भी खिलाड़ी को बिना दंडित किए नहीं छोड़ा जाएगा।

ऑस्ट्रेलियाई टेनिस खिलाड़ी पर ही लगा है विम्बलडन इतिहास का सबसे बड़ा जुर्माना

विम्बलडन के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा जुर्माना ऑस्ट्रेलिया के बर्नार्ड टॉमिक पर 80 हजार डॉलर (63.16 लाख रुपए) लगा था। बर्नार्ड पर 2019 में मानकों के अनुरूप नहीं खेलने के लिए जुर्माना लगाया गया था। जॉर्जिया-अमेरिका की महिला टेनिस खिलाड़ी अन्ना ततिश्विली पर 51500 डॉलर (40.66 लाख रुपए) का जुर्माना लगा था। यह विम्बलडन में अब तक का दूसरा सबसे बड़ा जुर्माना है।

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X