ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी खिलाड़ी ने शादी में शामिल होने के लिए सौरव गांगुली को दिया न्योता, दादा ने किया था यह फैसला

यासिर ने कहा कि उन्होंने कई क्रिकेटरों को आमंत्रित किया था लेकिन व्यस्त होने के कारण हर कोई शामिल नहीं हो सका। उन्होंने पाकिस्तान के लिए 13 टी20 मैच, 11 वनडे और 3 टेस्ट मैच खेल चुके हैं।

सौरव गांगुली अक्टूबर 2019 में बीसीसीआई के अध्यक्ष बने थे। (फाइल)

पूर्व भारतीय कप्तान और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली के पाकिस्तान सहित दुनिया भर में प्रशंसक हैं। पाकिस्तान के तेज गेंदबाज यासिर अराफात गांगुली की प्रशंसा करने वालों में नए हैं। गांगुली के बारे में एक कहानी बताते हुए अराफात ने कहा कि व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद, ‘ऑफसाइड के देवता’ उनकी शादी में शामिल हुए थे। अराफात पाकिस्तान के लिए 13 टी20 मैच, 11 वनडे और 3 टेस्ट मैच खेल चुके हैं।

तेज गेंदबाज ने स्पोर्ट्स यारी यूट्यूब चैनल से बात करते हुए कहानी को याद किया। उन्होंने कहा कि भारत के दिग्गज ने उनकी शादी में शामिल होने के उनके निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था। यासिर ने कहा कि उन्होंने कई क्रिकेटरों को आमंत्रित किया था लेकिन व्यस्त होने के कारण हर कोई शामिल नहीं हो सका। हालांकि, दादा के नाम मशहूर गांगुली ने अपने व्यस्त शेड्यूल में समय निकाल लिया था।

अराफात ने कहा, ‘‘सौरव गांगुली बहुत ही विनम्र इंसान हैं। मुझे यह नहीं पता कि उनके फैंस इस बात को जानते हैं या नहीं वो मेरी शादी में शामिल होने आए थे। मैंने काफी सारे क्रिकेटरों को न्योता दिया था लेकिन हर कोई नहीं आया। मैंने सौरव गांगुली को गुजारिश की थी और वो आए। मुझे लगता है उस वक्त वह थोड़े व्यस्त भी चल रहे थे, इसके बावजूद भी वह मेरी शादी के समारोह में शामिल होने पहुंचे।’’

39 वर्षीय अराफात ने यह भी बताया कि भारतीय अभिनेता शाहरुख खान से कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलने का प्रस्ताव मिला था। यासिर ने कहा कि हालांकि वह लीग के पहले सीजन में खेलने से चूक गए थे। केकेआर ने दूसरे संस्करण से पहले इंग्लैंड में एक स्काउट भेजा था। इसके अलावा यासिर ने कहा कि स्काउट ने उन्हें शाहरुख द्वारा उनके आंकड़ों पर नजर रखने की बात भी कही, लेकिन उन्हें विश्वास नहीं हुआ। उन्हें शाहरुख का कार्ड सौंपा गया और अभिनेता से संपर्क करने के लिए कहा गया, लेकिन इस तेज गेंदबाज ने ऐसा नहीं किया।

अराफात ने कहा, ‘‘मुझे लगा कि कोई मुझसे मजाक कर रहा है।’’ बाद में यासिर को भारत से फोन आया, जल्द ही उन्हें एहसास हुआ कि यह कोई मजाक नहीं था और केकेआर उन्हें तीन साल का अनुबंध देने के लिए तैयार था। शाहरुख ने यासिर को फोन किया और टीम में उनका स्वागत किया था। यासिर ने भले ही एक सफल अंतरराष्ट्रीय करियर नहीं बनाया हो, लेकिन काउंटी क्रिकेट में उन्हें काफी सम्मान मिला है। वह सरे, हैम्पशायर, ससेक्स और समरसेट जैसी टीमों के लिए खेल चुके हैं।

Next Stories
1 WTC Final 2021: न्यूजीलैंड से फाइनल को लेकर हरभजन सिंह बोले, इशांत शर्मा की जगह मोहम्मद सिराज को मिले प्लेइंग-11 में जगह
2 ‘हां मैंने मैच के दौरान नाइट क्लब में पार्टियां की थीं,’ रवि शास्त्री ने Playboy वाली इमेज पर सुनाई थी कोलकाता टेस्ट की कहानी
3 तीसरे स्थान पर पुजारा पर विलियमसन भारी
ये पढ़ा क्या?
X