ताज़ा खबर
 

एक नहीं, तब पाकिस्तानी टीम के 11 खिलाड़ी बने थे मैन ऑफ द मैच

1996 में कुछ ऐसा ही हुआ था। एक सितंबर को इंग्लैंड और...

जंगल में जैसे एक शेर होता है। क्रिकेट में भी वैसे ही एक मैन ऑफ द मैच होता है। लेकिन जब यह खिताब टीम के सभी खिलाड़ियों (प्लेइंग-11) को दिया जाए, तो चौंकना स्वाभाविक है। 1996 में कुछ ऐसा ही हुआ था। एक सितंबर को इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच मैच हुआ। वन डे- 50 ओवर्स वाला। यह सामान्य मैचों की तरह नहीं था। वरना आज इसकी चर्चा न हो रही होती।

पाकिस्तान के इसमें प्लेइंग-11 खिलाड़ियों को मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया था। ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि मैच के निर्णायक टॉम ग्रेवेनी थे। उन्हें इस अवॉर्ड के लिए कोई भी खिलाड़ी ठीक नहीं लगा था।

पाकिस्तान की ओर से तब इस मैच में 11 में से 9 खिलाड़ियों ने टीम को जिताने के लिए अपनी जान झोंक दी थी। 50 ओवर्स में इंग्लैंड ने 246 रन बनाए थे। जबकि पाकिस्तान ने आठ विकेट के नुकसान पर 49.4 ओवर्स में 247 रन बनाए और मैच अपने नाम किया था। बाद में ऐसा ही वाकया दक्षिण अफ्रीका की टीम के साथ घटा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App