ताज़ा खबर
 

वकार युनूस को पाकिस्तान के कोच पद से इस्तीफे का पछतावा

पाकिस्तान के पूर्व मुख्य कोच वकार युनूस को राष्ट्रीय टीम में अपना काम पूरा किए बिना कोच पद से इस्तीफा देने का पछतावा है और उन्हें टीम के साथ काम करने की कमी खल रही है।
Author कराची | June 13, 2016 02:04 am
पाकिस्तान के पूर्व मुख्य कोच वकार यूनिस। (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के पूर्व मुख्य कोच वकार युनूस को राष्ट्रीय टीम में अपना काम पूरा किए बिना कोच पद से इस्तीफा देने का पछतावा है और उन्हें टीम के साथ काम करने की कमी खल रही है। युनूस को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के साथ हुए विवाद के बाद अप्रैल में अपने पद से हटने पर मजबूर होना पड़ा था। एशिया कप और विश्व टी20 में टीम के प्रदर्शन पर दी गई उनकी रिपोर्ट के लीक होने के बाद यह विवाद हुआ था, जिसके कारण उन्हें हटना पड़ा था। पीसीबी ने अब आर्थर को दो साल के अनुबंध पर नियुक्त किया है।

युनूस (44 वर्ष) ने स्वीकार किया कि उन्हें पाकिस्तान के साथ काम करने की कमी खल रही है क्योंकि वे दुनिया के शीर्ष टीमों से प्रतिस्पर्धा में राष्ट्रीय टीम की मदद करना चाहते थे। पूर्व टैस्ट कप्तान ने ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ अखबार से कहा कि कोई भी खिलाड़ी जो देश की 10 या इससे ज्यादा साल तक सेवा कर चुका है, वह टीम को अच्छा करते हुए देखना चाहता है। वह टीम को दुनिया की टीमों से पीछे नहीं देखना चाहता।

अजहर महमूद को सहायक कोच के पद की पेशकश
पाकिस्तान के पूर्व टैस्ट हरफनमौला अजहर महमूद को राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के सहायक कोच के पद की पेशकश की गई है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान ने इसकी पुष्टि की कि अजहर को पद की पेशकश की गई है जिसमें गेंदबाजी कोच का काम भी शामिल है। उन्होंने कहा कि अजहर ने रजामंदी जताई है लेकिन इंग्लैंड में काउंटी टीम के साथ अपने आनुबंधिक दायित्व पूरे होने के बाद ही वे पुष्टि करेंगे।

उन्होंने कहा कि अजहर की नियुक्ति मुख्य कोच मिकी आर्थर से सलाह करके की गई। उन्होंने कहा कि मिकी आर्थर ने हमसे कहा था कि किसी पाकिस्तानी को सहायक कोच बनाया जाए ताकि इससे उन्हें टीम के साथ घुलने मिलने में आसानी हो जाए।

पीसीबी ने आमिर को इंग्लैंड दौरे पर अच्छे बर्ताव की ताकीद की
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के आला अधिकारियों ने तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को इंग्लैंड दौरे पर अच्छा बर्ताव करने और और टीम प्रबंधन, भ्रष्टाचार निरोधक और सुरक्षा मैनेजर के हर निर्देश मानने की ताकीद की है। एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि ब्रिटिश अधिकारियों द्वारा आमिर को वीजा देने की पुष्टि किए जाने के बाद पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान, नजम सेठी और मुख्य संचालन अधिकारी सुभान अहमद ने लाहौर में इस तेज गेंदबाज से मुलाकात की।

अधिकारी ने कहा कि मुलाकात के दौरान आमिर को साफ तौर पर कहा गया कि उसे टीम प्रबंधन, भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई और सुरक्षा मैनेजर की हर बात माननी होगी और मैनेजर की इजाजत के बिना वे मीडिया से कोई बात नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि आमिर से कहा गया कि उन्हें खराब हालात का सामना करने के लिए मानसिक रूप से तैयार रहना होगा क्योंकि दर्शकों के बर्ताव पर किसी का काबू नहीं है। उन्हें संयम से काम लेना होगा। आमिर, सलमान बट और मोहम्मद आसिफ को इंग्लैंड में 2010 में स्पॉट फिक्सिंग का आरोपी पाया गया था। उन्हें ब्रिटेन में जेल की सजा भी काटनी पड़ी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule