ताज़ा खबर
 

सचिन तेंदुलकर को बूढ़ा बोल रहे थे माइकल क्लार्क, वीरेंद्र सहवाग ने कर दी थी बोलती बंद; वीरू ने कपिल शर्मा के शो पर किया था खुलासा

सहवाग बल्लेबाजी करते हुए गाना गाते थे। यह बात तो लगभग उनका हर प्रशंसक जानता होगा, लेकिन यह शायद ही किसी को मालूम हो कि जब उनके बल्ले से रन नहीं बनते थे तब वह भजन गाने लगते थे।

Virender Sehwag, Sachin Tendulkar, kapil sharma, The kapil sharma showकपिल शर्मा के शो पर वीरेंद्र सहवाग कई बार जा चुके हैं। (सोर्स- स्क्रीनशॉट)

भारत के दिग्गज खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर को दुनिया में ‘क्रिकेट का भगवान’ कहा जाता है। इसके बावजूद वे स्लेजिंग से नहीं बच पाए हैं। कभी शोएब अख्तर तो कभी रिकी पोंटिंग ने उन्हें उकसाने का प्रयास किया। यहां तक कि सचिन से 8 साल छोटे माइकल क्लार्क ने भी एक बार उनपर छींटाकशी की थी। इसका खुलासा वीरेंद्र सहवाग ने कपिल शर्मा के शो पर किया था। सचिन पर छींटाकशी का जवाब सहवाग ने क्लार्क को दिया था।

कपिल शर्मा ने शो को दौरान कहा था, ‘‘क्रिकेट में दूसरे खिलाड़ियों का ध्यान भटकाने के लिए स्लेजिंग की जाती है। सचिन सर (सचिन तेंदुलकर) के बारे में यह कहा जाता था कि उनको कोई कुछ भी बोलता था तो उनका कान बंद रहता था। उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता था। हालांकि, सचिन के खिलाफ होने वाली स्लेजिंग का जवाब हमेशा वीरू पाजी (सहवाग) देते थे। इस पर वीरेंद्र सहवाग ने कहा, ‘‘सचिन कुछ देर के फील्डिंग से बाहर रहे थे। शायद ने उनकी पीठ में समस्या थी। फिर बाद में वो बल्लेबाजी करने आए थे। इसके बाद माइकल क्लार्क उनके खिलाफ बोले जा रहा था।’’

इसके बाद सहवाग ने क्लार्क से पूछा, ‘‘तुम्हारी क्या उम्र हैं? तो क्लार्क ने जवाब दिया -23 साल। इस पर सहवाग ने कहा, ‘‘तुम्हे पता हैं सचिन के टेस्ट में शतकों की संख्या तुम्हारी उम्र से भी कहीं ज्यादा हैं।’’ इतना सुनने के बाद भी माइकल क्लार्क नहीं माना तब सहवाग एक बार क्लार्क के पास गए और उनसे कहा कि तुम्हारे दोस्त तुमको पप (पप) कहते हैं? तो क्लार्क ने कहा- हां। इस पर सहवाग ने एक और प्रश्न कर डाला, ‘‘तो कौन-सी नस्ल के हो?’’ इतना सुनकर माइकल क्लार्क का मुंह देखने लायक हो गया।

सहवाग बल्लेबाजी करते हुए गाना गाते थे। यह बात तो लगभग उनका हर प्रशंसक जानता होगा, लेकिन यह शायद ही किसी को मालूम हो कि जब उनके बल्ले से रन नहीं बनते थे तब वह भजन गाने लगते थे। सहवाग ने कहा, ‘गानों का ऐसा किस्सा था कि जब मेरे रन नहीं बनते थे तो मैं भजन गाता था। लेकिन जब रन बनने शुरू हो जाते थे तो फिर बॉलीवुड पर आ जाता था। जब रन बनते थे तो चिंटियां कलाइया और शीला की जवानी गाने लगता था।’’

Next Stories
1 खुशखबरी: पूरी दुनिया में छाने लगा क्रिकेट का जुनून
2 भारत और आस्ट्रेलिया शृंखला का विवादों से पुराना नाता, जब बाउंसर पर पगबाधा हुए सचिन…
3 आस्ट्रेलिया दौरा : प्रमुख तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और उमेश यादव चोटिल होकर टीम से बाहर, भारत की नैया के स्पिनर खेवैया
ये पढ़ा क्या?
X