सचिन तेंदुलकर के घर जैसा ही आलीशान है वीरेंद्र सहवाग का बंगला, चांदनी रात में देता है महल जैसा लुक

सहवाग की कोठी में प्रवेश करते ही एक गेस्ट रूम है। यहां पर उनसे मिलने वाले आकर बैठते हैं। गेस्ट रूम में सहवाग के मैदान में खेलने वाली कुछ तस्वीरें लगी हुईं हैं। सोफा और कुर्सियां करीने से रखी गईं हैं।

Virender Sehwag bungalow luxurious Home
वीरेंद्र सहवाग के घर के बेसमेंट में बेहतरीन जिम है। वीरू अगर घर में हैं तो जिम में सुबह-शाम वर्कआउट जरूर करते है। इस दौरान उनके निजी ट्रेनर भी आते हैं। (सोर्स- इंस्टाग्राम/वीरेंद्र सहवाग)

टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक लगाने वाले भारत के इकलौते बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को दुनिया को विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक माना जाता है। क्रिकेट से संन्यास के बाद वह लोकप्रिय कमेंटेटर हैं।

सोशल मीडिया पर भी वह काफी एक्टिव रहते हैं और वीरू के फंडे काफी प्रसिद्ध हैं। वह सोशल मीडिया पर अक्सर जो अपनी तस्वीरें शेयर करते रहते हैं, उन्हें देखकर लगता है कि वह बहुत सादगी भरा जीवन जीते हैं। हालांकि, उनके घर की कीमत जानकर आपके होश उड़ सकते हैं।

housing.com की रिपोर्ट के मुताबिक, सहवाग के घर की कीमत 130 करोड़ रुपए से भी ज्यादा है। उनके घर का नाम कृष्णा निवास है। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का आशियाना भी 100 करोड़ से ज्यादा कीमत का है। सहवाग ने करीब 8 साल पहले नई दिल्ली के पॉश इलाके हौज खास में अपने और अपने परिवार के लिए एक एकड़ की फॉर्मलैंड खरीदी थी।

धोनी की मैच विनिंग पारी पर सहवाग ने बोला- ‘ओम फिनिशाय नम:’, BCCI सचिव जय शाह ने भी कही ये बात

वीरेंद्र सहवाग कुछ साल पहले ही परिवार के साथ नजफगढ़ से यहां शिफ्ट हुए हैं। जिस इलाके में सहवाग की हवेली है, वह इलाके राजधानी के सबसे महंगे स्थानों में से एक है। यहां संपत्ति की दरें 30,000 रुपये प्रति वर्ग फुट के आसपास हैं। चांदनी रात में जब कोठी की लाइट्स ऑन रहती हैं तब इसका लुक देखने लायक होता है। तब यह किसी महल से कम नहीं लगता है।

सहवाग की कोठी में प्रवेश करते ही एक गेस्ट रूम है। यहां पर उनसे मिलने वाले आकर बैठते हैं। गेस्ट रूम में सहवाग के मैदान में खेलने वाली कुछ तस्वीरें लगी हुईं हैं। सोफा और कुर्सियां करीने से रखी गईं हैं। इसके बाद ड्राइंग रूम का नंबर आता है।

ड्राइंग रूम भी बेहद खूबसूरत अंदाज में सजा है। इसकी दीवारों पर जो तस्वीरें लगी हैं, उनमें उन्हें 2002 में मिले अर्जुन पुरस्कार और 2008 में मिले विजडन लीडिंग क्रिकेटर इन द वर्ल्ड के सम्मान वाली खास हैं।

सहवाग अपने माता-पिता के चार बच्चों में तीसरी संतान हैं। उनसे बड़ी दो बहनें मंजू और अंजू हैं, जबकि एक छोटा भाई विनोद है। सहवाग अपनों बेटों के जन्मदिन भव्य तरीके से मनाते हैं। उसमें क्रिकेट और क्रिकेट की दुनिया से अलग के मित्र शामिल होते हैं।

70 करोड़ से भी ज्यादा का है युवराज सिंह और हेजल कीच का आशियाना, पॉवर कपल विराट कोहली और अनुष्का शर्मा के हैं पड़ोसी

जन्मदिन का आयोजन घर के ड्राइंग रूम में ही होता है। सहवाग के घर में 8-9 कमरे हैं। सहवाग रोज सुबह-शाम मां के पास जरूर बैठते हैं। उनके घर में खाना सब लोग मिल-बैठकर खाते हैं। किचन की जिम्मेदारी मां और पत्नी आरती के ऊपर है।

दिल्ली के केंद्र में होने के बाद भी यह राजधानी के व्यस्त यातायात और प्रदूषण से दूर है। हवाई अड्डे के साथ इस इलाके की कनेक्टिविटी भी बहुत बढ़िया है।

दिल्ली के हौज खास इलाके की खासियत

इस इलाके में दिल्ली के कुछ सबसे बड़े हरित क्षेत्र, जैसे डियर पार्क और रोज गार्डन स्थित हैं।

एम्स और सफदरजंग जैसे दो बड़े अस्पताल भी पास में ही हैं।

हौज खास में हौज खास झील, एक मस्जिद और खिलजी राजवंश (1290-1320) का एक मकबरा है।

यह इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से महज 11 किलोमीटर दूर है। वहीं हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन 8 किमी दूर है।

जब वीरू को लगा था फ्लाइट में डर, जा सकती थी जान; इंटरव्यू में सुनाया था रोमांचक किस्सा

पहले नजफगढ़ में महलनुमा घर में रहते थे वीरू

हौज खास में शिफ्ट होने से पहले वीरेंद्र सहवाग नजफगढ़ में एक और विशाल और महलनुमा घर में रहते थे। उस घर में रसोईघर और वॉशरूम के अलावा 12 बड़े कमरे थे। घर के भीतर पार्किंग की जगह पर्याप्त थी। वहां सहवाग बिना किसी परेशानी के अपनी लग्जरी कारों के संग्रह को आसानी से रख सकते थे।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट