ताज़ा खबर
 

एमएस धोनी के समर्थन में उतरे वीरेंद्र सहवाग, बोले- उन्‍हें आईपीएल से जज नहीं कर सकते

भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी की हालिया फॉर्म को लेकर काफी बहस हो रही है। आईपीएल 10 में धोनी का बल्‍ला खामोश रहा है

भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी की हालिया फॉर्म को लेकर काफी बहस हो रही है।

भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी की हालिया फॉर्म को लेकर काफी बहस हो रही है। आईपीएल 10 में धोनी का बल्‍ला खामोश रहा है और चार मैच में वे केवल 33 रन बना पाए हैं। सोशल मीडिया पर भी इस बारे में काफी चर्चा है और वहां पर #Dhonidropped हैशटैग ट्रेंड कर रहा है। कई पूर्व क्रिकेटर जैसे सौरव गांगुली और माइकल क्‍लार्क भी धोनी की फॉर्म पर सवाल उठा चुके हैं। हालांकि ब्रेट ली ने पूर्व भारतीय कप्‍तान का समर्थन किया है। अब वीरेंद्र सहवाग ने भी धोनी की पैरवी की है। उन्‍होंने क‍हा कि जहां पर धोनी बल्‍लेबाजी करने को आते हैं वह काफी मुश्किल है। लोगों को सब्र रखने की जरुरत है वे जल्‍द ही पूरी ताकत से वापसी करेंगे।

सहवाग ने एबीपी न्‍यूज से बातचीत करते हुए कहा, ”जिस पॉजीशन पर धोनी बल्‍लेबाजी को आते हैं वह मुश्किल है। नंबर पांच और छह के लिए वह अभी भी बेस्‍ट हैं। इसमें कोई शक नहीं है कि वे जल्‍द ही फॉर्म में वापसी करेंगे। आईपीएल में अभी काफी समय है। धोनी जैसे कद वाले खिलाड़ी को केवल तीन-चार मैच के आधार पर जज नहीं किया जाना चाहिए।” उन्‍होंने इंग्‍लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में धोनी के प्रदर्शन की तारीफ करते हुए कहा कि वे बिलकुल भी आउट ऑफ टच नहीं हैं। सहवाग ने आगे कहा कि चैंपियंस ट्रॉफी में धोनी के बिना भारतीय टीम की उम्‍मीद भी नहीं की जा सकती।

सहवाग ने बताया, ”उन्‍होंने हाल ही में इंग्‍लैंड के खिलाफ मैच जिताने वाला शतक लगाया है। इसलिए मुझे नहीं लगता कि वह फॉर्म से दूर हैं। आप बिना धोनी के चैंपियंस ट्रॉफी जाने वाली भारतीय टीम की कल्‍पना भी नहीं की जा सकती। आईपीएल जैसे टूर्नामेंट में इस तरह की चीजें हो सकती हैं। धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी को जज करने के लिए आईपीएल कोर्इ प्‍लेटफॉर्म नहीं होना चाहिए। अगर आप एक नौजवान को आईपीएल से जज करते हैं तो ठीक है क्‍योंकि उसके लिए भारी भीड़ के सामने प्रदर्शन करना मुश्किल होता है।” बता दें कि आईपीएल 10 की नीलामी से एक दिन पहले धोनी को राइजिंग पुणे सुपरजाएंट की कप्‍तानी से हटा दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App