ताज़ा खबर
 

टेस्‍ट क्रिकेट में डॉन ब्रैडमैन से भी आगे हैं विराट कोहली, जानिए कैसे

विराट कोहली ना केवल एकदिवसीय मैचों में या टी-20 मैचों में ही अच्छा करते हैं, बल्कि टेस्ट मैच में भी उन्होंने कई रिकॉर्ड्स अपने नाम किए हैं।

कप्तान विराट कोहली (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली एक के बाद एक सभी बड़े रिकॉर्ड्स अपने नाम करते जा रहे हैं। केवल भारत ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में विराट कोहली अपना जलवा बिखेर रहे हैं। हर बार जब भी कोहली बल्लेबाजी करने मैदान पर आते हैं, कुछ ना कुछ नया करके दिखाते हैं। कोहली में सबसे खास बात यह है कि मैदान में उनके ऊपर कितना भी दबाव रहे, वे हर स्थिति में चमकते सितारे की तरह उभर कर आते हैं। उनकी शानदार बल्लेबाजी का ही नतीजा है कि अब उनकी तुलना क्रिकेट की दुनिया के कई महान पूर्व खिलाड़ियों से की जाने लगी है। हमेशा ही ये देखने को मिला है कि लिमिटेड ओवर्स के मैच में कोहली ने बेहद ही शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन ऐसा नहीं है कि वे केवल एकदिवसीय मैचों में या टी-20 में ही अच्छा करते हैं, बल्कि टेस्ट मैच में भी उन्होंने कई रिकॉर्ड्स अपने नाम किए हैं।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 Plus 32 GB Black
    ₹ 59000 MRP ₹ 59000 -0%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 19959 MRP ₹ 26000 -23%
    ₹0 Cashback

क्रिकेट नेक्स्ट के मुताबिक कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज सर डोनाल्ड ब्रैडमैन को भी मात दे दी है। एक टेस्ट स्कीपर के तौर पर कोहली का कन्वर्जन रेट बेहद ही शानदार है। स्कीपर (कप्तान) के तौर पर कुल 29 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें कोहली 59.53 के रन रेट से 2,560 रन बनाए हैं। इन मैचों में उन्होंने 10 शतक और 50 अर्धशतक जड़े हैं। ऐसे में एक स्कीपर के तौर पर उनका कन्वर्जन रेट 71.43% है। वहीं डॉन ब्रैडमैन का कन्वर्जन रेट 66.67% है। इसी संबंध में अगर और बात की जाए तो क्रिकेट के इतिहास में 66 टेस्ट स्कीपर हुए हैं जिन्होंने कम से कम 10 अर्धशतक जड़े हैं। इनमें विराट कोहली का भी नाम शामिल है।

विराट कोहली का कन्वर्जन रेट

बता दें कि भारत और श्रीलंका के बीच हो रही टेस्ट सीरीज का पहला मैच 16 नंवबर से कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेला जाना है। टेस्ट मैच में भारत की तरफ से कप्तानी करते हुए सबसे अधिक मैच जीतने का रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम है। 45 टेस्ट मैचों धोनी ने टीम की कमान संभाली है जिसमें से 22 मैचों भारत को जीत और 12 में हार का सामना करना पड़ा है। वहीं इस लिस्ट में दूसरा नाम आता है भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का। गांगुली ने 49 टेस्ट मैचों में टीम की कप्तानी की है जिसमें से 21 में जीत और 13 में भारत को हार का सामना करना पड़ा है। वहीं विराट कोहली ने कप्तानी करते हुए अब तक भारत की तरफ से सिर्फ 29 मैच ही खेले हैं। विराट ने 29 मैचों में से 19 में जीत 3 में हार और 7 मैच ड्रॉ कराए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App