ताज़ा खबर
 

IPL 2019: पूर्व क्रिकेटर ने विराट कोहली की कप्तानी पर उठाए सवाल, कहा- RCB का करना चाहिए थैंक्स

विराट कोहली की कप्तानी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 2011 से 2018 के बीच कुल 96 मैच खेले हैं, जिसमें उसे 44 मैचों में जीत मिली है।

Gautam Gambhir, Indian skipper, Virat Kohli, poor captaincy record, Indian Premier Leagueपूर्व क्रिकेटर ने विराट कोहली की कप्तानी पर उठाए सवाल, कहा- RCB का करना चाहिए थैंक्स (PTI Photo)

गौतम गंभीर ने सोमवार को इंडियन प्रीमियर लीग में विराट कोहली की खराब कप्तानी को लेकर बयान दिया है। साल 2013 में टीम की कप्तानी संभालने के बाद से विराट की टीम आईपीएल में सिर्फ दो बार प्लेऑफ में जगह बना पाई जबकि पिछले 2 सीजन में क्रमश: छठे और 8वें स्थान पर रही। इस पर गंभीर का मानना है कि कोहली को आरसीबी का धन्यवाद करना चाहिए कि इस तरह के सामान्य प्रदर्शन के बावजूद वह अभी तक टीम के कप्तान बने हुए हैं।

गंभीर ने कहा कि खराब कप्तानी की वजह से कई खिलाड़ी कप्तानी गंवा चुके हैं। लेकिन कोहली इस मामले में काफी भाग्यशाली रहे हैं कि साधारण कप्तानी के बावजूद वह कप्तानी के पद पर बने हुए हैं। उन्होंने आगे कहा कि कप्तान के तौर पर कोहली को लंबा रास्ता तय करना है और उनकी तुलना बिल्कुल भी 3 बार के आईपीएल चैंपियन विजेता कप्तान रोहित शर्मा और एमएस धोनी से नहीं की जा सकती है।

गंभीर ने IPL 2019 से पहले स्टार स्पोर्ट्स के शो में कहा, “विराट को अभी एक लंबा रास्ता तय करना है। मैं विराट को एक कुशल कप्तान के रूप में नहीं देखता हूं और न ही उन्होंने आईपीएल का खिताब जीता है। अंततः एक कप्तान केवल अपने रिकॉर्ड के तौर पर अच्छा है जब तक कि आप आईपीएल नहीं जीतते हैं। ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने तीन बार ट्रॉफी जीती है – एमएस धोनी और रोहित शर्मा। इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें अभी एक लंबा रास्ता तय करना है। आप इस स्तर पर रोहित या धोनी जैसे किसी खिलाड़ी से उनकी तुलना सिर्फ इसलिए नहीं कर सकते क्योंकि वह RCB का हिस्सा हैं और पिछले सात- आठ सालों से आरसीबी की कप्तानी कर रहे हैं। वह बहुत भाग्यशाली हैं और उन्हें अपनी फ्रैंचाइज़ी का शुक्रिया अदा करना चाहिए कि वे अब तक कप्तान के पद पर बने हुए हैं क्योंकि कई कप्तानों को इतना लंबा समय नहीं मिला है, जहां उन्होंने एक टूर्नामेंट भी नहीं जीता है।”

गौरतलब है कि विराट कोहली की कप्तानी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 2011 से 2018 के बीच कुल 96 मैच खेले हैं, जिसमें उसे 44 मैचों में जीत मिली है। जबकि 47 मैचों में आरसीबी को हार का सामना करना पड़ा है। इस दौरान टीम का जीत प्रतिशत 45.83 रहा है। वहीं, एमएस धोनी की कप्तानी में चेन्नई ने 94 में से 64 मैच में जीत दर्ज की है और इस दौरान टीम का जीत प्रतिशत लगभग 59 प्रतिशत रहा है।

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई
Next Stories
1 पाकिस्तान से क्रिकेट पर बोले गौतम गंभीर- दो पॉइंट जरूरी नहीं, जरूरी हैं मेरे जवान
2 दूसरे ही मैच में अफगानिस्तान ने दर्ज की पहली टेस्ट जीत, बाकी टीमों को ऐसा करने में लगा इतना समय
3 IPL 2019: आईपीएल से पहले डेविड वॉर्नर का बड़ा धमाका, प्रैक्टिस मैच में ठोकी शानदार फिफ्टी
आज का राशिफल
X