ताज़ा खबर
 

India vs Pakistan: हार के बाद विराट कोहली बोले- पाक ने हमसे वो गलतियां करवाईं जो वो चाहते थे

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान टीम से करारी शिकस्त झेलने वाली भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का कहना है कि भले ही उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन उन्हें इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने का गर्व है।
Author नई दिल्ली | June 19, 2017 13:15 pm
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली। (Source: PTI)

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान टीम से करारी शिकस्त झेलने वाली भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का कहना है कि भले ही उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन उन्हें इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने का गर्व है। गौरतलब है कि पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से हराकर पहली बार टूर्नामेंट का खिताब जीता। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तान की टीम ने निर्धारित ओवरों में भारत के सामने 339 रनों का लक्ष्य रखा, जिसे कोहली की टीम हासिल नहीं कर पाई और 158 रनों पर सिमट गई।

कोहली ने कहा, “एक टीम के तौर पर हमें स्वयं पर गर्व है। हम यहां से सिर ऊंचा करके जा रहे हैं, क्योंकि खिताब की प्रबल दावेदार टीम होने के नाते हमने पूरा प्रयास करते हुए फाइनल में जगह बनाई। हम जानते हैं कि एक टीम के तौर पर हमने किस प्रकार के दबाव का सामना किया है। कप्तान कोहली ने कहा, “पाकिस्तान ने शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने अपनी शानदार गेंदबाजी के दम पर हमसे वो गलतियां करवाई, जो वे चाहते थे। हमें यह कहने में कोई शर्म नहीं है कि हमने फाइनल मैच में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया।

कोहली ने कहा, “हमारा प्रदर्शन निराशाजनक रहा, लेकिन मेरे चेहरे पर हंसी है, क्योंकि हम फाइनल में अच्छा खेल कर पहुंचे। मुझे अपनी टीम पर गर्व है। श्रेय पाकिस्तान को जाता है, उन्होंने हमें एकतरफा हराया।”

कोहली ने कहा, गेंद से हमारे पास विकेट लेने के और मौके हो सकते थे। कई बार विपक्षी टीम अच्छा खेलती है। गेंद से भी वह काफी आक्रामक थे।” कोहली ने भारत के युवा हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या की तारीफ की और कहा, “हार्दिक के अलावा हममें से किसी ने जुझारूपन नहीं दिखाया। उनकी पारी शानदार थी।” कोहली ने कहा, ”हम फाइनल नहीं जीते, क्रिकेट का एक गेम हार गए, बस। हम आगे बढ़ने और अपनी गलतियों से सीखने की जरूरत है। हम दिन विशेष पर अच्‍छा नहीं खेले।”

पाकिस्तान द्वारा रखे गए 339 रनों के लक्ष्य के दबाव में भारत का मजबूत और गहरा बल्लेबाजी क्रम ताश के पत्तों की तरह ढह गया और पूरी टीम 30.3 ओवरों में महज 158 रनों पर सिमट गई। आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में यह किसी भी टीम द्वारा रनों के लिहाज से हासिल की गई सबसे बड़ी जीत है।

टूर्नामेंट में सर्वाधिक 13 विकेट लेने वाले हसन अली को मैन आफ द टूर्नामेंट चुना गया। वहीं इस टूर्नामेंट के पांच मैचों में 338 रन बनाने भारतीय बल्लेबाज शिखर धवन को गोल्डन बैट का पुरस्कार मिला। धवन चैम्पियंस ट्रॉफी के पिछले संस्करण, 2013 में भी यह पुरस्कार जीत चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule