कोहली ने पहले पिच की आलोचना को खारिज किया - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कोहली ने मोहाली पिच की आलोचना को खारिज किया

विराट कोहली ने शनिवार को पहले क्रिकेट टैस्ट की पिच की आलोचना को खारिज किया और कहा कि बल्लेबाजों के आउट होने का कारण ‘शॉट चयन में गलती’ था..

Author मोहाली | November 8, 2015 12:39 AM
भारतीय कप्तान विराट कोहली। (पीटीआई फोटो)

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शनिवार को पहले क्रिकेट टैस्ट की पिच की आलोचना को खारिज किया और कहा कि बल्लेबाजों के आउट होने का कारण ‘शॉट चयन में गलती’ था। विरोधी कप्तान हाशिम आमला भी कोहली की इस बात से सहमत दिखे। कोहली ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि विकेट में कोई खराबी थी। कभी भी गेंद बहुत अधिक टर्न नहीं कर रही थी। बल्लेबाजों को थोड़ा कड़ा प्रयास करने की जरूरत थी लेकिन यह गेंदबाजों का मैच था। हमें लगा कि यदि इस विकेट पर हमें मुश्किल हो रही है तो उन्हें (दक्षिण अफ्रीका) भी दिक्कत आएगी।

आमला ने कहा कि फैसले करने में गलती के कारण उन्होंने मैच गंवा दिया। आमला ने कहा कि बैठक के दौरान हमारे बीच यह बात हुई कि असल में गेंद उतना अधिक टर्न नहीं कर रही है। और मुझे लगता है कि दोनों टीमों में कई बल्लेबाजों में अपने विकेट अधिक टर्न के कारण नहीं बल्कि टर्न कम होने के कारण गंवाए। उन्होंने कहा कि कभी कभी इस तरह की पिचों पर खेलना अधिक मुश्किल होता है। हमारे बीच यह बात हुई कि गेंद इतना अधिक टर्न नहीं हो रहा था लेकिन फैसले लेने में कुछ गलतियां हुई जिसके कारण हमने मैच गंवा दिया। सामान्य सी बात है कि गेंद उतनी टर्न नहीं हो रही थी। अगर आपको अच्छी गेंद मिले को फिर कोई कुछ नहीं कर सकता। अगर रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा ने दक्षिण अफ्रीका के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को ढेर किया तो मेहमान टीम के स्पिनरों इमरान ताहिर, साइमन हार्मर और डीन एल्गर की तिकड़ी ने आईएस बिंद्रा पीसीए स्टेडियम की पिच पर भारतीय बल्लेबाजों को परेशान किया।

कप्तान के रूप में घरेलू मैदान पर पहली जीत दर्ज करने के बाद कोहली ने संवाददाताओं से कहा कि हां, मुझे लगता है कि यही मामला था। मैं अपनी बल्लेबाजी पर प्रतिक्रिया दे सकता हूं। हम स्पिन ने डरे नहीं लेकिन हमने गलतियां की। हमने शॉट के चयन को लेकर गलती की और अगली बार इसमें सुधार करने की कोशिश करेंगे। कोहली ने स्वीकार किया कि घरेलू क्रिकेट की कमी भी स्पिन गेंदबाजी खेलने की महारत में पिछड़ने का कारण हो सकता है। स्पिन से निपटने में खिलाड़ियों की नाकामी के बारे में पूछने पर कोहली ने कहा कि ऐसा हो सकता है। हम विदेशों में काफी क्रिकेट खेलते हैं और हमने स्पिन लेती पिचों पर काफी क्रिकेट नहीं खेला। आपने सही कहा, मैंने काफी घरेलू क्रिकेट नहीं खेला। यह मामला हो सकता है।

उपमहाद्वीप में स्पिन के खिलाफ भारतीय बल्लेबाजों के घुटने टेकने के संदर्भ में कोहली ने कहा कि देखिए अतीत में हम स्पिन के खिलाफ काफी खराब खेले। एक बार यह गाले में हुआ। मुझे लगता है कि समस्या यह है कि हमने काफी तेजी से विकेट गंवाए। अगर हमारी साझेदारी होती है और हम एक विकेट गंवाते हैं तो साथ ही दो-तीन विकेट और गिर जाते हैं। हमें इसमें सुधार की जरूरत है। इसके अलावा सभी ने स्पिन का अच्छी तरह सामना किया। यह सिर्फ मानसिकता से जुड़ी चीज है।

कोहली ने कहा कि हां, मुझे लगता है कि यही मामला था। मैं अपनी बल्लेबाजी पर प्रतिक्रिया दे सकता हूं। हम स्पिन ने डरे नहीं लेकिन हमने गलतियां की। हमने शॉट के चयन को लेकर गलती की और अगली बार इसमें सुधार करने की कोशिश करेंगे। कोहली ने स्वीकार किया कि घरेलू क्रिकेट की कमी भी स्पिन गेंदबाजी खेलने की महारत में पिछड़ने का कारण हो सकता है।
स्पिन से निपटने में खिलाड़ियों की नाकामी के बारे में पूछने पर कोहली ने कहा कि ऐसा हो सकता है। हम विदेशों में काफी क्रिकेट खेलते हैं और हमने स्पिन लेती पिचों पर काफी क्रिकेट नहीं खेला। आपने सही कहा, मैंने काफी घरेलू क्रिकेट नहीं खेला। यह मामला हो सकता है।

उन्होंने कहा कि हां, मैच उतना सहज नहीं था जितना अंतर देखकर लगता है। मैं यह नहीं कहूंगा कि यह बेहद करीब था। मैं इतना कहूंगा कि अगर उनके हाथ में विकेट होते तो चौथी पारी में यह रोमांचक हो सकता था। इसके लिए मैं विरोधी टीम की कमियों और उनकी गलतियों पर बात नहीं करना चाहता। मुझे यकीन है कि वे इसमें सुधार की कोशिश करेंगे और एक बल्लेबाजी इकाई के रूप में हम भी।

कोहली ने कहा कि इस मैच में हमने अपनी क्षमता के अनुसार प्रदर्शन नहीं किया। गेंदबाजों ने जिम्मेदारी निभाई। अगर टर्न मिल भी रहा हो तो भी गेंदबाजों को सही लाइन और लेंथ से गेंद फेंकने की जरूरत होती है। इसलिए उन्हें श्रेय दिया जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App