ताज़ा खबर
 

टीम इंड़िया में दरार: कोहली ने उठाए धोनी की कप्तानी पर सवाल, बचाव में आए रैना-अश्विन

भारतीय क्रिकेट टीम ने आखिरी वनडे तो जीत लिया लेकिन सीरीज में हार के बाद लगातार कप्तान धोनी पर सवाल उठ रहे हैं। सवाल ये है कि टीम इंड़िया...

Author June 25, 2015 11:38 am
धोनी के फैसलों पर कोहली ने उठाए सवाल, वनडे में कप्तानी को लेकर बेचैनी हुई जाहिर 9फोटो: एपी)

भारतीय क्रिकेट टीम ने आखिरी वनडे तो जीत लिया लेकिन सीरीज में हार के बाद लगातार कप्तान धोनी पर सवाल उठ रहे हैं। सवाल ये है कि क्या टीम इंड़िया में सब ठीक है। धोनी खुद भी कप्तानी छोड़ने को लेकर अपना बयान दे चुके हैं, जो ये बताता है कि टीम इंडिया के अंदर सब कुछ ठीक नहीं है।

ये सवाल विराट कोहली के उस बयान की वजह से उठ रहा है, जो उन्होंने सीरीज के अंतिम मैच से ठीक पहले सीरीज के आधिकारिक प्रसारकर स्टार स्पोर्ट्स को दिए इंटरव्यू में दिया है।

विराट कोहली ने वनडे सीरीज के दौरान टीम के फैसलों पर सवाल उठाया है। कोहली ने साफ कहा है कि सीरीज में जिस तरह के फैसले लिए गए, उससे वह खुश नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हमारे फैसलों में असमंजस दिखा और यह मैदान पर भी साफ नजर आया। कोहली ने इस ज्यादा कुछ कहने से इनकार किया, लेकिन कहा कि हमारे खिलाड़ी पहले दो वनडे में बिना किसी स्पष्ट नजरिए के खेले।

कोहली ने कहा कि हमारे खिलाड़ी उस तरह से नहीं खेल सके, जैसा हम खेलते रहे हैं। टेस्ट क्रिकेट से धोनी के संन्यास के कोहली को टेस्ट टीम का कप्तान बनाया गया है। खबरों के मुताबिक कोहली और शास्त्री की जोड़ी टीम को आक्रामक रवैये से भरना चाहती है, हालांकि इस आक्रामकता के बावजूद टीम बांग्लादेश में बारिश से प्रभावित टेस्ट नहीं जीत सकी।

PHOTOS: आखिरी वनडे में जीता भारत, सीरीज बांग्लादेश के नाम

जबकि सुरेश रैना और आर.अश्विन ने कप्तान धोनी के पक्ष में ब्यान दिया। रैना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि आप धोनी का अपमान नहीं कर सकते। एक सीरीज की हार उन्हें खराब कप्तान नहीं साबित करती। वह मानसिक तौर पर बहुत मजबूत हैं। वह खेल को जानते हैं और पॉजिटिव रवैए के साथ खेलते हैं। वह एक अच्छे शख्स और महान कप्तान हैं।

दूसरे मैच में मिली हार के बाद अश्विन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि धोनी क्रिकेट के लीजेंड हैं। उन्होंने भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है। अगर मेरे कप्तान मुझसे मैदान पर जान देने के लिए कहते हैं तो मैं जान दूंगा। आंकड़ों से आप जैसा चाहें साबित कर सकते हैं। आपको उस एक शख्स को क्रेडिट देना ही होगा, जिसने काफी सारी अच्छी चीजें की हैं। आप पूरी टीम के प्रदर्शन के लिए सिर्फ धोनी को दोषी करार नहीं दे सकते।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App