ताज़ा खबर
 

कोहली ने श्रृंखला में बराबरी के लिये टीम की तारीफ की

विराट कोहली ने भारतीय कप्तान के तौर पर पहली टेस्ट जीत के लिये अपने साथी खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा कि पहले टेस्ट में मिली हार के बाद इस तरह से वापसी करना..

Author August 25, 2015 9:08 AM
भारतीय क्रिकेट टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली जीत के बाद साथी खिलाड़ियों के साथ। (एपी फोटो)

विराट कोहली ने भारतीय कप्तान के तौर पर पहली टेस्ट जीत के लिये अपने साथी खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा कि पहले टेस्ट में मिली हार के बाद इस तरह से वापसी करना काबिले तारीफ है। भारत ने श्रीलंका को दूसरे टेस्ट में 278 रन से हराकर श्रृंखला में 1-1 से बराबरी की।

कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार समारोह में कहा,‘‘मैं बहुत खुश हूं। दो बार जीत के करीब पहुंचा था, एक बार एडीलेड में और फिर गाले में। हमने दोनों टेस्ट में अच्छा खेला। गाले में एक सत्र और अच्छा खेलते तो जीत जाते। उस हार के बावजूद इतनी जल्दी हमने वापसी की।’’

उन्होंने पहली पारी में शतक जमाने वाले केएल राहुल की तारीफ की जिन्होंने चोटिल रिधिमान साहा की जगह विकेटकीपिंग करते हुए पहली गेंद पर बेहतरीन कैच भी लपका। कोहली ने कहा,‘‘साहा के चोटिल होने के कारण राहुल ने विकेटकीपिंग की और पहली गेंद पर बेहतरीन कैच लपका। इससे हमने दबाव बना दिया। शुरुआती विकेट लेने के बाद हमने आक्रामक गेंदबाजी की क्योंकि हम समय नहीं गंवाना चाहते थे।’’

उन्होंने गेंदबाजों की खास तौर पर तारीफ की। उन्होंने कहा,‘‘स्टुअर्ट बिन्नी को छोड़कर सभी ने आज गेंदबाजी की। चारों स्ट्राइक गेंदबाजों ने उम्दा प्रदर्शन किया। पहली पारी में स्टुअर्ट ने अच्छी गेंदबाजी की थी।’’

कोहली ने क्रिकेट को अलविदा कहने वाले श्रीलंकाई बल्लेबाज कुमार संगकारा को बधाई देते हुए कहा,‘‘मैं कुमार को बेहतरीन कैरियर के लिये बधाई देना चाहता हूं। पिछले सप्ताह में मैने और सभी ने उनके बारे में बहुत कुछ कहा है और मैं फिर कहूंगा कि आपके साथ खेलना यादगार रहा।’’

श्रीलंकाई कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने कहा कि पूरी टीम दुखी है कि संगकारा को जीत के साथ विदा नहीं कर सकी। उन्होंने कहा,‘‘हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया। हम संगा के लिये यह मैच जीत नहीं सके। हमने उनसे वादा किया था कि अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे लेकिन कर नहीं सके। हम अगला मैच उनके लिये जीतने का प्रयास करेंगे।’’

उन्होंने हार के लिये अपने बल्लेबाजों को कसूरवार ठहराया। उन्होंने कहा,‘‘बल्लेबाजी के लिये दूसरा और तीसरा दिन सर्वश्रेष्ठ था लेकिन हम उसका फायदा नहीं उठा सके। मैं दूसरी पारी में बल्लेबाजों के प्रदर्शन से बहुत निराश हूं। हम बेहतर प्रदर्शन कर सकते थे। भारत के लिये अश्विन ने बेहतरीन गेंदबाजी की।’’

मैन ऑफ द मैच राहुल ने कहा कि चार टेस्ट के कैरियर में दो शतक लगाकर वह काफी खुश हैं। उन्होंने कहा,‘‘चार मैचों में दो शतक लगाना एक युवा खिलाड़ी के लिये शानदार है। अभी हालांकि मुझे बहुत कुछ सीखना है और लंबा सफर तय करना है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App