ताज़ा खबर
 

जानिए विराट कोहली के लिए आज का दिन क्यों है स्पेशल मोमेंट?

आज टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए बेहद खास दिन है। कोहली के लिए खास दिन इसलिए हैं क्योंकि आज वे साउथ अफ्रीका खिलाफ चौथा और आखिरी टेस्ट मैच फिरोजशाह कोटला मैदान यानी उनके अपने घरेलू मैदान पर खेलने वाले हैं।

Author नई दिल्ली | December 7, 2015 2:05 PM

आज टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए बेहद खास दिन है। क्योंकि आज वे साउथ अफ्रीका खिलाफ चौथा और आखिरी टेस्ट मैच फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेलने वाले है, जो कि उनका घरेलू मैदान है। जहां से उन्होंने शतकीय पारी खेली आज वे उसी मैदान पर क्रिकेट खेलने वाले हैं।

कोहली ने कोटला पर कप्तानी के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘ उन्होंने क्रिकेट की शुरुआत यहीं से की थी, जहां से उन्होंने अपने करिअर का पहला रणजी मैच पर खेला था। लिहाजा इस मैदान से विराट की विशेष यादें जुड़ी हैं। उन्होंने कहा, “मेरे लिए यह गर्व की बात होगी कि मैं अपने घरेलू मैदान में टेस्ट कप्तान के रूप में अपना पहला टेस्ट खेलूंगा। एक खिलाड़ी के लिए इससे बड़ा मौका और कोई नहीं हो सकता कि वह अपने घरेलू मैदान में कप्तानी करे। यह मेरे लिए स्पेशल मोमेंट होगा।” यही वजह है कि उन्होंने घरेलू मैदान पर कप्तानी करने से एक दिन पहले टीम इंडिया को गुड़गांव स्थित अपने नए घर में शानदार पार्टी दी।

ऐसे में विराट को साउथ अफ्रीका के खिलाफ चौथा और आखिरी टेस्ट मैच जीतने का पूरा विश्वास है। इस मौके पर उन्होंने कहा, “टीम इंडिया जज्बे के साथ खेल रही है। हम न तो रिकॉर्ड के लिए खेलते हैं और न एवरेज हम सिर्फ अच्छा करने और मैच जीतने के लिए खेलते हैं। क्योंकि जीत का अहसास एकदम अलग होता है।” आपको बता दें कि ये पहला मौका होगा जब वे अपनी कप्तानी घरेलू मैदान पर करते नजर आएंगे।

विराट ने कहा, “यह मैदान मेरे लिए बहुत इम्पॉर्टेन्ट है। यहां ट्रायल मैच के कारण ही मैं जूनियर टीम में चुना गया था जबकि उससे पिछले साल मेरा सिलेक्शन नहीं हुआ था। मैंने यहां रणजी डेब्यू किया। काफी रन भी बनाए और वनडे सेन्चुरी भी लगाई। यहां खेलना मुझे बहुत पसंद है।”

उन्होंने यह भी कहा कि देश की ओर से खेलना ही बड़ी उपलब्धि है लेकिन घरेलू मैदान पर टीम की अगुवाई करना कभी किसी खिलाड़ी का लक्ष्य नहीं होता है, उन्होंने कहा, ‘मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरी जिंदगी में यह दिन भी आएगा। जब आप क्रिकेटर के रूप में शुरुआत करते हो तो आपका सपना भारत की तरफ से खेलना होता है। लेकिन कप्तानी ऐसी चीज है जिसको आप कभी लक्ष्य नहीं बनाते हो। मैं जिम्मेदारी समझता हूं और मैं भाग्यशाली रहा कि मैंने विभिन्न स्तरों पर कप्तानी की है। इसलिए मुझे यह पसंद है और मैं इसका आनंद लेता हूं।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App