ताज़ा खबर
 

DRS : महेंद्र सिंह धोनी माहिर थे, पर बुरी तरह फेल हो रहे विराट कोहली

7-11 सितंबर के बीच इंग्‍लैंड के द ओवल मैदान पर भारत श्रृंखला का आखिरी टेस्‍ट खेल रहा है। इस मैच में विराट कोहली से रिव्‍यू लेने में भारी चूक हुई। इंग्‍लैंड की दूसरी पारी में भारत ने अपने दोनों रिव्‍यू बर्बाद कर दिए।

Author September 10, 2018 12:34 PM
धोनी अब वनडे और टी20 टीम के सदस्‍य हैं। वह रिव्‍यू लेने में अहम भूमिका अदा करते हैं। (File Photo : BCCI)

विराट कोहली निसंदेह एक अद्भुत बल्‍लेबाज हैं, मगर उनकी कप्‍तानी स्‍तरहीन नजर आती है। दक्षिण अफ्रीका के बाद हालिया इंग्‍लैंड दौरे पर इस बात के और प्रमाण सामने आए हैं। अंतिम 11 के चयन और खिलाड़‍ियों को पर्याप्‍त मौके दिए बिना बाहर करने को लेकर कई पूर्व क्रिकेटर कोहली की आलोचना कर चुके हैं और कर रहे हैं। कोहली ने टेस्‍ट टीम की कप्‍तानी संभालने के बाद 38 मैचों में कभी भी लगातार दो मैच में एक टीम नहीं खिलाई। आखिर उनका अजीब रिकॉर्ड इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में ही टूटा। मगर विराट की कप्‍तानी का एक पहलू और भी है जिसपर अब कई दिग्‍गज सवाल उठा रहे हैं। और वह है अंपायर के फैसले का रिव्‍यू लेना।

विराट चाहें तो इस मामले में अपने पूर्ववर्ती महेंद्र सिंह धोनी से मदद ले सकते हैं। अंपायर के ऑन-फील्‍ड फैसले को बदलवाने के मामले में धोनी का रिकॉर्ड शानदार है। उनके प्रशंसक तो डिसिजन रिव्‍यू सिस्‍टम (DRS) को ‘धोनी रिव्‍यू सिस्‍टम’ कहते हैं। खुद कोहली ने जनवरी, 2017 में कहा था कि इस मामले में धोनी का योगदान ‘अमूल्‍य’ है। बकौल कोहली, ”मैंने एक आंकड़ा देखा कि अपने कॅरिअर में उन्‍होंने (धोनी) जितनी अपील की हैं, उनमें से 95 फीसदी सफल रही हैं।” कोहली ने तब माना भी था कि वह डीआरएस को लेकर धोनी पर आंख मूंदकर विश्‍वास करते हैं।”

7-11 सितंबर के बीच इंग्‍लैंड के द ओवल मैदान पर भारत श्रृंखला का आखिरी टेस्‍ट खेल रहा है। इस मैच में भी कोहली से रिव्‍यू लेने में चूक हुई। इंग्‍लैंड की दूसरी पारी में भारत ने अपने दोनों रिव्‍यू बर्बाद कर दिए।

ओवल टेस्‍ट में कोहली द्वारा लिए गए रिव्‍यू देखें:

रवींद्र जडेजा की गेंदबाजी पर कीटन जेनिंग्‍स ने लाइन से अलग जाकर शॉट खेलने की कोशिश की और गेंद उनके पैड पर जा लगी। भारतीयों ने अपील की मगर अंपायर ने आउट नहीं दिया। कोहली ने पंत से पूछा फिर जडेजा की ओर देखा। जडेजा कह रहे थे कि उन्‍हें क्लियर नहीं है कि गेंद का इम्‍पैक्‍ट कहां होगा। फिर भी कोहली ने अधूरे मन से रिव्‍यू लेने का इशारा किया। रिप्‍ले में दिखा कि गेंद ऑफ स्‍टंप के बाहर पिच हुई और इम्‍पैक्‍ट भी बाहर ही रहा। नतीजा थर्ड अंपायर ने बल्‍लेबाज को नॉट आउट दे दिया।

जडेजा के चौथे ओवर में भी फिर यही कहानी दोहराई गई। गेंद ऑफ स्‍टंप से काफी बाहर पिच हुई थी, एलिस्‍टर कुक के पैड पर लगी और भारतीयों ने अपील की। अंपायर ने नकार दी तो कोहली ने इधर-उधर देखा फिर रिव्‍यू लेने का इशारा कर दिया। कमेंटरी कर रहे ग्राएम स्‍वान ने कहा कि भारत अपने रिव्‍यू बर्बाद कर रहा है। रिप्‍ले में यह बात पुष्‍ट हो गई। गेंद का इम्‍पैक्‍ट ऑफ स्‍टंप से अच्‍छा-खासा दूर था। अब भारत अपने दोनों रिव्‍यू खो चुका था।
क्रिकेट के प्रशंसकों की राय भी कमोबेश ऐसी ही है।

यह सब देख इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान माइकल वॉन ने कोहली को बड़े अनूठे ढंग से परिभाषित किया है। वॉन के मुताबिक, ”विराट दुनिया के सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाज हैं, मगर वह दुनिया के सबसे घटिया रिव्‍युअर हैं।”

Pro Kabaddi League 2019
  • pro kabaddi league stats 2019, pro kabaddi 2019 stats
  • pro kabaddi 2019, pro kabaddi 2019 teams
  • pro kabaddi 2019 points table, pro kabaddi points table 2019
  • pro kabaddi 2019 schedule, pro kabaddi schedule 2019

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App