ताज़ा खबर
 

Vijay Hazare Trophy: दिल्ली के सामने उत्तराखंड की चुनौती, इन 7 टीमों ने बनाई क्वार्टर फाइनल में जगह

Vijay Hazare Trophy 2021 Knockout Teams and Schedule: आठ मार्च से क्वार्टर फाइनल मुकाबले खेले जाएंगे। हालांकि, इससे पहले 7 मार्च को दिल्ली और उत्तराखंड के बीच प्रीलिमिनरी क्वार्टर फाइनल मैच खेला जाएगा।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: March 3, 2021 8:47 AM
Vijay Hazare Trophy Knockout Match Know waht you want to know

विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) 2020-21 के लीग चरण के मुकाबले खत्म हो गए हैं। आठ मार्च से क्वार्टर फाइनल मुकाबले खेले जाएंगे। इससे पहले 7 मार्च को दिल्ली और उत्तराखंड के बीच प्रीलिमिनरी क्वार्टर फाइनल मैच खेला जाएगा। उत्तराखंड की टीम विजय हजारे ट्रॉफी के प्लेट ग्रुप में थी। उसने अपने 5 में से 5 मैच में जीत हासिल की और ग्रुप में टॉप पर रही।

हालांकि, प्लेट ग्रुप में असम ने भी अपने सभी मैच जीते थे, लेकिन रनरेट के आधार पर वह क्वालिफाई करने से चूक गई। दिल्ली और उत्तराखंड के अलावा जिन 7 टीमों ने क्वार्टर फाइनल में स्थान पक्का किया है, उनमें गुजरात, मुंबई, आंध्र प्रदेश, सौराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश और केरल हैं। गुजरात की टीम ग्रुप ए में थी। उसने अपने ग्रुप में सभी 5 मैच जीते। उसने 20 अंक और +1.278 रनरेट के साथ लीग चरण खत्म किया। ग्रुप ए में बड़ौदा दूसरे, हैदराबाद तीसरे, छत्तीसगढ़ चौथे, गोवा पांचवें और त्रिपुरा छठे नंबर पर रहा। त्रिपुरा की टीम एक भी मैच जीतने में सफल नहीं हो पाई।

ग्रुप बी से आंध्र प्रदेश की टीम ने क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालिफाई किया। वह 5 में से 3 मैच ही जीत पाई, लेकिन ग्रुप में टॉप में रहने के कारण वह नॉकआउट में पहुंचने में सफल रही। इस ग्रुप में तमिलनाडु, झारखंड और मध्य प्रदेश ने भी अपने 5 में से 3-3 मैच जीते, लेकिन बेहतर रनरेट के आधार पर आंध्र प्रदेश की टीम शीर्ष पर रही। पंजाब और बड़ौदा क्रमशः पांचवें और छठे नंबर पर रहे।

ग्रुप सी से तीन टीमें कर्नाटक, उत्तर प्रदेश और केरल क्वालिफाई करने में सफल रहीं। तीनों ने अपने 5 में से 4-4 मुकाबले जीते। लीग चरण खत्म होने के बाद तीनों के 16-16 अंक रहे। कर्नाटक +1.834 के रनरेट के साथ टॉप पर रहा। उत्तर प्रदेश +1.559 रनरेट के साथ दूसरे और केरल +1.244 रनरेट के साथ तीसरे स्थान पर रहा। रेलवे, ओडिशा और बिहार क्रमशः चौथे, पांचवें और छठे नंबर पर रहे।

मुंबई, दिल्ली, महाराष्ट्र, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और पुडुचेरी की टीमें ग्रुप डी में थीं। मुंबई अपने ग्रुप में अजेय रहा। वह 20 अंक और +2.603 रनरेट के साथ ग्रुप में टॉप पर रहा। दिल्ली 5 में से 4 मैच जीतने में सफल रही। उसके 16 अंक रहे। हालांकि, उसका रनरेट +0.507 ही रहा। यह रनरेट क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालिफाई करने वाली सभी 7 टीमों से कम था। यही वजह है कि उसे अब प्लेट ग्रुप से क्वालिफाई करने वाली उत्तराखंड की टीम के साथ एलिमिनेटर (प्रीलिमिनरी क्वार्टर फाइनल) मैच खेलना होगा।

सौराष्ट्र, चंडीगढ़, सर्विसेज, जम्मू एंड कश्मीर, बंगाल और हरियाणा की टीमें ग्रुप ई में थीं। इस ग्रुप से सौराष्ट्र ने क्वालिफाई किया। सौराष्ट्र ने 5 में से 4 मैच जीते। उसका रनरेट +0.632 रहा। चंडीगढ़ तीन मैच जीतकर दूसरे स्थान पर रहा। उसके 12 अंक थे, लेकिन उसका रनरेट बहुत कम (-5.72) रहा। यही वजह रही है कि ग्रुप बी में 12 अंक लाने वाली आंध्र प्रदेश क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालिफाई कर गई। आंध्र प्रदेश का रनरेट +0.732 था।

Next Stories
1 सचिन तेंदुलकर को लेकर मुनाफ पटेल ने किया था विराट का ब्रेनवॉश, इंटरव्यू में कोहली ने बताई थी हकीकत
2 मां-बाप कहते थे- पढ़ाई लिखाई कर लो, बॉक्सिंग से क्या मिलेगा? दीपक ने इस तरह दिया जवाब
3 ‘फ्रेंडशिप’ को लेकर सुर्खियों में हरभजन सिंह; भज्जी से पहले ये दिग्गज क्रिकेटर्स भी आजमा चुके हैं फिल्मों में भाग्य, जानिए कितने रहे सफल
ये पढ़ा क्या?
X