ताज़ा खबर
 

VIDEO: शोएब अख्तर की इस हरकत पर आपा खो बैठे उठे थे राहुल द्रविड़, इंजमाम को करना पड़ा था बीच-बचाव

यह मैच 2004 में बर्मिंघम के एजबेस्टन में खेला गया था। दोनों टीमें पहली बार इस चैम्पियंस ट्रॉफी में भिड़ी थीं।

पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज शोएब अख्तर और पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़।

राहुल द्रविड़ को क्रिकेट का जेंटलमैन कहा जाता है। अपने 16 साल के क्रिकेट करियर में उन्हें हमेशा एक शांत और विनम्र खिलाड़ी के तौर पर देखा गया। लेकिन भारत और पाकिस्तान के हाई वोल्टेज मैच में उनके जैसा खिलाड़ी भी खुद पर काबू नहीं रख पाया था। हम बात कर रहे हैं 2004 की चैम्पियंस ट्रॉफी में हुए भारत-पाकिस्तान मैच की। दोनों देश पहली बार इस टूर्नामेंट में भिड़े थे। यह मुकाबला भी बर्मिंघम के एजबैस्टन में खेला गया था। इसी स्टेडियम में 2013 और 4 जून 2017 को भारत-पाक मैच खेला गया था।

यह हुआ था मैच में: पाकिस्तान के कप्तान इंजमाम-उल-हक ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया था। भारतीय बल्लेबाजी में कई मजबूत बैट्समैन थे। पाकिस्तान ने उस वक्त मैच में दबाव बना लिया, जब 10वें ओवर में भारत का स्कोर 28/3 विकेट था। राहुल द्रविड़ 5वें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए और सब लोगों की निगाहें उन पर टिकी थीं। उन्होंने मोहम्मद कैफ (27) के साथ मिलकर छठें विकेट के लिए 45 रनों की साझेदारी की। कैफ और युवराज 20वें ओवर में पवेलियन लौट गए और भारत का स्कोर हो गया 73 रन पर 5 विकेट। इसके बाद द्रविड़ को साथ मिला अजीत अगरकर का, जो आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए थे। 7वें विकेट के लिए दोनों के बीच 82 रनों की साझेदारी हुई। इस पार्टनरशिप को तोड़ने के लिए पाकिस्तानी कप्तान ने शोएब अख्तर को बुलाया। लेकिन तभी एक अप्रिय घटना हुई। अख्तर ने द्रविड़ को एक स्लो गेंद डाली, जिसे उन्होंने पीछे हटकर बैकफुट की तरफ खेल दिया।

द्रविड़ दो रन लेने के लिए भागे। जब वह दूसरा रन लेने के लिए वापस दौड़े, तो अख्तर ने द्रविड़ का रास्ता रोकने की कोशिश की। दूसरा रन पूरा होने के बाद द्रविड़ ने अख्तर को घूरते हुए देखा। लेकिन अख्तर ने एेसा बर्ताव किया, जैसे उन्होंने कुछ किया ही न हो। द्रविड़ तुरंत गुस्से से रावलपिंडी एक्सप्रेस की तरफ गए और कहा कि उन्होंने दूसरा रन लेने के वक्त उनका रास्ता रोकने की कोशिश की। मामला बढ़ता देख पाकिस्तानी कप्तान आए और दोनों को अलग किया। यह बहुत ही दुर्लभ अवसर था, जब राहुल द्रविड़ को भी गुस्सा आ गया था। मैच में उनकी 67 रनों की पारी की बदौलत ही भारत 200 रनों तक पहुंच पाया था। यह उस समय एक चैलेंजिंग स्कोर माना जाता था।

इरफान पठान ने पाकिस्तानी टॉप अॉर्डर को तहस-नहस कर दिया। 11वें ओवर में पाकिस्तान का स्कोर 27 रन पर 3 विकेट था। इसके बाद चौथे विकेट के लिए इंजमाम और यूसुफ ने 75 रन जोड़े और पाकिस्तान को मैच में वापसी कराई। यूसुफ ने इस मैच में 81 रन बनाए थे। पाकिस्तान ने 4 गेंदें शेष रहते यह मैच 3 विकेट से जीता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App