ताज़ा खबर
 

VIDEO: इस मैच में तय थी भारत की हार, लेकिन फिर हुआ कुछ एेसा जिस पर किसी को नहीं हुआ यकीन

2004 में अॉस्ट्रेलियाई टीम बॉर्डर-गावस्कर सीरीज खेलने भारत आई थी।

विकेट लेने के बाद खुशी मनाते मुरली कार्तिक।

क्रिकेट में अॉस्ट्रेलिया को एक जमाने में हराना लगभग असंभव सा था। 2003 विश्व कप के फाइनल में उन्होंने भारत को हराकर दूसरी बार टूर्नामेंट जीतने का सपना चकनाचूर कर दिया था। इसके बाद साल 2004 में अॉस्ट्रेलियाई टीम बॉर्डर-गावस्कर सीरीज खेलने भारत आई थी। शानदार बॉलिंग और बैटिंग लाइनअप वाली इस टीम में मैथ्यू हेडन, डैरेन लीमन, माइकल क्लार्क, एडम गिलक्रिस्ट और शेन वॉर्न जैसे धुरंधर खिलाड़ी थे। यूं तो भारतीय टीम अपने घर में शेर मानी जाती है, लेकिन इस सीरीज में वह कागज की शेर नजर आ रही थी। 6-10 अक्टूबर के बीच पहला टेस्ट बेंगलुरु में खेला गया, जिसमें भारतीय टीम को 217 रनों से हार मिली थी। इसके बाद दूसरा मैच चेन्नई में हुआ, जो ड्रॉ रहा। तीसरा टेस्ट नागपुर में खेला गया, जिसमें भी अॉस्ट्रेलिया ने भारतीय टीम को 342 रनों से पटखनी दी। सीरीज गंवा चुकी भारतीय टीम के सामने इज्जत बचाने का आखिरी मौका मुंबई टेस्ट में ही बचा था।

3-5 नवंबर के बीच खेले गए इस मैच में भारत पहले बल्लेबाजी करने के लिए उतरा। लेकिन टीम उस वक्त निराशा में डूब गई, जब सिर्फ 8 गेंदें खेलकर 3 रनों के निजी स्कोर पर गौतम गंभीर को जेसन गेलेस्पी ने LBW आउट कर दिया। इसके कुछ ही देर बाद वीरेंद्र सहवाग मैकग्राथ की गेंद पर आउट हो गए। इसके बाद सचिन तेंडुलकर 5, वीवीएस लक्ष्मण 1, मोहम्मद कैफ 2, दिनेश कार्तिक 10, अनिल कुंबले 16, हरभजन 14, मुरली कार्तिक और जहीर खान 0 पर आउट हो गए। टीम का कुल स्कोर पहली पारी में था 104 रन।

इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी अॉस्ट्रेलियाई टीम की बल्लेबाजी भी खराब रही। पूरी टीम 203 रनों के स्कोर पर आउट हो गई। कंगारू टीम को भारत पर 99 रनों की बढ़त हासिल हो गई। दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की ओर से सचिन तेंडुलकर ने 55, वीवीएस लक्ष्मण ने 69, राहुल द्रविड़ ने 27 और मोहम्मद कैफ ने 25 रन बनाए और पूरी टीम 205 रनों पर ढेर हो गई। अॉस्ट्रेलियाई टीम को सीरीज 3-0 से जीतने का रास्ता साफ दिखाई दे रहा था। लेकिन तब कुछ एेसा हुआ, जिस पर किसी को यकीन नहीं हुआ।

दो गेंदें खेलने के बाद ओपनर जस्टिन लैंगर शून्य के स्कोर पर आउट हो गए। इसके बाद जब टीम का स्कोर 24 रन था तो रिकी पॉन्टिंग भी चलते बने। कुछ देर बार डेमियन मार्टिन भी पवेलियन लौट गए। अॉस्ट्रेलिया का स्कोर था 24/3। इसके बाद लगाकर अंतराल पर अॉस्ट्रेलिया के विकेट गिरते चले गए और पूरी टीम 93 रनों के स्कोर पर अॉल आउट हो गई और भारत 13 रनों से मैच जीत गया। किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि भारत इतना छोटा लक्ष्य होने के बावजूद मैच जीत जाएगा। मैच में हरभजन सिंह ने 5, मुरली कार्तिक ने 3 विकेट लिए। जबकि जहीर खान और अनिल कुंबले को एक-एक विकेट मिला।

 

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App