चोटिल फिलैंडर टैस्ट सीरीज से बाहर, ईशांत की वापसी तय

दक्षिण अफ्रीका को भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच से पहले झटका लगा क्योंकि उसके गेंदबाज वर्नोन फिलैंडर बायें पांव में गंभीर चोट के कारण श्रृंखला..

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज वर्नोन फिलैंडर। (पीटीआई फोटो)

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज वर्नोन फिलैंडर गुरुवार को प्रशिक्षण सत्र के दौरान टखने में चोट लगने के कारण भारत के खिलाफ चार टैस्ट मैचों की सीरीज के बाकी मैचों से बाहर हो गए। काइल एबोट को फिलैंडर की जगह टीम में शामिल किया गया है और वे शुक्रवार सुबह टीम से जुड़ेंगे। दक्षिण अफ्रीका के टीम मैनेजर डा. मोहम्मद मूसाजी ने बताया कि सुबह स्टेडियम में अभ्यास के दौरान वर्नोन का बाएं पैर का टखना मुड़ गया। उन्हें एमआरआइ स्कैन के लिए अस्पताल ले जाया गया जिसमें टखने में चोट की पुष्टि की जिससे वे भारत के खिलाफ मौजूदा सीरीज से बाहर हो गए हैं।

उन्होंने कहा कि वे इस सप्ताहांत केपटाउन लौटेंगे जहां दक्षिण अफ्रीका का एक विशेषज्ञ उनका आकलन करेगा। फिलहाल कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी लेकिन वे कम से कम छह से आठ हफ्ते के लिए बाहर हो गए हैं। मूसाजी ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ पहला टैस्ट छह हफ्ते दूर है इसलिए टैस्ट मैच के लिए फिट होने और रिहैबिलिटेशन के लिए उसके पास काफी समय नहीं है। केपटाउन में आकलन किए जाने के बाद और फिजियो के लिए उचित कार्यक्रम और रिहैबिलिटेशन के बाद ही सब कुछ स्पष्ट हो पाएगा।

एबोट ने दक्षिण अफ्रीका की ओर से पिछला टैस्ट दिसंबर 2014 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेला था। इस बीच जेपी डुमिनी और मोर्ने मोर्कल दोनों चोटों से उबर गए हैं और शनिवार से एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में शुरू हो रहे दूसरे टैस्ट में चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। डेल स्टेन ने ग्रोइन की चोट से अच्छी प्रगति की है और उनका अंतिम फिटनेस परीक्षण शुक्रवार को होगा जिसके बाद मैच के लिए उनकी उपलब्धता पर फैसला किया जाएगा।

दूसरी तरफ, एक टैस्ट के निलंबन के बाद वापसी कर रहे भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ ईशांत शर्मा दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त करने के लिए तैयार हैं और शनिवार से शुरू हो रहे दूसरे क्रिकेट टैस्ट के लिए उन्हें उमेश यादव की जगह अंतिम एकादश में शामिल किया जा सकता है। अंतिम एकादश में ईशांत की जगह को लेकर कोई संदेह नहीं है लेकिन सवाल यह है कि वे अंतिम एकादश में किसकी जगह लेंगे। चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारतीय टीम के ट्रेनिंग सत्र से पर्याप्त संकेत मिलते हैं कि पहले टैस्ट में अच्छी गति से गेंदबाजी करने वाली और दूसरी पारी में डीन एल्गर का विकेट लेने वाले आरोन नई गेंद से ईशांत का साथ निभाएंगे।

पिछले टैस्ट में खेलने वाले उमेश को सत्र के दौरान अधिकांश समय क्षेत्ररक्षण ड्रिल में हिस्सा लेते हुए देखा गया जबकि ईशांत और आरोन ने मुख्य नेट पर गेंदबाजी की। ईशांत ने काफी देर तक शीर्ष क्रम के लगभग सभी बल्लेबाजों को गेंदबाजी की जिसमें कप्तान विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा और मुरली विजय भी शामिल रहे। पिछले डेढ़ महीने से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर होने के बावजूद ईशांत अच्छी फार्म में हैं और उन्होंने विदर्भ के खिलाफ रणजी मैच में नौ विकेट चटकाए थे। वे हरियाणा के खिलाफ जिस मैच में चोटिल हुए उसमें भी उन्होंने दो विकेट हासिल किए। इस तेज गेंदबाज की पैर की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया था।

ईशांत अगर फिट होते तो संभावना थी कि उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अंतिम दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की टीम में मौका मिल सकता था। आरोन को भी मुख्य नेट्स पर गेंदबाजी करते हुए देखा गया जबकि यादव और केएल राहुल को कैच का अभ्यास करते हुए देखा गया। उमेश को बाद में गेंदबाजी करते हुए देखा गया लेकिन उन्होंने निचले क्रम के बल्लेबाजों को गेंदबाजी की जो इस बात का संकेत हैं कि उन्हें अंतिम एकादश में जगह बनाने में दिक्कत हो सकती है।

इस बीच, दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ स्टेन फिटनेस टैस्ट में हिस्सा लेंगे क्योंकि टीम प्रबंधन सुनिश्चित करना चाहता है कि वे पहले टैस्ट के दौरान लगी ग्रोइन की चोट से पूरी तरह उबर गए हैं। एबी डिविलियर्स से जब स्टेन की फिटनेस के बारे में पूछा गया तो वह काफी आशांवित नहीं दिखे। उन्होंने कहा कि उनका फिटनेस टैस्ट होगा। इसलिए मैं सी फीसद सुनिश्चित नहीं हूं। हमें उसकी वापसी की उम्मीद है लेकिन हम देखेंगे कि वे कैसा करते हैं।

अपडेट