ताज़ा खबर
 

UEFA EURO 2020: जर्मनी के डिफेंडर ने लाइव मैच में पॉल पोग्बा को दांत से काटा, फ्रांस के फुटबॉलर ने ऐसे दिया जवाब; Watch Video

जर्मन टीम में वापसी करने वाले मैट्स हूमल्स के आत्मघाती गोल की मदद से फ्रांस ने मेजबान को 1-0 से हरा दिया। अनुभवी डिफेंडर हूमल्स को इस टूर्नामेंट के लिए जर्मन कोच जोकिम लूव ने टीम में शामिल किया था लेकिन उनकी वापसी यादगार नहीं रही।

फ्रांस ने यूरो कप 2020 के अपने पहले मैच में जर्मनी को हरा दिया। (सोर्स – ट्विटर)

फुटबॉल के मैदान पर खिलाड़ियों के बीच तीखी बहस होती रहती है। कभी-कभी मामला इतना बढ़ जाता है कि वो सारी हदों को पार कर देते हैं। ऐसा ही कुछ यूरो 2020 टूर्नामेंट में मंगलवार को हुआ। ग्रुप-एफ के मैच में वर्ल्ड चैंपियन फ्रांस और 2014 की चैंपियन जर्मनी की टीमें आमने-सामने थीं। मैच के दौरान ही कुछ ऐसा हुआ कि फैंस हैरान रह गए। चेल्सी की ओर क्लब फुटबॉल खेलने वाले जर्मनी के एंटोनियो रुडिगर ने फ्रांस के स्टार खिलाड़ी पॉल पोग्बा को दांत से काट लिया।

रुडिगर ने 45वें मिनट में पोग्बा को पीठ पर काट लिया। मैनचेस्टर यूनाइटेड के मिडफील्डर पोग्बा ने रेफरी से शिकायत की, लेकिन जर्मन डिफेंडर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में मैन ऑफ द मैच पोग्बा ने मैदान पर रुडिगर की हरकतों का बचाव किया और बात खत्म करने की कोशिश की। पोग्बा ने कहा, ‘‘टोनी और हम दोस्त हैं। यह कुछ भी बड़ा नहीं था। मुझे लगता है कि आपने टीवी पर तस्वीरें देखीं। सब खत्म हो गया। वह अब अतीत हो गया। मैं ऐसे कार्यों के लिए पीले या लाल कार्ड के लिए शोर नहीं मचाने वाला।’’

पोग्बा ने कहा, ‘‘मुझे ऐसा लगा कि वह मुझे काट रहा है। मैंने इसे महसूस किया और रेफरी को कहा। उन्होंने जो निर्णय लिया, वह अंतिम है। हम एक दूसरे को लंबे समय से जानते हैं। बात अब खत्म हो चुकी है। मैं सिर्फ फुटबॉल खेलना चाहता हूं।’’ फुल टाइम सीटी बजने के बाद दोनों ने बातचीत भी की और मैदान पर सब कुछ छोड़कर एक-दूसरे को गले लगा लिया। 28 वर्षीय पोग्बा ने यह भी कहा कि वह नहीं चाहते कि उन्हें (रुडिगर) निलंबित किया जाए।

जर्मन टीम में वापसी करने वाले मैट्स हूमल्स के आत्मघाती गोल की मदद से फ्रांस ने मेजबान को 1-0 से हरा दिया। अनुभवी डिफेंडर हूमल्स को इस टूर्नामेंट के लिए जर्मन कोच जोकिम लूव ने टीम में शामिल किया था लेकिन उनकी वापसी यादगार नहीं रही। लुकस हर्नांडेज के क्रॉस को 20वें मिनट में फ्रांस के फॉरवर्ड किलियन एमबाप्पे तक पहुंचने से रोकने के प्रयास में उन्होंने गेंद गलती से अपने ही नेट में डाल दी।

लूव ने हालांकि कहा,‘‘मैं उसे दोष नहीं दे सकता। यह बदकिस्मती थी। गेंद बहुत तेज थी और उसे बाहर करना आसान नहीं था।’’ दोनों टीमों ने गोल करने के कई प्रयास किए और फ्रांस के दो गोल दूसरे हाफ में आफसाइड करार दिए गए। पहला एमबाप्पे ने और दूसरा करीम बेंजेमा ने किया था। बेंजेमा 2014 विश्व कप क्वार्टर फाइनल में जर्मनी से हारने के बाद फ्रांस के लिए पहला प्रतिस्पर्धी मैच खेल रहे थे।

Next Stories
1 PSL 2021 में गर्मागर्मी, अपने पूर्व कप्तान सरफराज अहमद से भिड़े शाहीन अफरीदी; Watch Video
2 लियोनल मेसी के बाद चला क्रिस्टियानो रोनाल्डो का जादू, तोड़ा 37 साल पुराना रिकॉर्ड; फ्रांस ने जर्मनी को रौंदा
3 क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपनी मेज से हटाई कोका कोला की बोतल, कंपनी को 30 हजार करोड़ का नुकसान
ये पढ़ा क्या?
X