18 साल के क्रिकेटर ने 42 गेंद में शतक ठोक टीम को जिताया, U-19 वर्ल्ड कप में भारत को हरा बांग्लादेश को बना चुका है चैंपियन

परवेज हुसैन इमोन इस साल 9 फरवरी को हुए आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ फाइनल मैच में भी बांग्लादेश की ओर से हाइएस्ट स्कोरर रहे थे और अपनी टीम को पहली बार वर्ल्ड चैंपियन (अंडर-19) बनाने में अहम योगदान निभाया था।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: December 9, 2020 10:34 PM
Parvez Hossain Emon Kamrul Islam Rabbiबंगबंधु टी20 कप 2020 में फॉर्च्यून बारीशल के परवेज हुसैन इमोन ने जहां 42 गेंद में शतक ठोक दिया, वहीं उनके साथी कमरुल इस्लाम रब्बी ने एक ओवर में हैट्रिक समेत 4 विकेट लेकर टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई।

बंगबंधु टी20 2020 का 15वां मुकाबला बहुत रोमांचकारी रहा। मिनिस्टर ग्रुप राजशाही (Minister Group Rajshahi) और फार्च्यून बारीशल (Fortune Barishal) के बीच हुए इस मैच में दोनों टीमों ने 200 से ज्यादा का स्कोर किया। दोनों ओर से चौके-छक्कों की बारिश हुई। कुल 28 छक्के और 31 चौके लगे। दोनों टीमों के एक-एक बल्लेबाज ने शतक बनाए।

दोनों ओर से एक-एक बल्लेबाज ने अर्धशतक लगाए। फार्च्यून बारीशल के कमरुल इस्लाम रब्बी ने एक ओवर में हैट्रिक समेत 4 विकेट भी लिए। हालांकि, जीत फॉर्च्यून बारीशल के हिस्से आई। उसने मिनिस्टर ग्रुप राजशाही को 8 विकेट से हराया। इस मैच में फॉर्च्यून बारीशल ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी। उसने 20 ओवर में 7 विकेट पर 220 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी फॉर्च्यून बारीशल ने 18.1 ओवर में 2 विकेट पर 221 रन बना मैच अपने नाम कर लिया। फॉर्च्यून बारीशल की ओर से कप्तान तमीम इकबाल ने 5 चौके और एक छक्के की मदद से 37 गेंद में 53 रन बनाए।

18 साल के परवेज हुसैन इमोन ने 9 चौके और 7 छक्के की मदद से 42 गेंद में 100 रन बनाए। परवेज हुसैन इमोन इस साल 9 फरवरी को हुए आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ फाइनल मैच में भी बांग्लादेश की ओर से हाइएस्ट स्कोरर रहे थे। उन्होंने ओपनिंग करते हुए 47 रन बनाए थे और अपनी टीम को पहली बार वर्ल्ड चैंपियन (अंडर-19) बनाने में अहम योगदान निभाया था।

इससे पहले मिनिस्टर ग्रुप राजशाही की ओर से कप्तान नजमुल हुसैन शांतो ने 4 चौके और 11 छक्के की मदद से 55 गेंद में 109 रन बनाए। उन्होंने 52 गेंद में अपना शतक पूरा किया। उनके अलावा अनीसुल इस्लाम इमोन ने 7 चौके और 3 छक्के की मदद से 39 गेंद में 69 रन की पारी खेली। दोनों ने पहले विकेट के लिए 131 रन की साझेदारी की।

हालांकि, इन दोनों बल्लेबाजों के आउट होने के बाद मिनिस्टर ग्रुप राजशाही का कोई भी बल्लेबाज ज्यादा देर तक क्रीज पर टिक नहीं पाया। सिर्फ दो बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा छू पाए। वहीं, फॉर्च्यून बारीशल के कमरुल हुसैन रब्बी ने अपने और पारी के आखिरी ओवर में 4 विकेट झटक लिए। उन्होंने 20वें ओवर की पहली, दूसरी और तीसरी गेंद पर विकेट लिए और फिर पांचवीं गेंद भी विरोधी टीम के बल्लेबाज को पवेलियन की राह दिखाई।

Next Stories
1 कपिल देव से गेंद छीन मदनलाल ने फेंका था ओवर, विव रिचर्ड्स का विकेट ले भारत को बनाया था वर्ल्ड चैंपियन; कपिल शर्मा के शो में किया था खुलासा
2 अभ्यास मैच में खुली इंडियन बैटिंग की पोल, 450 के अंदर गंवाए 18 विकेट; 11 बल्लेबाज नहीं छू पाए दहाई का आंकड़ा
3 भारत क्लीन स्वीप से चूका, ऑस्ट्रेलिया ने तीसरा टी20 मैच 12 रन से जीता
आज का राशिफल
X