ताज़ा खबर
 

World Cup Final: न्यूजीलैंड की वो दो गलती जिससे पहली बार इंग्लैंड बना विश्व विजेता

NZ vs ENG, World Cup 2019 Final: सुपरओवर का मुकाबला भी हुआ था टाई लेकिन ज्यादा बाउंड्री लगाने के लिहाज से चैंपियन बना इंग्लैंड।

इंग्लैंड ने जीता विश्वकप 2019 का खिताब (फोटो सोर्स-world cup twitter)

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मैच लार्ड्स के मैदान पर इंग्लैंड-न्यूजीलैंड के बीच खेला गया। सुपरओवर तक चले रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड ने बाजी मार ली और विश्वविजेता का खिताब अपने नाम कर लिया। जीत भले ही मेजबान इंग्लैंड की हुई हो लेकिन न्यूजीलैंड की टीम ने जिस तरह का प्रदर्शन किया उसने सभी का दिल जीत लिया। सांस रोक देने वाले इस मैच में कभी इंग्लैंड का पलड़ा भारी दिख रहा था तो कभी न्यूजीलैंड लेकिन आखिरी क्षण में न्यूजीलैंड के जीत की उम्मीद बढ़ती दिख रही थी, लेकिन अपनी इन तीन गलतियों के चलते न्यूजीलैंड एक बार फिर विश्वकप जीतने से चूक गया है।

बोल्ट ने छोड़ा कैचः न्यूजीलैंड ने 242 रनों के जवाब में उतरी इंग्लैंड के शीर्षक्रम के बल्लेबाजों को कोई खास धमाल नहीं करने दिया। हालांकि बटलर और स्टोक्स ने कमाल साझेदारी की और इंग्लैंड की इस मैच में वापसी कराई। आखिरी ओवरों में बटलर के आउट होने के बाद स्टोक्स पर दबाव बन रहा था और रन और गेंद का अंतर तेजी से बढ़ रहा था। इसी बीच मैच का 49वां ओवर लेकर नीशम आए जिसकी चौथी गेंद पर स्टोक्स ने लंबा शॉट लगया जो सीधा बोल्ट के हाथों में जाकर गिरा, लेकिन बोल्ट का पैर बाउंड्री लाइन को छू गया। जहां स्टोक्स का विकेट मिलना चाहिए था वहां इंग्लैंड को छक्का मिल गया।

आखिरी ओवर में थ्रो का रनः आखिरी ओवर में जीत के लिए इंग्लैंड को 15 रनों की जरूरत थी।पहली दो गेंदों पर बोल्ट ने स्टोक्स को कोई रन नहीं दिया। तीसरी गेंद छक्के के लिए गई। चौथी गेंद पर जो हुआ उसने न्यूजीलैंड की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। दरअसल स्टोक्स ने एक शॉट खेलकर 2 रन दौड़ने की कोशिश की और फिर गप्टिल ने एक थ्रो फेका जो स्टोक्स के बल्ले से लगकर 4 रन के लिए चला गया। इस तरह से जहां 2 रन होने चाहिए थे वहां इंग्लैंड को 4 और रन मिल गए और मैच सुपरओवर तक चला गया।

बता दें कि इस मैच में टॉस जीतकर न्यूजीलैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। वहीं, निकल्स के अर्धशतक के चलते इंग्लैंड को जीत के लिए 242 रनों का लक्ष्य दिया था। इसके जवाब में इंग्लैंड की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही लेकिन स्टोक्स और बटलर के बीच साझेदारी कमाल की हुई। सुपरओवर में जीत के लिए न्यूजीलैड को 16 रनों की जरूरत थी। ये सुपरओवर भी टाई हो गया, लेकिन पूरे मैच में ज्यादा बाउंड्री मारने के लिहाज से इंग्लैंड ने विश्व विजेता का खिताब अपने नाम कर लिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Wimbledon 2019 Men’s final: सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने जीता विम्बलडन का खिताब, 4 घंटे 57 मिनट तक चले फाइनल में रोजर फेडरर को हराया
2 ICC World Cup : इंग्लैंड को मिले 30 करोड़ रुपए, लेकिन यह राशि फुटबॉल की चैंपियंस लीग विजेता लिवरपूल से 117 करोड़ कम
3 NZ vs ENG: वर्ल्ड कप में केन विलियमसन के नाम दर्ज हुआ बड़ा रिकॉर्ड, पोंटिंग-जयवर्धने जैसे दिग्गजों को पछाड़ा
IPL 2020
X