ताज़ा खबर
 

बल्लेबाज बनना चाहते थे तुषार देशपांडे, लंबी लाइन ने बना दिया तेज गेंदबाज

तुषार देशपांडे ने आईपीएल में अपने डेब्यू मैच में 37 रन देकर दो विकेट लिए। उन्होंने बताया, ‘तब किसी ने यह नहीं कहा था कि मैं एक औसत लड़के की तुलना में अधिक तेजी से गेंदबाजी करता हूं।’

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: October 16, 2020 12:32 AM
Tushar Deshpande IPL 2020तुषार ने एक बार बताया था कि वह साल 2008 के आईपीएल के दौरान एक मैच में बॉल बॉय बने थे।

मुंबई के तेज गेंदबाज तुषार देशपांडे अपने करियर के शुरू में बल्लेबाज बनने के इरादे से शिवाजी पार्क जिमखाना गए थे, लेकिन बल्लेबाजी के लिए लंबी कतार देखकर वह गेंदबाजों की कतार में खड़े हो गए। हालांकि, उन्हें अपने उस फैसले पर कोई मलाल नहीं है। 25 साल के इस गेंदबाज ने बुधवार रात विषम पलों में शानदार गेंदबाजी करके दिल्ली कैपिटल्स को 13 रन से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

तुषार देशपांडे ने एक मराठी चैट शो में कहा, ‘यह 2007 की बात है जब मैं तीन चार लड़कों के साथ कल्याण से शिवाजी पार्क जिमखाना में चयन के लिये गया था। बल्लेबाजों की लंबी कतार थी। उसमें 40-45 खिलाड़ी थे और 20-25 बल्लेबाज पैड पहनकर तैयार थे। गेंदबाजों की कतार में केवल 15-20 खिलाड़ी थे। दोपहर बाद तीन बजकर 30 मिनट का समय था और चयन 6 से 6 बजकर 30 मिनट तक ही होना था।’ देशपांडे ने कहा, ‘मुझे लगा कि बल्लेबाजी के लिए लंबी कतार है। मुझे मौका नहीं मिलेगा, लेकिन मैं खाली हाथ नहीं लौटना चाहता था, इसलिए मैं गेंदबाजों की कतार में खड़ा हो गया।’

इस तेज गेंदबाज ने आईपीएल के अपने पदार्पण मैच में 37 रन देकर दो विकेट लिए। देशपांडे ने अपने चयन ट्रायल की बात करते हुए कहा, ‘उस समय तक किसी ने यह नहीं कहा था कि मैं एक औसत लड़के की तुलना में अधिक तेजी से गेंद करता हूं। गेंदबाजों की कतार तेजी से आगे बढ़ रही थी और जब मेरी बारी आई तो मुझे सौभाग्य से नई गेंद मिल गई।’

उन्होंने कहा, ‘मैंने अपना रन अप तय किया और गेंद डाली। यह बहुत अच्छी आउटस्विंग थी और टप्पा खाने के बाद बड़ी तेजी से आगे गई। पैडी सर (पदमाकर शिवालकर) ने कहा, ‘बहुत अच्छी गेंद की, फिर से ऐसी गेंद करो।’ देशपांडे ने कहा, ‘मुझे यह भी पता नहीं था कि वह कौन है लेकिन मैंने फिर से गेंद की। मैंने छह-सात गेंदें की और मुझे चुन लिया गया।’

देशपांडे बचपन से ही दिल्ली कैपिटल्स के अपने कप्तान श्रेयस अय्यर के साथ शिवाजी पार्क जिमखाना में अभ्यास करते रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘दूसरे ओर तीसरे दिन भी यही प्रक्रिया अपनाई गई। पैडी सर और संदेश कावले सर ने मेरा मनोबल बढ़ाया और मैंने जिमखाना से खेलने का फैसला किया और इस तरह से तेज गेंदबाज बन गया।’

तुषार ने एक बार स्पोर्ट्स स्टार मैगजीन से बातचीत में बताया था कि वह साल 2008 के आईपीएल के दौरान एक मैच में बॉल बॉय बने थे। यह मैच वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया था। उस समय देशपांडे की उम्र महज 13 साल थी। आईपीएल 2020 की नीलामी में देशपांडे को दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने 20 लाख रुपये में खरीदा था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अजिंक्य रहाणे बने ‘बाजीगर,’ कैच टपकाने के बावजूद सोशल मीडिया पर हो रही तारीफ; देखें Video
2 ट्विटर पर वायरल हुई चेन्नई सुपरकिंग्स के बॉलिंग कोच लक्ष्मीपति बालाजी के एक्सीडेंट की खबर, जानिए क्या है सच
3 दिल्ली कैपिटल्स के एनरिक नोर्त्जे ने रचा इतिहास, तोड़ा हमवतन डेल स्टेन का 8 साल पुराना रिकॉर्ड
ये पढ़ा क्या?
X