Tokyo Olympics 2020: रवि दहिया ने जीता रजत पदक, विनेश फोगाट और दीपक पूनिया को मिली निराशा

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक में 5 अगस्त के दिन भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने जर्मनी को 5-4 से हरा कर इतिहास रच दिया। कुश्ती में बड़े उलटफेर देखने को मिले।

tokyo olympics, tokyo olympics 2021, tokyo olympics 2020, tokyo olympics 2021 live, tokyo olympics india 2021, tokyo olympics 2020 india, tokyo olympics 2020 schedule, olympics, olympics 2021, olympics 2020, olympics 2021 schedule, olympics opening ceremony, india at olympics, india at olympics 2020, india at olympics 2021, india at olympics 2021 schedule, india at olympics 2020 schedule, india at olympics fixtures, india at olympics matches schedule, india at olympics teams
tokyo olympic Live: टोक्यो ओलंपिक 2020 का आज 14वां दिन है।

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक 2020 का आज 14वां दिन है। आज भारत ने दो पदक जीते। वहीं, कुश्ती में बड़े उलटफेर देखने को मिले। दिन का पहला पदक भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ब्रॉन्ज मेडल के रूप में जीता। पहलवान रवि दहिया ने दिन का दूसरा पदक दिलाया। हालांकि, दीपक पूनिया पुरुष 86 किलोग्राम में कांस्य पदक के लिए हुए मुकाबले में हार गए। यही नहीं, वर्ल्ड नंबर 1 विनेश फोगाट भी क्वार्टर फाइनल में हार गईं।

रेसलर रवि दहिया ने  57 किलोग्राम भार वर्ग में सिल्वर मेडल जीता। फाइनल में उन्हें दो बार के वर्ल्ड चैंपियन ROC के पहलवान जावुर युगुऐव ने 7-4 से हराया। टोक्यो ओलंपिक में भारत का यह दूसरा सिल्वर मेडल है। इस पदक के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत के पदकों की संख्या 5 हो गई है।

दीपक पूनिया सेन मारिनो के मेयल्स नजीम से 2-4 से हार गए। टोक्यो ओलंपिक में भारत को कुश्ती में अब तक सिर्फ एक सिल्वर मेडल ही मिला है। इससे पहले भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने जर्मनी को 5-4 से हरा कर इतिहास रचा।

कर्मचारियों को मर्सिडीज और कार गिफ्ट करने वाले हीरा कारोबारी ने महिला हॉकी टीम से किया यह वादा, लोगों ने कहा- शर्त मत लगाइए

महिलाओं के 53 किग्रा भार वर्ग में क्वार्टर फाइनल में बेलारूस की वेनेसा कालादजिन्सकाया ने विनेश फोगाट को 3-9 से हरा दिया। विनेश  को ब्रॉन्ज मेडल जीतने का मौका मिल सकता था, यदि वानेसा फाइनल में पहुंच जातीं, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। वेनेसा को सेमीफाइनल में चीनी पहलवान पैंग ने हरा दिया।

 

Live Blog

18:56 (IST)05 Aug 2021
हॉकी में भारत ने रचा इतिहास

भारतीय पुरुष टीम ने कांस्य पदक प्ले ऑफ में जर्मनी को 5-4 से हराकर ओलंपिक में 41 साल बाद पहला पदक जीता। इस रोमांचक जीत के कई सूत्रधार रहे जिनमें दो गोल करने वाले सिमरनजीत सिंह (17वें मिनट और 34वें मिनट) हार्दिक सिंह (27वां मिनट), हरमनप्रीत सिंह (29वां मिनट) और रुपिंदर पाल सिंह (31वां मिनट) तो थे ही लेकिन आखिरी पलों में पेनल्टी बचाने वाले गोलकीपर श्रीजेश भी इनमें शामिल हैं ।

18:35 (IST)05 Aug 2021
कुश्ती में देखने को मिला उलटफेर

रवि दहिया ऐतिहासिक स्वर्ण पदक से चूक गये और उन्हें पुरुषों के 57 किग्रा भार वर्ग में रूसी ओलंपिक समिति के जावुर युवुगेव से हारकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा। दीपक पूनिया कांस्य पदक जीतने के करीब पहुंचने के बाद 86 किग्रा के प्ले-ऑफ में सैन मरिनो के माइलेस नज्म अमीन से हार गए। विनेश फोगाट को महिलाओं के 53 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में बेलारूस की वेनेसा कालादजिन्सकाया ने चित्त करके प्रतियोगिता से बाहर कर दिया। उन्होंने इससे पहले शुरुआती दौर में रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता और विश्व चैंपियनशिप की छह बार की पदक विजेता स्वीडन की सोफिया मेगडालेना मैटसन को 7-1 से हराया था। अंशु मलिक 57 किग्रा वर्ग में रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता रूस की वालेरा कोबलोवा के खिलाफ रेपेशॉज मुकाबले में 1-5 की हार के साथ पदक की दौड़ से बाहर हो गई।

18:29 (IST)05 Aug 2021
गोल्फर अदिति अशोक ने जगाए रखी है अभी उम्मीद

गोल्फर अदिति अशोक ने दूसरे दौर में पांच अंडर 66 के कार्ड के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर है। तेइस साल की गोल्फर ने दूसरे दौर में पांच बर्डी की और उनका कुल स्कोर नौ अंडर 133 है। दीक्षा डागर ने दूसरे दौर में एक ओवर 72 का कार्ड खेला। वह कुल छह ओवर 148 के स्कोर के साथ संयुक्त 53वें स्थान पर चल रही हैं।

18:26 (IST)05 Aug 2021
एथलेटिक्स में भी मिली निराशा

भारत के संदीप कुमार अच्छी शुरुआत के बाद पिछड़ने के कारण 20 किमी पैदल चाल स्पर्धा में 23वें स्थान पर रहे, जबकि अनुभवी केटी इरफान और राहुल ने भी निराश करते हुए क्रमश: 47वां और 51वां हासिल किया।

16:50 (IST)05 Aug 2021
रियो की सिल्वर मेडलिस्ट से हारीं अंशु मलिक

युवा पहलवान अंशु मलिक 57 किग्रा वर्ग में रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता रूस की वालेरा कोबलोवा के खिलाफ रेपेचेज मुकाबले में 1-5 से हार गईं. इसके साथ ही वह पदक की दौड़ से बाहर हो गईं। हालांकि, अंशु अपनी मजबूत प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ लगातार हमले करती रही। एक समय वह बढ़त पर थीं, लेकिन रूस की पहलवान ने दो अंक के साथ बढ़त बनाई और फिर जीत दर्ज करने में सफल रहीं।

16:48 (IST)05 Aug 2021
अंशु मलिक के हाथ लगी निराशा

19 साल की अंशु अपने पहले दौर में यूरोपीय चैंपियन इरिना कुराचिकिना से हार गई थी और बेलारूस की खिलाड़ी के फाइनल में जगह बनाने के बाद उन्हें रेपेचेज में हिस्सा लेने का मौका मिला। लेकिन वह इस मौके को भुना नहीं पाईं। 

16:34 (IST)05 Aug 2021
पहले राउंड में रवि पिछड़े

कुश्ती के 57 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक के लिए भारत के रवि दहिया और दो बार के वर्ल्ड चैंपियन रूस के जावुर युगुऐव के बीच मुकाबला हो रहा है। पहले राउंड में के बाद रवि 2-4 से पीछे हैं।

16:07 (IST)05 Aug 2021
टोक्यो ओलंपिक में रेसलर विनेश फोगाट का सफर खत्म

चाइना की पेंग ने बेलारूस की वेनेसा को शिकस्त देकर फाइनल में स्थान पक्का कर लिया है। इसी के साथ टोक्यो ओलंपिक से विनेश फोगाट की चुनौती समाप्त हो गई है। दिन की शुरुआत में क्वार्टरफाइनल में वेनेसा ने फोगाट को 9-3 से हराकर उन्हें सेमीफाइनल की रेस से बाहर किया था। वहीं अब वेनेसा की हार के बाद विनेश की रेपचेज की उम्मीदें भी समाप्त हो चुकी हैं।

15:29 (IST)05 Aug 2021
संदीप 20 किमी पैदल चाल में 23वें स्थान पर

भारत के संदीप कुमार अच्छी शुरुआत के बाद पिछड़ने के कारण तोक्यो ओलंपिक की 20 किमी पैदल चाल स्पर्धा में 23वें स्थान पर रहे जबकि अनुभवी केटी इरफान और राहुल ने भी निराश करते हुए क्रमश: 47वां और 51वां हासिल किया। संदीप अच्छी शुरुआत करते हुए शुरुआती आठ किमी के बाद दूसरे स्थान पर चल रहे थे लेकिन इसके बाद वह लगातार पिछड़ते चले गए। संदीप 10 किमी के बाद 12वें, 14 किमी के बाद 19वें और 16 किमी के बाद 23वें स्थान पर खिसक गए।

15:06 (IST)05 Aug 2021
शॉटपुट खिलाड़ी तूर ने कहा कि चोटिल कलाई के साथ ओलंपिक में उतरा था

एशियाई रिकॉर्डधारी गोलाफेंक खिलाड़ी तेजिंदर पाल सिंह तूर ने गुरूवार को कहा कि वह कलाई में चोट के साथ खेल रहे थे और अब उन्हें इसके लिये सर्जरी की जरूरत होगी । तूर 19 . 99 मीटर का एक ही थ्रो पहले प्रयास में फेंक सके और 24 खिलाड़ियों में 13वें स्थान पर रहे । उन्होंने कहा ,‘‘ मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहता था । सिर्फ प्रतियोगी के तौर पर नहीं गया था लेकिन मैं कर नहीं पाया ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ मेरी कलाई की चोट फिर उभर आई जो ओलंपिक क्वालीफिकेशन के दौरान लगी थी । मैं इस पर ध्यान नहीं देने की कोशिश कर रहा था लेकिन ऐसा हो नहीं सका ।’’ तूर ने कहा ,‘‘ मुझे डॉक्टर तीन साल से आपरेशन की सलाह दे रहे हैं ।अब मुझे कराना ही होगा । उम्मीद है कि मजबूती से वापसी करूंगा ।’’

12:37 (IST)05 Aug 2021
धनराज पिल्ले ने श्रीजेश की जमकर तारीफ की

धनराज ने कहा ,‘‘ मैं हमेशा से कहता आया हूं कि श्रीजेश बहुत बड़ा मैच विनर है ।हरमनप्रीत सिंह और रूपिंदर पाल सिंह भी मैच जिताते आये हैं । इस टीम का हार नहीं मानने का जज्बा, जुझारूपन कमाल का है ।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय हॉकी के लिये यह जीत बहुत मायने रखती है क्योंकि 41 साल इसके लिये इंतजार करना पड़ा । उन्होंने कहा ,‘‘ यह चमत्कार रातोरात नहीं हुआ और इसके पीछे लंबी प्रक्रिया रही है । कई लोगों का योगदान रहा है । चाहे वह पूर्व कोच जोस ब्रासा, हरेंद्र सिंह, रिक चार्ल्सवर्थ , रोलेंट ओल्टमेंस या टैरी वॉल्श हो या सहयोगी स्टाफ हो । पूर्व खिलाड़ियों और वर्तमान में ओडिशा सरकार के भी योगदान को अनदेखा नहीं किया जा सकता । ’’

10:53 (IST)05 Aug 2021
विनेश क्वार्टर फाइनल में हारी, अंशु भी हार के साथ पदक की दौड़ से बाहर

पदक की प्रबल दावेदार विनेश फोगाट को गुरुवार को यहां महिला 53 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में बेलारूस की वेनेसा कालादजिन्सकाया ने चित्त करके उलटफेर करते हुए स्वर्ण पदक की दौड़ से बाहर कर दिया और अब भारतीय पहलवान पर प्रतियोगिता से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है। विनेश के पास वेनेसा के मजबूत रक्षण का कोई जवाब नहीं था। वेनेसा ने इसके साथ ही इस साल युक्रेन में भारतीय खिलाड़ी के खिलाफ इसी तरह की शर्मनाक हार का बदला चुकता कर दिया। विनेश ने तब वेनेसा को गिराकर ‘बाय फॉल’ से जीत दर्ज की थी। यूरोपीय चैंपियन वेनेसा ने अपनी रणनीति को काफी अच्छी तरह लागू किया और विनेश उनके रक्षण को भेदकर अंक जुटाने में नाकाम रही।

09:11 (IST)05 Aug 2021
भारत को आखिरी पदक 1980 में मॉस्को में मिला था

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने इतिहास रच दिया है। उन्होंने 41 साल के सूखे को खत्म करते हुए भारत को हॉकी में ब्रॉन्ज मेडल दिलाया है। ओलंपिक में भारत की हॉकी टीम को आखिरी पदक 1980 में मॉस्को में मिला था, जब वासुदेवन भास्करन की कप्तानी में टीम ने गोल्ड जीता था। टीम इंडिया ने ब्रॉन्ज मेडल मैच में जर्मनी को 5-4 से हरा दिया।

08:58 (IST)05 Aug 2021
भारत ने 41 साल बाद ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए जर्मनी को 5-4 से हरा दिया। इस जीत के साथ भारत ने 41 साल बाद ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।