टोक्यो ओलंपिक दूसरा दिन: महिलाओं ने जगाई उम्मीद; असहनीय बनी पुरुष हॉकी में शर्मनाक हार, निशानेबाजी में सूखा जारी

निशानेबाजी में रियो ओलंपिक से चली आ रही निराशा टोक्यो में लगातार दूसरे दिन भी जारी रही। महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में मनु भाकर और यशस्विनी सिंह देसवाल तथा पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल में दीपक कुमार और दिव्यांश सिंह पंवार फाइनल्स के लिये क्वालीफाई नहीं कर पाए।

Mary Kom Manika Batra PV Sindhu Tokyo Olympics
मैरीकॉम, पीवी सिंधु और मनिका बत्रा का टोक्यो ओलंपिक में अभी अभियान बरकरार है।

पीवी सिंधु, मनिका बत्रा और एमसी मैरीकॉम ने अपने-अपने मुकाबले जीतकर टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने की भारतीय उम्मीदों को जिंदा रखी, जबकि निशानेबाजों ने लगातार दूसरे खराब प्रदर्शन से निराश किया। अंत में पुरुष हॉकी टीम की ऑस्ट्रेलिया के हाथों 1-7 की शर्मनाक हार असहनीय बन गई।

भारोत्तोलक मीराबाई चानू के प्रतिस्पर्धा के पहले दिन रजत पदक जीतने के बाद सिंधु और मैरीकॉम ने अपनी ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन किया और अगले दौर में जगह बनाई। मनिका को संघर्ष करना पड़ा, लेकिन वह भी टेबल टेनिस के तीसरे दौर में पहुंचने में सफल रहीं। चानू के पदक की बदौलत भारत पदक तालिका में अभी संयुक्त 21वें स्थान पर है।

निशानेबाज दूसरे दिन भी पदक से वंचित रहे लेकिन भारत को सबसे अधिक निराशा पुरुष हॉकी टीम से मिली जिसे आस्ट्रेलिया ने पूरे 60 मिनट तक अपने इशारों पर नचाया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से डेनियल बील (10वें), जेरेमी हेवार्ड (21वें), फ्लिन ओगलीवी (23वें), जोशुआ बेल्ट्ज (26वें), ब्लैक गोवर्स (40वें और 42वें) और टिम ब्रांड (51वें मिनट) ने गोल किये। भारत के लिए दिलप्रीत सिंह ने 34वें मिनट में एकमात्र गोल किया। ग्राहम रीड के कोच बनने के बाद यह भारत की सबसे बुरी हार है।

निशानेबाजी में रियो ओलंपिक से चली आ रही निराशा टोक्यो में लगातार दूसरे दिन भी जारी रही। महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में मनु भाकर और यशस्विनी सिंह देसवाल तथा पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल में दीपक कुमार और दिव्यांश सिंह पंवार फाइनल्स के लिये क्वालीफाई नहीं कर पाए।

दुनिया की दूसरे नंबर की निशानेबाज 19 वर्ष की मनु ने शुरुआत अच्छी की। लग रहा था कि वह शीर्ष आठ में जगह बना लेंगी, लेकिन उनकी पिस्टल में तकनीकी खराबी आने का उनके प्रदर्शन पर असर पड़ा। आखिर में वह 12वें स्थान पर रहीं। मनु का स्कोर 575 रहा, जबकि कट ऑफ 577 पर गया। ओलंपिक में पहली बार भाग ले रही एक अन्य निशानेबाज यशस्विनी सिंह देसवाल ने खराब शुरुआत से उबरकर 574 का स्कोर बनाया और वह 13वें स्थान पर रहीं।

पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में दीपक कुमार और दिव्यांश सिंह पंवार क्रमश: 26वें और 32वें स्थान पर रहकर क्वालीफिकेशन से ही बाहर हो गए। दीपक ने आखिर में छह सीरिज में 624.7 अंक और दिव्यांश ने 622.8 अंक बनाए। स्कीट में अंगद वीर बाजवा तीन दौर के बाद 73 अंक लेकर 11वें स्थान पर चल रहे हैं। वह फाइनल्स में जगह बनाने की दौड़ में हैं। एक अन्य स्कीट निशानेबाज मैराज खान 71 का स्कोर बनाकर 25वें स्थान पर हैं।

बैडमिंटन में भारत की पदक उम्मीद विश्व चैंपियन सिंधु ने महिला एकल में इजरायल की सेनिया पोलिकारपोवा पर सीधे गेम्स में आसान जीत दर्ज की। रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता छठी वरीयता प्राप्त सिंधु ने 58वीं रैंकिंग वाली इजरायली प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ 21-7, 21-10 से 28 मिनट में यह मुकाबला अपने नाम किया। दुनिया की सातवें नंबर की खिलाड़ी सिंधू का सामना अब हांगकांग की चियुंग एंगान यि से होगा जो विश्व रैंकिंग में 34वें स्थान पर हैं ।

मुक्केबाजी और टेबल टेनिस में भारत के लिए रविवार का दिन मिश्रित सफलता वाला रहा। मुक्केबाजी में छह बार की विश्व चैम्पियन मैरीकॉम (51 किग्रा) ने शुरूआती दौर में डोमेनिका गणराज्य की मिगुएलिना हर्नांडिज गार्सिया को हराकर ओलंपिक खेलों के प्री क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। लंदन ओलंपिक 2012 की कांस्य पदक विजेता मैरीकॉम ने पैन अमेरिकी खेलों की कांस्य पदक विजेता को 4-1 से शिकस्त दी, लेकिन पुरुष वर्ग में मनीष कौशिक को ब्रिटेन के ल्यूक मैकोरमैक से इसी अंतर से हार का सामना करना पड़ा।

टेबल टेनिस में विश्व रैंकिंग में 62वें नंबर की मनिका ने यूक्रेन की 20वीं वीं वरीयता प्राप्त मारग्रेट पेसोत्सका को 57 मिनट तक चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में शुरू में पिछड़ने के बाद 4-3 से (4-11, 4-11, 11-7, 12-10, 8-11, 11-5, 11-7) से हराया। तीसरे दौर में उनका मुकाबला सोमवार को आस्ट्रिया की सोफिया पोलकानोवा से होगा। इससे पहले जी साथियान ने पुरुष एकल वर्ग के दूसरे दौर में हांगकांग के लाम सियू हांग के खिलाफ एक समय 3-1 से बढ़त बना रखी थी लेकिन आखिर में वह इस मैच को 3-4 (7-11, 11-7, 11-4, 11-5, 9-11, 10-12, 6-11) से हार गये।

टेनिस में सानिया मिर्जा और अंकिता रैना की जोड़ी महिला युगल में यूक्रेन की नादिया और लियुडमाइला किचेनोक बहनों से 6-0, 7-6, 10-8 से हारकर बाहर हो गई। जिम्नास्टिक में भारत की अकेली जिम्नास्ट प्रणति नायक कलात्मक जिम्नास्टिक स्पर्धा के आल राउंड फाइनल्स में जगह बनाने में असफल रही। नौकायन में अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह ने टोक्यो ओलंपिक में पुरूषों की नौकायन लाइटवेट डबलस्कल्स स्पर्धा के रेपेशाज दौर में तीसरे स्थान पर रहकर सेमीफाइनल में जगह बना ली।

सेलिंग (पाल नौकायन) में नेत्रा कुमानन दो रेस के बाद 27वें स्थान पर चल रही हैं जबकि विष्णु सरवनन अपनी पहली रेस के बाद 14वें स्थान पर हैं। तैराकी में माना पटेल महिलाओं की 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धा में अपनी हीट में दूसरे स्थान पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहीं। पुरुषों की 50 मीटर बैकस्ट्रोक में श्रीहरि नटराज अपनी हीट में पांचवें स्थान पर रहे। इस तरह वह भी सेमीफाइनल में जगह बनाने में असफल रहे।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।